Home /News /delhi-ncr /

water crisis in delhi water plan of delhi government water supply tanker delhi jal board dlnh

दिल्ली वालों को कैसे मिलेगा हर रोज 200 लीटर पानी, जानें प्लान

जल बोर्ड की बेवसाइट पर दिल्ली सरकार ने वादा किया है कि दिल्ली में रहने वाले हर इंसान को रोजाना 50 गैलन यानि 200 लीटर फिल्टर पानी दिया जाएगा. Demo Pic

जल बोर्ड की बेवसाइट पर दिल्ली सरकार ने वादा किया है कि दिल्ली में रहने वाले हर इंसान को रोजाना 50 गैलन यानि 200 लीटर फिल्टर पानी दिया जाएगा. Demo Pic

यमुना नदी (Yamuna River) में लगातार घटते जलस्तर को देखते हुए दिल्ली सरकार (Delhi Government) में जल मंत्री सत्येंद्र जैन का कहना है कि यमुना नदी में हरियाणा सरकार (Haryan Government) द्वारा कम पानी छोड़ने की वजह से वजीराबाद और चंद्रावल वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट (Water Treatment Plant) से पानी का प्रोडक्शन प्रभावित हो रहा है. हरियाणा सरकार द्वारा कम पानी छोड़े जाने के कारण वजीराबाद बैराज में जलस्तर सामान्य 674.5 फुट से घटकर इस साल के न्यूनतम स्तर 669 फुट पर पहुंच गया है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. दिल्ली जल बोर्ड (DJB) की बेवसाइट पर दिल्ली सरकार (Delhi Government) ने वादा किया है कि दिल्ली में रहने वाले हर इंसान को रोजाना 50 गैलन यानि 200 लीटर फिल्टर पानी दिया जाएगा. इस वादे के पीछे सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) की ओर से की गईं कई बड़ी योजनाओं की घोषणा है. इसमे से दो बड़े प्रस्तावों का ऐलान तो इसी साल फरवरी में ही किया गया है. वहीं 2021 में एक अन्य योजना के पूरे होने की मियाद 2024 रखी गई है. लेकिन फिलहाल खुद सरकार को एक-एक गिलास पानी के लिए दिल्ली हाईकोर्ट (Delhi High Court) से लेकर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) तक का दरवाजा खटखटाना पड़ रहा है. हर साल की तरह से इस गर्मी में भी पानी की सप्लाई कम हो गई है. मजबूरन जनता टैंकरों से पानी खरीदकर पी रही है.

दिल्ली में 958 एमजी पानी रोकने का बना प्लान

दिल्ली क्षेत्र की यमुना में हरियाणा, पंजाब और यूपी से पानी आता है. लेकिन यह वो पानी होता है जो तीनों राज्य अपने यहां से डिस्चार्ज करते हैं. इसके अलावा यमुना में अगर एक्सट्रा पानी की बात करें तो वो होता है बारिश का. लेकिन इस पानी की मौजूदगी हर वक्त नहीं रहती है. जब दिल्ली से ऊपर के राज्यों में बारिश के दौरान पानी का दबाव बढ़ता है तो उसे यमुना में छोड़ दिया जाता है. दिल्ली सरकार ने 26 फरवरी को घोषणा करते हुए बताया है कि इस पानी को दो योजनाओं की मदद से दिल्ली में ही रोका जाएगा.

इसके लिए पहली योजना के तहत यमुना नदी के पश्चिमी तट पर स्थित वजीराबाद जलाशय के ऊपरी छोर पर पायलट आधार पर 459 एकड़ का कैचमेंट वेटलैंड जलाशय बनाने का प्लान तैयार किया गया है. इस जलाशय में बारिश का करीब 1735 एमजी पानी स्टोर किया जा सकेगा. दूसरे प्लान के तहत 20 एकड़ का ऑफ रिवर मिनी जलाशय भी बनाया जाएगा. इस जलाशय की गहराई 10 मीटर तक होगी और यहां लगभग 223 एमजी मानसून का पानी का स्टोर हो सकेगा. इस दौरान सीएम केजरीवाल ने कहा था कि बारिश के दौरान यमुना में आने वाले एक्सट्रा पानी को स्टोर करने और उसे साफ कर लोगों के घर तक पहुंचाया जाएगा.

कोंडली और एडवंट टावर अंडरपास खोलने की तारीख तय, एक्सप्रेसवे पर जाम से मिलेगी मुक्ति

प्राइवेट कंपनी को दिए जा रहे हैं दिल्ली के चार बड़े जल संयत्र

नांगलोई, मालीवय नगर, महरौली और बंसत विहार जल संयत्र से उससे जुड़े इलाकों को 24 घंटे पानी देने की तैयारी चल रही है. चारों ही संयत्र प्राइवेट कंपनी को दिए जा रहे हैं. पहले कंपनियों को 6 महीने तक अपने-अपने इलाकों का सर्वे करना होगा. सर्वे के तहत जल आपूर्ति के मौजूदा हालात का आकलन करना होगा. पाइप लाइनों की स्थिति, पानी के मीटरों की स्थिति, लीकेज, भूमिगत जलाशय आदि के बारे में जानकारी जमा की जाएगी. नियमों के मुताबिक कंपनी को 6 महीने में सर्वे करके पूरा प्लान जल बोर्ड को सौंपना होगा. इसके साथ ही सिविल वर्क जिसमें पानी की लाइनें बदलना, नए मीटर लगना, जरूरत के मुताबिक मोटर आदि लगाने का काम भी शुरू हो जाएगा.

दिल्ली को पानी पिलाने के लिए की गईं तैयारियां

बजट 2021-22 के मुताबिक दिल्ली में पानी के लिए 1758 करोड़ रुपये खर्च किए गए.

5 साल में 594 सरकारी और 89 अन्य इमारतों में रैन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाए गए हैं.

5 साल में दिल्ली में नए 1099 बोरवेल तैयार किए गए हैं.

दिल्ली में जल बोर्ड के 1175 टैंकरों से पानी सप्लाई किया जाता है.

दिल्ली में 918 प्राइवेट और 257 जल बोर्ड के टैंकर हैं.

दिल्ली सरकार की ओर से 250 जलाशयों और 23 झीलों को जीवंत किया जा रहा है.

आम जनता को रैन वॉटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने के लिए अधिकतम 50 हजार रुपये दिए जा रहे हैं.

दिल्ली को रोजाना 100 एमजीडी भूजल और 860 एमजीडी पानी 9 प्लांट में फिल्टर करने के बाद 960 एमजीडी सप्लाई किया जाता है.

Tags: CM Arvind Kejriwal, Delhi Government, Delhi news, Water Crisis

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर