आराम से चलाएं दूसरे राज्य-शहर की गाड़ियां, इसलिए नहीं कटेगा चालान

प्रतीकात्मक फोटो- दूसरे राज्य और शहर से वाहन खरीदने पर अब एनओसी की जरूरत नहीं होगी.

प्रतीकात्मक फोटो- दूसरे राज्य और शहर से वाहन खरीदने पर अब एनओसी की जरूरत नहीं होगी.

बिना एनओसी के आपकी बाइक या कार का चालान (Challan) भी नहीं कटेगा. ऐसा नहीं है कि यह छूट सिर्फ बाइक या कार को ही होगी. कमर्शियल वाहन भी एनओसी के बिना चला सकते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 11, 2019, 5:45 PM IST
  • Share this:
अगर आपके पास किसी दूसरे राज्य या दूसरे शहर की बाइक या कार (Car-Bike) है तो आप उसे आराम से चलाइए. संशोधित मोटर व्हीकल एक्ट (Motor Vehicle Act) का भी डर नहीं रहेगा. ट्रैफिक (Traffic Police) पुलिस भी आपको परेशान नहीं करेगी. अब आपको एनओसी के लिए परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है. इतना ही नहीं बिना एनओसी के आपकी बाइक या कार का चालान (Challan) भी नहीं कटेगा. ऐसा नहीं है कि यह छूट सिर्फ बाइक या कार को ही होगी. कमर्शियल वाहन भी एनओसी के झंझट में पड़े बिना दूसरे शहर या राज्य के खरीदे गए वाहन को चला सकते हैं.



अब वाहन चालकों की सिरदर्दी नहीं बनेगी एनओसी

रीजनल ट्रांसपोर्ट अफसर रिटायर्ड वीके सिंह बताते हैं, “पहले होता यह था कि अगर आपने किसी दूसरे राज्या या शहर से कोई वाहन खरीदा है तो उसे अपने शहर और राज्य में ट्रांसफर कराने के लिए एनओसी की जरूरत होती थी. यह एनओसी उस शहर का रीजनल ट्रांसपोर्ट आफिस जारी करता था जहां से आपने वाहन खरीदा है. सही बात तो यह है कि एक लम्बी प्रक्रिया के चलते एनओसी के लिए आफिस के कई चक्कर लगाने होते थे.”



अब ऐसे मिलेगी एनओसी से राहत
आज की तारीख में देश के ज्यादातर रीजनल ट्रांसपोर्ट आफिस आनलाइन हो गए हैं. इसी के चलते परिवहन विभाग की पहल पर एनओसी की जरूरत को खत्म किए जाने की कवायद चल रही है. जानकारों की मानें तो अब होगा यह कि जैसे ही आप वाहन खरीदकर अपने शहर और राज्य में आएंगे तो वहां के आफिस में उसका रजिस्ट्रेशन कराने जाएंगे. तब उस आफिस की यह जिम्मेदारी होगी कि वह आनलाइन ही सारी जानकारी जैसे, वाहन से पुराने शहर में कोई एक्सीडेंट तो नहीं हुआ है. वाहन चोरी का तो नहीं है. इसके अलावा वाहन की पूरी जानकारी जैसे इंजन और चेसिस नम्बर आदि नोट कर ले.





ये भी पढ़ें:- 



बैकफुट पर ट्रैफिक पुलिस, अब 15 दिन तक नहीं कटेंगे वाहनों के चालान!



चालान की रकम देखकर वाहन छोड़ा तो ऐसे में देनी पड़ सकती है दोगुनी पेनल्टी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज