गाजियाबाद में वैक्‍सीन के लिए नहीं मिल रहा है स्‍लॉट, तो परेशान मत हो, ऐसे लगवा सकते हैं वैक्‍सीन

2 से 5 मिनट में स्‍लॉट फुल हो रहे हैं

गाजियाबाद में अगर आपको सरकारी केन्‍द्रों पर वैक्‍सीन लगवाने के लिए स्‍लॉट नहीं मिल रहा है तो प्राइवेट सेंटरों पर जाकर आसानी से वैक्‍सीन लगवा सकते हैं. यहां पर स्‍लॉट उपलब्‍ध है.

  • Share this:
    गाजियाबाद. अगर आप गाजियाबाद (Ghaziabad) में रहते हैं और सरकारी केन्‍द्रों पर लगातार प्रयास आपको कोरोना  वैक्‍सीन (Corona Vaccine) के लिए स्‍लॉट नहीं मिल रहा है तो परेशान होने की जरूरत नहीं हैं, आप आसानी से वैक्‍सीन लगवा सकते हैं. ज्‍यादातर निजी सेंटरों (private centers) पर स्‍लॉट उपलब्‍ध हैं, जहां पर आप सीधा जाकर यानी वॉकइन वैक्‍सीन लगवा सकते हैं. इसके लिए आपको का 780 रुपए शुल्‍क देना होगा. घर के आसपास किसी भी सेंटर पर जाकर वैक्‍सीन लगवा सकते हैं.

    जिले में ज्‍यादा लोग सरकारी वैक्‍सीनेशन सेंटर पर वैक्‍सीन लगवाना पसंद कर रहे हैं. यही वजह है कि स्‍लॉट खुलते ही 2 से 5 मिनट में स्‍लॉट फुल हो रहा  है और लोगों को वैक्‍सीन के लिए स्‍लॉट नहीं मिल पा रहा है. सरकारी केद्रों में 8000 से 10000 लोगों को औसतन रोजाना वैक्‍सीन लगाई जाती है. इसके अलावा वर्कप्‍लेस पर भी वैक्‍सीन लगाई  जा रही हैं.

    वहीं, प्रावइेट सेंटरों पर यह संख्‍या काफी कम रहती है.  सरकारी केन्‍द्रों के लिए लोग एक-एक माह से इंजतार कर रहे हैं. ऐसी स्थितियों में कुछ लोग दिल्‍ली में स्‍लॉट बुक कराकर वहां लगवाने जा रहे हैं. अगर आप इस परेशानी से बचना चाह रहे हैं तो प्राइवेट सेंटरों पर जाकर वैक्‍सीन लगवा सकते हैं. यहां पर कम संख्‍या में लोग वैक्‍सीन लगवा रहे हैं. इस  वजह से आसानी  से वैक्‍सीन लग  रही है. इस संबंध में मैक्‍स के प्रवक्‍ता ने बताया कि वैक्‍सीनेशन सेंटर में कम संख्‍या में लोग वैक्‍सीन के लिए पहुंच रहे हैं. अस्‍पताल से बाहर बनाया गया सेंटर बंद भी करना पड़  सकता है.





    कुल वैक्‍सीनेशन का लक्ष्य- 25 लाख

    कुल वैक्‍सीनेशन हुआ 8,08,464

    अब तक शहरी क्षेत्र में हुआ वैक्‍सीनेशन - 5,89,231

    अब तक ग्रामीण क्षेत्र में हुआ वैक्‍सीनेशन -1,80,756

    स्वास्थ्यकर्मियों का वैक्‍सीनेशन 21,345

    फ्रंटलाइन वर्कर्स का वैक्‍सीनेशन 17,132

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.