• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • WANTED CRIMINAL WAS CAUGHT BY DELHI POLICE AFTER 6 MONTHS THERE WAS A REWARD OF 25 THOUSAND

दिनदहाड़े डकैती करने वाला वांछित अपराधी 6 माह बाद पुलिस ने दबोचा, 25 हजार का था ईनाम

स्पेशल सेल ने 25 हजार इनामी को गिरफ्तार किया गया है. वह नेब सराय में दिनदहाड़े हुई डकैती के मामले में वांछित था.

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने 25 हजार इनामी को गिरफ्तार किया गया है. वह नेब सराय में दिनदहाड़े हुई डकैती के मामले में वांछित था. वह पिछले करीब 6 महीने से फरार चल रहा था. 9 दिसंबर, 2020 को नेब सराय स्थित एक घर में जबरन घुसकर बंदूक की नोक पर 4 लाख की नकदी, 4 सोने की चेन, 2 हीरे के कंगन और 2.5 किलो चांदी के आभूषण लूट लिए गए थे.

  • Share this:


    नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की स्पेशल सेल ने 25 हजार इनामी को गिरफ्तार किया गया है. वह नेब सराय में दिनदहाड़े हुई डकैती के मामले में वांछित था. वह पिछले करीब 6 महीने से फरार चल रहा था.

    दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल उपायुक्त प्रमोद सिंह कुशवाहा ने बताया कि 9 दिसंबर, 2020 को नेब सराय स्थित एक घर में जबरन घुसकर बंदूक की नोक पर 4 लाख की नकदी, 4 सोने की चेन, 2 हीरे के कंगन और 2.5 किलो चांदी के आभूषण लूट लिए गए थे.

    आरोपियों ने अपनी पहचान छिपाने और सबूत मिटाने के लिए घर में लगे सीसीटीवी कैमरों की डीवीआर भी छीन ली थी. इसी बीच 1 जून के दिन एसआई सतविंदर को गुप्त सूचना मिली थी कि इस मामले में फरार मो. अजहरुद्दीन (21) ने जैतपुर इलाके में अपना ठिकाना बना लिया है.

    इस सूचना के आधार पर एसीपी अत्तर सिंह की देखरेख में इंस्पेक्टर ईश्वर सिंह के निर्देश पर टीम ने उक्त क्षेत्र में अजहरुद्दीन के किराए के मकान की पहचान की. इसके बाद टीम ने उक्त स्थान पर छापेमारी कर आरोपी मो. अजहरुद्दीन उर्फ अजहर को गिरफ्तार कर लिया.

    पुलिस पूछताछ में आरोपी मोहम्मद अजहरुद्दीन उर्फ अजहर ने बताया कि 09 दिसंबर, 2020 को उसने अपने अन्य 6 साथियों के साथ घर में घुसकर बंदूक की नोक पर नकदी व जेवर लूट लिए थे. उसने यह भी बताया कि उसने इस जघन्य अपराध को करने के लिए हथियारों की व्यवस्था की थी.

    उसने आगे बताया कि उनका एक सहयोगी शिव कुमार पहले उनके यहाँ ड्राइवर के रूप में काम करता था लेकिन उसे 2 साल पहले नौकरी से निकाल दिया गया था. इस कारण रंजिश रखने वाले शिव कुमार ने मो. अजहरुद्दीन उर्फ अजहर को बताया कि वह एक बहुत अमीर व्यापारी है और उन्हें अच्छी रकम नकद और गहने मिल सकते थे.

    इसके बाद 9 दिसंबर को कुरियर ब्वॉय बनकर एक आरोपी अरमान मलिक पहले घर में घुसा और बाद में मोहम्मद अजहर और  अन्य साथियों ने जबरन घर में घुसकर डकैती की. पुलिस ने अन्य सभी छह आरोपी को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था. लेकिन मो. अजहरुद्दीन उर्फ अजहर फरार था.

    Published by:Bhupender Panchal
    First published: