Home /News /delhi-ncr /

UPSC Success Story: मां ने दिया टार्गेट, पापा कहते थे- हो जाएगा, पढ़ें IAS अफसर डॉ. अपाला मिश्रा की कहानी

UPSC Success Story: मां ने दिया टार्गेट, पापा कहते थे- हो जाएगा, पढ़ें IAS अफसर डॉ. अपाला मिश्रा की कहानी

डॉ. अपाला मिश्रा ने यूपीएससी इंटरव्‍यू में रिकॉर्ड 215 नंबर हासिल किए हैं.

डॉ. अपाला मिश्रा ने यूपीएससी इंटरव्‍यू में रिकॉर्ड 215 नंबर हासिल किए हैं.

UPSC 2020 Topper : राजधानी दिल्‍ली से सटे उत्‍तर प्रदेश के गाजियाबाद में रहने वाली डॉ. अपाला मिश्रा (Dr. Apala Mishra) ने यूपीएससी परीक्षा में 9वीं रैंक हासिल कर आईएएस (IAS) बनने का अपना सपना पूरा किया है. वह हजारी प्रसाद द्विवेदी (Hajari Prasad Dwivedi) की नातिन हैं. वहीं, उन्‍होंने न्‍यूज़ 18 के साथ बातचीत में अपनी तैयारी और इंटरव्‍यू को लेकर कई बड़ी बातें कही हैं.

अधिक पढ़ें ...

    विवेक आनंद 

    गाजियाबाद. देश की राजधानी दिल्‍ली से सटेउत्‍तर प्रदेश के गाजियाबाद की रहने वाली डॉ.अपाला मिश्रा (Dr. Apala Mishra) ने यूपीएससी परीक्षा (UPSC 2020 Result) में 9वीं रैंक हासिल कर अपना आईएएस बनने का सपना पूरा किया है. वह आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी (Hajari Prasad Dwivedi) की भतीजी और दिल्ली विश्वविद्यालय की हिंदी फैकल्टी की प्रोफेसर अल्पना मिश्रा की बेटी हैं. वहीं, उनके पिता आर्मी में कर्नल रहे हैं, तो भाई भी बतौर मेजर देश सेवा कर रहा है. जबकि डॉ. अपाला मिश्रा ने न्‍यूज़ 18 के साथ खास बातचीत में अपनी तैयारी और इंटरव्‍यू को लेकर बड़ी बातें कही हैं. बता दें कि अपाला ने इस बार अपने 40 मिनट तक चले यूपीएससी इंटरव्‍यू में रिकॉर्ड 215 नंबर हासिल किए हैं.

    सवाल- आपकी कहानी में आर्मी भी है. पहले डेंटल सर्जन बनना और फिर यूपीएससी में जाना, इसकी शुरुआत कैसे हुई?
    जवाब- मैं जब कॉलेज में फाइनल ईयर में थी. इस दौरान एक हेल्थ सेक्टर को बहुत ही करीब से देख रही थी. मैंने सोचा कि प्रशासनिक क्षेत्र एक ऐसा क्षेत्र है जहां पर आप समाज के ज्यादा लोगों को सेवाएं दे सकते हैं, तब मैंने फैसला लिया कि यूपीएससी वाली दिशा चुननी चाहिए.

    सवाल- यूपीएससी इंटरव्यू में किस बात पर फोकस रहता है.
    जवाब- इस बार का इंटरव्यू कोविड प्रोटोकॉल के तहत हुआ. यूपीएससी बोर्ड के लोग बहुत माहिर होते हैं, ज्ञानी होते हैं. वह आपसे बातचीत करके जानना चाहते हैं कि आप कितने मैच्योर हैं.

    सवाल- अपाला के संघर्ष की कहानी डेंटिस्ट से यूपीएससी तक की क्या है?
    जवाब- यह मेरा तीसरा प्रयास था. मुझे तीन साल लग गए. मैं असफल भी रही. हालांकि असफलता से सेल्फ डाउट आता है उससे उबरना बहुत जरूरी है. सीख कर आगे बढ़ने की आदत डेवलप होते ही सफलता मिल जाती है.

    सवाल- असफलता से घबराने से आपके साथ क्या हुआ?
    जवाब- हम एक मेडिकल बैकग्राउंड से आते हैं, जहां यूपीएससी गाइडेंस के लिए कोई था ही नहीं. धीरे-धीरे इस परीक्षा को समझा. शुरुआत के दो साल भटकाव के थे और तीसरी बार जीत मिल गयी.

    सवाल- कामयाबी के लिए मोबाइल से दूरी कितनी जरूरी है.
    जवाब- जितनी देर पढ़ाई करें उतनी देर मोबाइल नहीं, क्‍योंकि भटकाव से बचना है.

    सवाल- तैयारी, पढ़ाई और कोचिंग का सफर कैसा रहा?
    जवाब- मैंने भी कोचिंग ली, लेकिन मेंटली तैयार होना जरूरी है. शुरुआत में कोचिंग ली और फिर सेल्फ स्टडी पर फोकस किया. दोनों में बैलेंस होना चाहिए.

    सवाल- आप कितने घंटे पढ़ाई करती थीं?
    जवाब- मैं 7 से 8 घंटे पढ़ाई करती थी, लेकिन सबसे अहम बात आपका फोकस है.

    सवाल- सेवा का विस्तार हो रहा है. यूपीएससी रिजल्ट के दिन क्या नींद आयी थी?
    जवाब- सच कहूं तो मेरी नींद गायब हो गयी थी. जबकि बतौर आईएएस प्राथमिकताओं में हेल्थ पर फोकस करना जरूरी है. खासकर महिलाओं के स्वास्थ्य पर विशेष ध्‍यान देने की जरूरत है.

    UPSC 2020 Topper, Apala Mishra Exclusive Interview, Hajari Prasad Dwivedi, Apala Mishra, IAS exam, UPSC 2020, Dr. Apala Mishra got 9th rank in UPSC 2020, Ghaziabad News, UP Hindi News, Ghaziabad ki IAS officer, Who is Dr. Apala Mishra, Dr. Apala Mishra IAS, डॉ. अपाला मिश्रा

    हजारी प्रसाद द्विवेदी की नातिन डॉ. अपाला मिश्रा को यूपीएससी में 9वीं रैंक मिली है.

    सवाल- आपकी कहां काम करने की इच्छा है?
    जवाब- जहां भी मौका मिलेगा वहीं बेहतर करना चाहूंगी.

    सवाल- यूपीएससी रिजल्ट को लेकर पिता का क्या रिएक्शन था?
    जवाब- मैं टेंशन में थी. बार बार पूछने पर उनसे जवाब मिलता था हो जाएगा. हालांकि मेरी मां ने एक स्टीकर चस्पा किया था जिसमें 50 रैंक के भीतर आने की बात लिखी थी. वैसे शुरू से ही यह मेरे लिए टार्गेट था.

    सवाल- अधिकारी बनने के बाद लाइफ स्टाइल में बदलाव को कैसे देखती हैं. क्‍या अपाला में कोई बदलाव आने की संभावना है?
    जवाब- विनम्रता बनाए रखना बहुत जरूरी है, क्योंकि तभी आप लोगों की परेशानियों को समझने समझ सकते हैं. पब्लिक के साथ विश्वास रखने के लिए आदर्शों के साथ चलना जरूरी है. मैं अपने आदर्शों पर चलूंगी.

    Ghaziabad: हजारी प्रसाद द्विवेदी की नातिन बनीं IAS, डॉ. अपाला मिश्रा को मिली 9वीं रैंक

    सवाल- अपाला मिश्रा को क्या पसंद है?
    जवाब- मैं खाने में कुछ भी खा लेती हूं. अगर पसंद की बात है तो मुझे नॉवेल्स पसंद हैं. जबकि Tuesdays With Morrie नॉवेल जीवन के बारे में जानकारी देता है. इसके अलावा पेंटिंग पसंद है.

    सवाल- कोई संदेश नए लोगों के लिए जिनका सपना आपसे मिलता है?
    जवाब- खुद पर भरोसा रखना रखें. लगन और मेहनत से सफल हो सकते हैं. आत्मविश्वास से ही सफलता मिलेगी.

    सवाल- नए बच्चे आपसे बात करना चाहें तो…
    जवाब- मैं सोच रही हूं इस बारे में. मुझे लगता है कि गाइडेंस एक बड़ा फैक्टर है. मैं खुद उस राह पर खड़ी थी. अगर कोई गाइड कर दे तो आपकी मेहनत आसान हो जाएगी. मैं जल्द ही इस पर कुछ करूंगी.

    Tags: Ghaziabad News, IAS exam, IAS Toppers, UPSC, Upsc exam, Upsc exam 2021, Upsc exam result, UPSC results, Upsc topper

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर