• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • Corona Vaccine Crises: दिल्ली सरकार के वैक्सीनेशन सेंटरों पर वैक्सीन का टोटा, बंद होने के कगार पर पहुंचे

Corona Vaccine Crises: दिल्ली सरकार के वैक्सीनेशन सेंटरों पर वैक्सीन का टोटा, बंद होने के कगार पर पहुंचे

दिल्ली सरकार के वैक्सीनेशन सेंटर्स पर हर रोज करीब 2.26 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन डोज देने की क्षमता है. (File Photo)

दिल्ली सरकार के वैक्सीनेशन सेंटर्स पर हर रोज करीब 2.26 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन डोज देने की क्षमता है. (File Photo)

Corona Vaccine Crisis: दिल्ली सरकार को एक बार फिर अपने सेंटर्स को डोज के अभाव में अस्थाई तौर पर बंद करना पड़ सकता है. सरकार की ओर से सोमवार को जारी वैक्सीन बुलेटिन की मानें तो अब सिर्फ सरकार के पास 1 दिन की ही डोज बची है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. दिल्ली में कोरोना वैक्सीनेशन अभियान जोर शोर से चल रहा है. दिल्ली सरकार (Delhi Government) के वैक्सीनेशन सेंटर्स पर हर रोज करीब 2.26 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन डोज देने की क्षमता है. लेकिन अगले 30 दिनों तक केंद्र सरकार से वैक्सीन डोज कम मात्रा में मिलने की संभावना जताई जा रही है.

    इसके चलते दिल्ली को अपने वैक्सीनेशन अभियान की रफ्तार को कम करना होगा. अगर ऐसा नहीं किया तो दिल्ली सरकार को एक बार फिर अपने सेंटर्स को डोज के अभाव में अस्थाई तौर पर बंद करना पड़ सकता है. दिल्ली सरकार की ओर से सोमवार को जारी वैक्सीन बुलेटिन की मानें तो अब सिर्फ सरकार के पास 1 दिन की ही डोज बची है.

    इस बीच देखा जाए तो दिल्ली में जिस तरह से वैक्सीनेशन ड्राइव चल रहा है और वैक्सीन डोज की कमी एक बार फिर पैदा होने लगी है तो ड्राइव को धीमी रफ्तार में चलाना जरूरी हो गया है. स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भी इस बात को कह रहे हैं कि अगर वैक्सीनेशन का काम कम नहीं किया गया तो दिल्ली में 2 सप्ताह बाद वैक्सीनेशन सेंटरों को अस्थाई तौर पर बंद करना पड़ सकता है.

    जुलाई में सिर्फ दिल्ली को 15 लाख डोज मिलने का अनुमान
    स्वास्थ विभाग के अधिकारी बताते हैं कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के नए दिशा निर्देशों के मुताबिक 31 जुलाई तक दिल्ली को सिर्फ 15 लाख डोज ही मिलने की जानकारी दी गई है. यह सभी डोज एक साथ नहीं बल्कि अलग-अलग लॉट में दी जाएंगी.

    इसके अलावा प्राइवेट अस्पतालों को भी अलग से 5 लाख कोरोना वैक्सीन डोज मिलेंगी. वहीं, कोविन (Co-WIN) वेबसाइट की माने तो राजधानी दिल्ली में अभी हर रोज औसतन डेढ़ से दो लाख डोज दी जा रही हैं.

    माह के आखिरी 2 सप्ताह में वैक्सीन नहीं होने की संभावना
    स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की माने तो स्वास्थ्य मंत्रालय से जो वैक्सीन दिल्ली को दी जाएंगी वह 10 से 15 दिन के भीतर ही खत्म हो जाएंगी क्योंकि दिल्ली में हर रोज डेढ़ से 2 लाख लोगों को वैक्सीन डोज दी जा रही हैं. अगर इस तरह से वैक्सीनेशन ड्राइव चलेगा तो जुलाई माह के आखिरी 2 सप्ताह के दौरान वैक्सीनेशन नहीं होगी.

    स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का मानना है कि इस संकट से बचने के लिए फिलहाल वैक्सीनेशन ड्राइव को धीमी रफ्तार पर चलाना जरूरी है. इस तरह से ही मौजूदा वैक्सीनेशन सेंटरों को अस्थाई तौर पर बंद होने से बचाया जा सकेगा.

    यह भी पढ़ें : COVID 19: पीड़ित सिख परिवारों को DSGMC का आर्थिक राहत पैकेज का ऐलान

    दिल्ली में 16 जनवरी से शुरू हुआ था वैक्सीनेशन ड्राइव
    बताते चलें कि दिल्ली में इस साल 16 जनवरी से वैक्सीनेशन ड्राइव शुरू किया गया था. ड्राइव शुरू करने के बाद से ही दिल्ली के वैक्सीनेशन सेंटरो पर पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध नहीं हो पाई है. इसकी वजह से दो बार वैक्सीन का जबरदस्त संकट भी गहरा गया था. इसके चलते सभी वैक्सीन सेंटरों को दो बार अस्थाई तौर पर बंद भी करना पड़ गया था. वहीं, अब इस तरह की स्थिति एक बार फिर पैदा होती नजर आ रही है.

    दिल्ली सरकार की ओर से जारी वैक्सीनेशन बुलेटिन के मुताबिक 5 जुलाई तक दिल्ली में 83,82,845 डोज दी जा चुकी हैं. इनमें वैक्सीन की पहली डोज लने वालों की संख्या 64,72,151 है तो 19,10,694 लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी है.

    दिल्लीभर में बनाए गए हैं 1,374 वैक्सीनेशन सेंटर
    दिल्ली सरकार की ओर से दिल्ली भर में 763 लोकेशन पर 1,374 वैक्सीनेशन सेंटर बनाए गए हैं. इन सभी सेंटरों पर सप्ताह के 6 दिन यानी सोमवार से शनिवार तक वैक्सीनेशन किया जाता है.

    रविवार को सभी सरकारी वैक्सीनेशन सेंटर (Government Vaccine Centre) बंद होते हैं. इन सभी सेंटरों पर प्रतिदिन वैक्सीनेशन की क्षमता 2,26,552 निर्धारित की गई है. लेकिन रविवार को छुट्टी होने की वजह से सिर्फ 9,509 को ही डोज दी जा सकी है.

    दिल्ली सरकार (Delhi Government) की ओर से जारी दिल्ली कोविड-19 वैक्सीनेशन बुलेटिन की मानें तो 5 जुलाई तक 81,73,310 वैक्सीन डोज दिल्ली को प्राप्त हुई है. इनमें कोवाक्सिन की डोज 22,76,340 और कोविशील्ड की 58,96,970 डोज है. 5 जुलाई तक बची हुई डोज की मात्रा 3.43 लाख है जिसमें कोवाक्सिन की 2.61 लाख और कोविशील्ड की 82 हजार डोज बची हुई है. दिल्ली में वैक्सीन का यह स्टॉक सिर्फ एक दिन का बताया गया है, क्योंकि अब दिल्ली में वैक्सीनेशन बहुत तेजी से हो रहा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज