Assembly Banner 2021

Delhi Water Supply: दिल्ली में गहरा सकता है पानी का संकट, ये दो वाटर ट्रीटमेंट प्लांट क्षमता से कम पर कर रहे हैं काम

दिल्ली में अगले कुछ दिनों तक पानी की सप्लाई बाधित हो सकती है. (फाइल फोटो)

दिल्ली में अगले कुछ दिनों तक पानी की सप्लाई बाधित हो सकती है. (फाइल फोटो)

Water Crisis in Delhi: हरियाणा (Haryana) ने दिल्ली (Delhi) को कच्चे पानी की आपूर्ति कम कर दी है. इसका नतीजा यह होगा कि अगले कुछ दिनों तक दिल्ली में पानी के उत्पादन में कमी का सामना करना पड़ेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 7, 2021, 10:12 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली में अगले कुछ दिनों तक पानी की सप्लाई (water supply) बाधित रह सकती है. दरअसल, हरियाणा (Haryana) ने दिल्ली को कच्चे पानी की आपूर्ति कम कर दी है. इसका नतीजा यह होगा कि दिल्ली में पानी के उत्पादन में कमी का सामना करना पड़ेगा. रविवार को दिल्ली जल बोर्ड (DJB) के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा (Raghav Chadha) ने बताया कि हरियाणा से कम पानी छोड़े जाने की वजह से पानी का उत्पादन कम हुआ है. वजीराबाद और चंद्रावल वाटर ट्रीटमेंट प्लांट क्षमता से कम पर कर रहे हैं. इससे दिल्ली के कई इलाकों में 8 और 9 मार्च को पानी सप्लाई बाधित रह सकती है.

दिल्ली के हिस्से का पानी छोड़े हरियाणा- चड्ढा
दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा ने कहा है कि इस मसले पर दिल्ली सरकार हरियाणा सरकार के संपर्क में है. साथ ही राघव चड्ढा ने केंद्रीय जल मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत से हरियाणा द्वारा यमुना में छोड़े जाने अमोनिया की मात्रा पर अंकुश लगाने और दिल्ली के हिस्से का पानी छोड़े जाने पर दखल का आग्रह किया है.

कम पानी छोड़ रहा है हरियाणा- चड्ढा
राघव चड्ढा के मुताबिक वर्तमान में हरियाणा सीएलसी नहर के माध्यम से केवल 549.16 क्यूसेक (683 क्यूसेक) और डीएसबी नहर 306.63 क्यूसेक (330 क्यूसेक) की आपूर्ति कर रहा है. वजीराबाद और चंद्रावल डब्ल्यूटीपी के जल उत्पादन में 30% और ओखला डब्ल्यूटीपी के उत्पादन में 15% की कमी आई है. इसके अलावा हरियाणा सरकार के रवैये के कारण यमुना में सीवरेज की अनियंत्रित डंपिंग हुई है. हमारे गुणवत्ता लैब द्वारा उठाए गए नमूने में अमोनिया दिख रहे हैं.



water supply in delhi, Delhi jal board, water supply affected, Rohini, Rithala, New Delhi News, Vice Chairman Raghav Chadha, Bhagirathi Water Treatment Plant, Upper Ganga Canal, uttarakhand Disaster, water supply impacted, DJB, Sonia Vihar, Bhagirathi, अरविंद केजरीवाल, अपर गंगा कैनाल, स्वच्छ पानी मुहैया कराने के निर्देश, राघव चड्ढा, उत्तराखंड आपदा, लकड़ी, पौधे, कीचड़, मलबा, एंटीयू का स्तर 100 से बढ़कर 8 हजार के पार पहुंच गया, सोनिया विहार, भागीरथी वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, दक्षिणी दिल्ली, पूर्वी दिल्ली, उत्तर-पूर्वी दिल्ली,राघव चड्ढा ने कहा है कि भागीरथी वाटर ट्रीटमेंट प्लांट अब 100 प्रतिशत और सोनिया विहार वाटर ट्रीटमेंट प्लांट 80 प्रतिशत क्षमता से काम कर रहे हैं.
राघव चड्ढा ने कहा है कि इस मसले पर दिल्ली सरकार हरियाणा सरकार के संपर्क में है.


ये भी पढ़ें: Good News: नोएडा अथॉरिटी जल्द शुरू कर सकती है 40 हजार फ्लैट्स की रजिस्ट्री, ब्‍याज दरों को लेकर चल रही थी खींचतान

केंद्रीय मंत्री से दखल देने की अपील
चड्ढा के ने ट्वीट कर कहा है कि दिल्ली सरकार हरियाणा सरकार के साथ लगातार संपर्क में है और उनसे इन मुद्दों को युद्धस्तर पर हल करने का अनुरोध कर रहा है, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. इस बारे में केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखाबत से भी आग्रह किया है. कि वह कृपया हस्तक्षेप करें और हरियाणा सरकार को निर्देश दें कि दिल्ली का हिस्सा जारी करें और अमोनिया के बढ़ते स्तर को रोकें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज