दिल्ली के अस्पतालों में हो रही पानी की किल्लत, जल बोर्ड वाइस चेयरमैन ने अफसरों को दिए ये निर्देश

अस्पतालों में पर्याप्त पानी की सप्लाई भी नहीं हो रही है. (File Photo)

अस्पतालों में पर्याप्त पानी की सप्लाई भी नहीं हो रही है. (File Photo)

Water Shortage in Delhi Hospitals: अस्पतालों में जहां मरीजों को बेड और ऑक्सीजन की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है. वहीं, पर्याप्त पानी की सप्लाई भी नहीं हो रही है. इसको लेकर अब दिल्ली जल बोर्ड के वाइस चेयरमैन ने अधिकारियों के साथ ऑनलाइन मीटिंग कर समुचित सप्लाई के निर्देश दिए हैं.

  • Share this:


नई दिल्ली. दिल्ली में कोरोना (Corona) मरीजों की संख्या बढ़ने से अस्पतालों पर बड़ा दवाब हो गया है. अस्पतालों में जहां मरीजों को बेड और ऑक्सीजन की किल्लत का सामना करना पड़ रहा है. वहीं, पर्याप्त पानी की सप्लाई भी नहीं हो रही है. इसको लेकर अब दिल्ली जल बोर्ड (Delhi Jal Board) के वाइस चेयरमैन ने अधिकारियों के साथ ऑनलाइन मीटिंग कर समुचित सप्लाई के निर्देश दिए हैं.

साथ ही 2 से 10 घंटे की हो रही बिजली कटौती की समस्या को भी दूर करने का आग्रह बिजली कंपनी के सीईओ को किया गया है.

जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा (Raghav Chadha) ने गुरुवार को दिल्ली जल बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारियों की ऑनलाइन बैठक बुलाई. इसमें जल आपूर्ति से जुड़े सदस्य और मुख्य अभियंताओं के साथ कई विषयों पर समीक्षा की. इसमें जल उत्पादन आपूर्ति का जायजा लिया. शहर में पानी की समान आपूर्ति के साथ-साथ अस्पतालों को निर्बाध आपूर्ति के लिए दिशा निर्देश दिए गए.
राघव चड्ढा ने कहा कि दिल्लीवासी की जरूरतों को पूरा करने के आपके अमूल्य योगदान को कोई नहीं भूल सकता है. आपने यह भरोसा जगाया है कि मुश्किल समय में बिना किसी बाधा के पानी की आपूर्ति मिलती रहेगी.

इस दौरान कोविड-19 (COVID-19) की चपेट में काफी अधिकारी-कर्मचारी आए, जिसमें से कुछ ठीक हो गए और कुछ का दुर्भाग्यपूर्ण निधन हो गया. कठिन परिस्थितियों के बावजूद डीजेबी के हर कर्मचारी ने अपना कार्य किया है.

उपाध्यक्ष राघव चड्ढा ने कोविड 19 महामारी और गर्मी के महीनों के कारण पानी की ज्यादा मांग की गंभीरता को समझाया. उन्होंने डीजेबी अधिकारियों को पर्याप्त पानी उत्पादन के लिए सभी आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए. साथ ही जनता को असुविधा ना हो यह सुनिश्चित करने और प्रभावित क्षेत्रों में टैंकर आपूर्ति बढ़ाने का निर्देश दिया.



इस दौरान उन्होंने कोविड महामारी के संकट में कोरोना के उपचार से जुड़े अस्पतालों सहित सभी स्वास्थ्य संस्थानों में पर्याप्त पानी की आपूर्ति पर बल दिया, ताकि उनके कामकाज को सुविधाजनक बनाया जा सके.

उन्होंने कहा कि दिल्ली जल बोर्ड सभी अस्पतालों में पर्याप्त पानी आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए युद्ध स्तर पर काम कर रहा है. जिसमें कोविड का इलाज करने वाले अस्पताल भी शामिल हैं. अस्पतालों को पाइप नेटवर्क के माध्यम से और अतिरिक्त टैंकर यात्राओं के माध्यम से पानी की आपूर्ति की जा रही है.

TPDDL सीईओ से बिजली समस्या दूर करने का आग्रह 

बिजली को लेकर रोजाना 2 से 10 घंटे तक दिक्कत रहती है, जिसकी वजह से मई में कुछ एमजीडी जल उत्पादन को नुकसान हुआ है. इसी तरह के नुकसान पिछले महीनों में हुए हैं. उपाध्यक्ष राघव चड्ढा ने टीपीडीडीएल (TPDDL) के सीईओ से बात की और उन्हें बिजली से जुड़ी दिक्कत को कम करने के लिए आवश्यक कदम उठाने के लिए कहा है. विशेषकर ऐसे समय में जब दिल्ली को हरियाणा से कम पानी मिलने की दिक्कत से जूझना पड़ रहा है.

हरियाणा से कम मिल रहा कच्चा पानी, जल उत्पादन में 60-65 MGD की कमी 

राघव चड्ढा ने कहा कि हरियाणा से कच्चे पानी की आपूर्ति में कमी के कारण डीजेबी के जल उत्पादन में 60-65 एमजीडी की कमी आयी है. इसकी वजह से दिल्ली के कई हिस्सों में पीने के पानी की आपूर्ति प्रभावित हो रही है. विशेषकर दिल्ली के बाहरी क्षेत्रों में पानी आपूर्ति को लेकर दिक्कत आ रही है.



अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज