DU स्टूडेंट के लिये कैंपस में बने 'वॉक इन वैक्सीनेशन' सेंटर, AAP छात्र विंग ने सीएम को लिखा पत्र

दिल्ली विश्वविद्यालय के दिल्ली सरकार द्वारा फंडेड कॉलेजों में छात्रों को मुफ्त वैक्सीन लगाई जाए.

दिल्ली विश्वविद्यालय के दिल्ली सरकार द्वारा फंडेड कॉलेजों में छात्रों को मुफ्त वैक्सीन लगाई जाए.

दिल्ली विश्वविद्यालय के दिल्ली सरकार द्वारा फंडेड 28 कॉलेजों में छात्रों को मुफ्त वैक्सीन लगाई जाए. इसके लिए कोविन एप की बाध्यता भी खत्म की जाए ताकि ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले गरीब छात्र भी अपनी कॉलेज आईडी कार्ड दिखाकर मुफ्त वैक्सीन लगवा सके.

  • Share this:

नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के शिक्षक संगठन दिल्ली टीचर्स एसोसिएशन (DTA) और छात्र संगठन सीवाईएसएस (CYSS) ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को पत्र लिखकर कॉलेजों में वैक्सीनेशन सेंटर खोलने की मांग की है.

यह सेंटर दिल्ली सरकार (Delhi Government) द्वारा वित्त पोषित 28 कॉलेजों में आगामी शैक्षिक सत्र 2021-2022 के प्रारंभ होने से पहले खोले ने जाएं. साथ ही यह भी मांग की है कि दिल्ली सरकार के इन कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्रों को मुफ्त में वैक्सीन लगाई जाए ताकि कोविड-19 (COVID-19) की तीसरी लहर आने से पहले छात्रों को सुरक्षित रखा जाए.

दिल्ली टीचर्स एसोसिएशन और सीवाईएसएस का कहना है कि कोरोना वायरस महामारी ने देश एवं दुनिया में तबाही मचाई हुई है. इसकी वजह से भारत में तीन लाख से अधिक मौत हो चुकी है. कोरोना वायरस महामारी को रोकने का एकमात्र विकल्प वैक्सीन है, जितनी जल्दी हम अपने छात्रों को वैक्सीन लगाएंगे उतनी ही जल्दी हम कोरोना को काबू में कर पाएंगे.

डीटीए के प्रभारी डॉ. हंसराज सुमन का कहना है कि जिस तरह से दिल्ली सरकार दिल्ली वासियों को वैक्सीन उपलब्ध करा रही है. ठीक उसी तरह से उन्हें दिल्ली सरकार द्वारा वित्त पोषित अपने 28 कॉलेजों के छात्रों की तरफ भी ध्यान देना होगा. एक तरफ कोरोना वायरस की वजह से स्कूल कॉलेज बंद होने से उनकी पढ़ाई छूट गई है.
वहीं क्रमिक लॉकडाउन से उनकी आर्थिक स्थिति भी बदतर हुई है. ऐसे में हर राज्य की जिम्मेदारी बनती है कि वह अपने छात्रों को फ्री में वैक्सीन लगाएं. डॉ. सुमन का कहना है कि जब तक प्रत्येक छात्र को वैक्सीन नहीं लग जाती उसे कॉलेज/शिक्षण संस्थान नहीं आना चाहिए.

इस संबंध में CYSS के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष चंद्रमणि देव ने बताया कि हमने CYSS की तरफ से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र लिख कर आग्रह किया है कि दिल्ली विश्वविद्यालय के दिल्ली सरकार द्वारा फंडेड कॉलेजों में छात्रों को मुफ्त वैक्सीन लगाई जाए. इसके लिए कोविन एप की बाध्यता भी खत्म की जाए ताकि ग्रामीण क्षेत्रों से आने वाले गरीब छात्र भी अपनी कॉलेज आईडी कार्ड दिखाकर मुफ्त वैक्सीन लगवा सके.

CYSS दिल्ली विश्वविद्यालय (Delhi University) के महासचिव कुलदीप ने भी बताया कि दिल्ली सरकार को छात्रों के बारे में भी सोचना चाहिए. वित्त पोषित कॉलेजों में छात्रों को मुफ्त वैक्सीन जरूर लगानी चाहिए. उनका कहना है कि यह वैक्सीन दिल्ली विश्वविद्यालय के सत्र शुरू होने से पहले लगे.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज