होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /दिल्ली में शुरू हुआ वर्चुअल स्कूल, सीएम अरविंद केजरीवाल बोले- यह बड़ी शिक्षा क्रांति

दिल्ली में शुरू हुआ वर्चुअल स्कूल, सीएम अरविंद केजरीवाल बोले- यह बड़ी शिक्षा क्रांति

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में आज से देश का पहला वर्चुअल स्कूल शुरू हो रहा है. (फोटो- Twitter/Arvind Kejriwal)

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में आज से देश का पहला वर्चुअल स्कूल शुरू हो रहा है. (फोटो- Twitter/Arvind Kejriwal)

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसे देश का पहला वर्चुअल स्कूल करार देते हुए कहा कि आज शिक्षा के क्षेत्र में बह ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

दिल्ली मॉडल वर्चअल स्कूल में देशभर से 13 से 18 साल तक के बच्चे 9वीं से 12वीं के लिए आवेदन कर सकते हैं.
छात्रों को बस WWW.DMVS.AC.IN पर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा, जहां लाइव के साथ रिकॉर्डेड क्लास भी चेलगी.
यह दिल्ली बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन से मान्यता प्राप्त होगा, जहां प्रतियोगी परीक्षाओं की भी तैयारी करवाई जाएगी.

नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल राष्ट्रीय राजधानी में आज वर्चुअल स्कूल का आगाज़ किया. सीएम केजरीवाल ने इसे देश का पहला वर्चुअल स्कूल करार देते हुए कहा कि आज शिक्षा के क्षेत्र में बहुत बड़ी क्रांति की शुरुआत हो रही है.

सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली मॉडल वर्चअल स्कूल में पढ़ाई के लिए पूरे देश से कोई भी अप्लाई कर सकता है. इसके लिए बस उन्हें WWW.DMVS.AC.IN पर जाकर रिजस्ट्रेशन कराना होगा. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ‘जो छात्र-छात्राएं इस वर्चुअल स्कूल में लाइव नहीं जुड़ सकते, उनके लिए रिकॉर्डेड क्लास भी डाल दी जाएंगी, ताकि जब बच्चे फ्री हो तो इसे देख लें.’

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने बुधवार को ऑनलाइन प्रेस कॉन्फ्रेंस करके कहा, ‘ऐसे बहुत बच्चे हैं स्कूल नहीं जा पाते. ऐसी बहुत सारी बच्चियां हैं, जिनके पेरेंट्स स्कूल नहीं भेजना चाहते. ऐसे आखिरी से आखिरी बच्चे तक शिक्षा पंहुचाने के मकसद से नया वर्चुअल स्कूल शुरू कर रहे हैं. इस स्कूल का नाम दिल्ली मॉडल वर्चुअल स्कूल होगा. पूरे देश से किसी भी कोने से बच्चा इसमें आवेदन कर सकता है. 13 से 18 साल तक का कोई भी बच्चा इसमें 9वीं से 12 वीं क्लास तक के लिए आवेदन कर सकता है.

उन्होंने कहा, ‘कोरोना के समय वर्चुअल क्लास होती थी, उसी से प्रेरणा लेकर वर्चुअल स्कूल शुरू किया गया है. वैसे तो बच्चों को फिजिकली स्कूल में जाना ही चाहिए, लेकिन जो स्कूल नहीं जा सकते उन तक शिक्षा पहुंचने चाहिए इसलिए यह बचपन स्कूल बनाया गया है. इसमें सभी क्लास ऑनलाइन होंगी, चाहे तो लाइव अटेंड कर ले या फिर रिकॉर्डिंग देख सकते.’

सीएम केजरीवाल ने बताया कि दिल्ली बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन से यह स्कूल मान्यता प्राप्त होगा. इस स्कूल में पढ़ाई के अलावा कंपीटेटिव एग्जाम की भी तैयारी करवाई जाएगी. इस पर एक स्कूलिंग प्लेटफार्म होगा, जिसमें बहुत सारी सुविधाएं मिलेंगी.’

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में यह एक क्रांतिकारी कदम साबित होगा. मैं उम्मीद करता हूं आने वाले समय में हमारे देश के हर बच्चे को अच्छी से अच्छी शिक्षा मिलेगी.

Tags: Arvind kejriwal, Delhi news, Delhi School, Government School

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें