Assembly Banner 2021

दिल्ली के सभी 124 टोल पर फर्राटा भरेंगे वाहन, जल्द ही इन पर लगेगा RFID Tag

वाहन चालकों को 124 टोल एंट्री प्वाइंट पर आरएफआईडी सिस्टम की सुविधा मिल सकेगी.

वाहन चालकों को 124 टोल एंट्री प्वाइंट पर आरएफआईडी सिस्टम की सुविधा मिल सकेगी.

साउथ दिल्ली नगर निगम (SDMC) ने फर्स्ट फेज में सिर्फ 13 प्रमुख साइट पर ही आरएफआईडी (RFID) सिस्टम लगाया था. लेकिन अब बाकी 111 टोल एंट्री पॉइंट्स पर भी इस RFID Tag System को लगाने की तैयारी की जा रही है. जल्दी ही वाहन चालकों को इन बाकी टोल एंट्री प्वाइंट पर भी आरएफआईडी सिस्टम की सुविधा मिल सकेगी और वाहन इन टोल पर भी फर्राटा भर सकेंगे.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली नगर निगम (MCD) के सभी 124 टोल एंट्री प्वाइंट्स पर अब आरएफआईडी (Radio Frequency Identification) स्थापित कर दिया जाएगा.

साउथ दिल्ली नगर निगम (SDMC) ने फर्स्ट फेज में सिर्फ 13 प्रमुख साइट पर ही आरएफआईडी (RFID) सिस्टम लगाया था. लेकिन अब बाकी 111 टोल एंट्री पॉइंट्स पर भी इस RFID Tag System को लगाने की तैयारी की जा रही है. जल्दी ही वाहन चालकों को इन बाकी टोल एंट्री प्वाइंट पर भी आरएफआईडी सिस्टम की सुविधा मिल सकेगी और वाहन इन टोल पर भी फर्राटा भर सकेंगे.

उन्होंने बताया कि आर.एफ.आई.डी. प्रणाली यह सुनिश्चित करती है कि सभी वाणिज्यिक वाहन, 'कर' और 'ईसीसी' का भुगतान आर.एफ.आई.डी. टैग से करें और भुगतान नकदी रहित हो.



उन्होंने कहा कि इस पहल से वायु प्रदूषण में कमी आयेगी. दिल्ली में वाणिज्यिक वाहनों के प्रवेश में लगने वाले समय में कमी आयेगी और कंप्यूटर के एक क्लिक से निगम के टोल टैक्स और ईसीसी का संकलन हो पायेगा. इसके अलावा टाेल तथा ईसीसी वर्गीकरण करने के लिए वाहनों की श्रेणी से मिलान सुनिश्चित करने हेतू टाेल प्लाजा पर लगाए गए सेंसर बेहद उपयोगी साबित होंगे.
महापौर ने यह जानकारी भी दी कि आर.एफ.आई.डी टैग के लिए चालक ऑनलाइन पंजीकरण करा सकते है. वाहन मालिक एवं चालक अपने वाहन का आर.एफ.आई.डी. टैग के लिए पूर्व-पंजीकरण करा सकते हैं या वे वेबसाइट http://ecctagsdmc.com के द्वारा ऑनलाइन पूर्व-पंजीकरण करा सकते हैं.

पूर्व-पंजीकरण प्रपत्र भरते समय वेबसाइट पर सभी जरूरी दस्तावेजों जिसमें वाहन के पंजीकरण प्रमाणपत्र की प्रति, वैध बीमा की प्रति, वाहन मालिक/ड्राइवर के ड्राइविंग लाइसेंस की प्रति आदि शामिल है, को अपलोड करके उचित सत्यापन के बाद अपने नजदीकी/सुविधाजनक प्वाइंट से आर.एफ.आई.डी. टैग लेने का विकल्प चुन सकते है. इसके अलावा निगम के ऐप एम.सी.डी टोल पर भी पंजीकरण किया जा सकता है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज