अपना शहर चुनें

States

विजय गोयल का आरोप, हौज काजी हिंसा के पीछे केजरीवाल सरकार के इस मंत्री का हाथ

विजय गोयल का दावा चांदनी चौक विवाद में दिल्ली सरकार का मंत्री इमरान हुसैन का हाथ
विजय गोयल का दावा चांदनी चौक विवाद में दिल्ली सरकार का मंत्री इमरान हुसैन का हाथ

राजस्थान से राज्यसभा सांसद और चांदनी चौक से दो बार के सांसद रहे विजय गोयल ने हौज काजी हिंसा के पीछे दिल्ली सरकार के मंत्री इमरान हुसैन का हाथ होने का आरोप लगाया है

  • Share this:
राजस्थान से राज्यसभा सांसद और चांदनी चौक से दो बार के सांसद रहे विजय गोयल ने हौज काजी हिंसा के पीछे दिल्ली सरकार के मंत्री इमरान हुसैन का हाथ होने का आरोप लगाया है. गोयल ने ANI को दिए बयान में कहा है कि स्थानीय लोगों ने उन्हें बताया है कि इमरान हुसैन ने रात को आकर इस झगड़े को तूल देने का काम किया था. ANI से बात करते हुए गोयल ने कहा, 'पार्किंग को लेकर दो लोगों में का झगड़ा हुआ था, जिसके बाद रात को ही इमरान हुसैन ने हौजी कला में भीड़ इकट्ठा की. इसके बाद ही यहां पर हमला हुआ. इस घटना पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और आम आदमी पार्टी  के किसी भी एक नेता ने कुछ नहीं बोला है. वोटबैंक के खातिर सभी ने चुप्पी साध रखी है.'

दिल्ली सरकार के मंत्री की भूमिका की जांच हो
दिल्ली बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष विजय गोयल ने मांग की है, 'इस घटना पर दिल्ली सरकार के मंत्री इमरान हुसैन की भूमिका की जांच होनी चाहिए. गोयल इस मामले में दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से बात की है. मां दुर्गा के मंदिर में तोड़फोड़ की घटना बर्दास्त नहीं की जाएगी. इससे ज्यादा दुख इस बात की है कि दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल इस घटना पर अब तक चुप्पी साध रखी है. केजरीवाल को डर है कि इस घटना के बाद उनका वोटबैंक खिसक सकता है इसलिए इस घटना पर चुप्पी साध रखी है. मेरी लोगों से अपील है कि वह शांति और सदभाव बनाए रखें.'

हम नहीं चाहते कोई बवाल
इस मसले पर इमरान हुसैन ने कहा कि रविवार की रात को ही बवाल के बाद हमारे हिंदू और मुसलमान भाई एक साथ थाने में वार्ता करने पहुंचे. इस दौरान एक दूसरे को गले लगाया गया और मामला वहीं खत्म कर दिया गया. मैं भी वहीं मौजूद था. उन्होंने कहा कि न हिंदू और न ही मुसलमान, किसी भी तरह का दंगा हमारे इलाके में चाहते हैं.



बता दें कि बुधवार को दिल्ली के हौज काजी विवाद में उस समय नया मोड़ आ गया जब दिल्ली सरकार के मंत्री इमरान हुसैन को एक वीडियो में थाने के बाहर देखा गया. हालांकि, दिल्ली पुलिस का कहना है कि ये वीडियो घटना से कुछ ही घंटे पहले का लग रहा है. इस वीडियो की पुलिस जांच कर रही है. सिर्फ वीडियो देख कर इमरान हुसैन पर किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं बनती. इमरान हुसैन जहां खड़े थे वहां पर सीसीटीवी भी लगी हुई है और हमलोग उस सीसीटीवी की जांच कर रहे हैं. इसके बाद ही  कुछ कहने की स्थिति में होंगे.

दिल्ली के चांदनी चौक इलाके में रविवार को हुए बवाल के बाद जहां एक ओर गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को बुधवार को तलब कर फटकार लगाई. वहीं दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी के विधायक और दिल्ली के मंत्री इमरान हुसैन ने संकेत दिए कि यह मामला उसी दिन सुलझ गया था. चांदनी चौक के हौज काजी इलाके में एक स्कूटर पार्किंग को लेकर उपजे इस विवाद ने सांप्रदायिक रूप ले लिया था.

ये भी पढ़ें:

आज से FIR के लिए आपको नहीं जाना पड़ेगा थाने, नोएडा पुलिस खुद आएगी आपके पास

गरीबों को लेकर मोदी सरकार ने चला बड़ा दांव, जानें क्या हैं योजनाएं

अगर आप जंक फूड, चाउमीन, नूडल्स और मोमोज खाते हैं तो हो जाइए सावधान
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज