दिल्ली में युवाओं के लिए वैक्सीन खत्म, सीएम केजरीवाल ने विदेशी टीके लगाने की मांगी इजाजत

सीएम अरविंद केजरीवाल. फाइल फोटो

सीएम अरविंद केजरीवाल. फाइल फोटो

दिल्ली में युवाओं के लिए वैक्सीनेशन सेंटर शनिवार से बंद किए जा रहे हैं. सीएम अरविदं केजरीवाल ने कहा कि हमें दु:ख है कि युवाओं के लिए ये सेंटर बंद करने पड़ रहे हैं.

  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली में युवाओं के लिए वैक्सीनेशन सेंटर शनिवार से बंद किए जा रहे हैं. सीएम अरविदं केजरीवाल ने कहा कि हमें दु:ख है कि युवाओं के लिए ये सेंटर बंद करने पड़ रहे हैं. केंद्र से हमने और वैक्सीन की मांग की है. मई में दिल्ली को 16 लाख वैक्सीन दी गई है, जबकि जून में दिल्ली का कोटा और घटाकर दिया 8 लाख कर दिया गया है. 8 लाख प्रति माह वैक्सीन दिया गया तो पूरी दिल्ली को वैक्सीन देने में 30 महीने लग जायेंगे. तब तक ना जाने कितने कोरोना के लहर आ जायेंगे. कितनी जाने चली जायेंगी. दिल्ली में अब तक करीब 50 लाख डोज वैक्सीन लगाया गया है.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि वैक्सीन की कमी की वजह से देश में बहुत मुश्किल हालात पैदा हो गए हैं. कोरोना से लोगों की जान बचाने के लिए वैक्सीन ही एक मात्र उपाय है. देश में वैक्सीन की उपलब्धता बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार को चार सुझाव दिए गए हैं. भारतीय बायोटेक कंपनी अपनी फॉर्मूला बताने के लिए तैयार हो गई है. केंद्र सरकार उन सभी कंपनियों को 24 घंटों के अंदर आदेश दे कि वे युद्ध स्तर पर भारत में वैक्सीन का उत्पादन करें.

विदेशी वैक्सीन के इस्तेमाल की इजाजत दें

केजरीवाल ने कहा कि सभी विदेशी वैक्सीन को भारत में वैक्सीन इस्तेमाल करने की इजाजत 24 घंटों में केंद्र सरकार दे. भारत सरकार को इन विदेशी कंपनियों और वहां की सरकार से बात करे. अभी राज्यों पर छोड़ दिया गया है. क्या ये अच्छा लगता है कि दूसरे देशों से राज्य अलग अगल बात करें. भारत सरकार इन कंपनियों से सीधे बात कर वैक्सीन ले और फिर वैक्सीन को राज्यों को उपलब्ध कराये. कुछ देश ऐसे हैं, जिन्होंने जरूरत से ज्यादा (जितनी आबादी है उससे ज्यादा) वैक्सीन स्टोर कर के बैठे हैं. भारत सरकार उनसे बात कर वैक्सीन की मांग कर सकती है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज