प्रेसिडेंट हाउस और नॉर्थ एवेन्यू सहित दिल्ली के इन इलाकों में पानी की आपूर्ति होगी प्रभावित, देखें पूरी लिस्ट

दिल्ली में जल संकट से आम लोगों के साथ-साथ खास लोगों को भी जूझना पड़ेगा.

दिल्ली जल बोर्ड (Delhi Jal Board) के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा (Raghav Chaddha) के मुताबिक, लुटियन दिल्ली का पूरा हिस्सा बुधवार को पानी की कमी से जूझेगा. झंडेवालान, पटपड़गंज, सेंट्रल सेक्रेटेरिएट के साथ-साथ प्रेसिडेंट हाउस, इंडिया गेट, नॉर्थ एवेन्यू और एनडीएमसी एरिया में भी पानी की आपूर्ति प्रभावित रहेगा.

  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली वालों को अगले कुछ दिनों तक कोरोना (Coronavirus) महामारी के साथ-साथ जल संकट (Water Crisis) से भी जुझना पड़ सकता है. दिल्ली में जल संकट से आम लोगों के साथ-साथ खास लोगों को भी जूझना पड़ेगा. लुटियन दिल्ली का पूरा हिस्सा बुधवार को पानी की कमी से जूझेगा. इसके साथ-साथ सिविल लाइन, नया बाजार, लाहौरी गेट, झंडेवालान, पटपड़गंज, मोतिया खान, पूसा रोड, राजेंद्र नगर, करोल बाग, सेंट्रल सेक्रेटेरिएट, प्रेसिडेंट हाउस, संसद, इंडिया गेट, विज्ञान भवन, जनपथ, रकाबगंज, नॉर्थ एवेन्यू और एनडीएमसी एरिया में भी पानी की आपूर्ति प्रभावित रहेगा. दिल्ली जल बोर्ड (Delhi Jal Board) के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा (Raghav Chaddha) ने मंगलवार को यह बात कही. राधव चड्ढा ने दिल्ली में इस जल संकट के लिए हरियाणा सरकार को जिम्मेदार ठहराया है.

दिल्ली में जल संकट के लिए कौन जिम्मेदार?
राघव चड्ढा ने कहा है कि हरियाणा द्वारा यमुना में छोड़े जा रहे पानी में अमोनिया का स्तर 7.6 पीपीएम है. एक तरफ हरियाणा अमोनिया युक्त पानी दे रहा है और दूसरी तरफ यमुना के जल स्तर को भी कम कर दिया है. इससे यमुना का 674 फीट से घट कर 670 फीट हो गया है. इस वजह से हमारे वाटर ट्रीटमेंट प्लांट 100 फीसद क्षमता पर नहीं चल पा रहे हैं. वजीराबाद प्लांट में पानी उत्पादन की क्षमता 135 से घट कर 82, चंद्रावल में 92 से 71 और ओखला में 21 से 10 एमजीडी हो गई है.

Rashtrapati Bhavan, water crisis, president house, Mughal Garden, New Delhi, Delhi, राष्ट्रपति भवन, मुगल गार्डन, नई दिल्ली,  दिल्ली, पानी की दिक्कत, हरियाणा, दिल्ली- हरियाणा, जल संकट, राजनीति, दिल्ली जल बोर्ड, दिल्ली सरकार, दिल्ली में जल संकट, लुटियंस दिल्ली में जल संकट, राघव चड्ढा, दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष, अरविंद केजरीवाल
राघव चड्ढा ने कहा है कि हरियाणा द्वारा यमुना में छोड़े जा रहे पानी में अमोनिया का स्तर 7.6 पीपीएम है. (सांकेतिक फोटो)


कोरोना के बाद दिल्ली में जल संकट!
चड्ढा ने कहा कि आज हम ऐसे दौर से गुजर रहे हैं, जहां कोरोना रुपी राक्षस देश की राजधानी और पूरे हिंदुस्तान में अपना सर फिर से उठा रहा है. कोरोना का प्रकोप देश की राजधानी क्षेत्र में फैलता जा रहा है. इसी के साथ नवरात्र और रमजान दोनों त्योहार भी शुरू हो गए हैं. ऐसे समय में हरियाणा की वजह से यह स्थिति उत्पन्न होती नजर आ रही है. हरियाणा द्वारा दिल्ली भेजे जा रहे पानी में बहुत भारी मात्रा में अमोनिया यानि गंदगी और औद्योगिक कचरा आ रहा है, जो शोधित करने योग्य नहीं है. वाटर ट्रीटमेंट प्लांट भी उस गंदे पानी को शोधित नहीं कर सकते हैं. उस पानी को बिना शोषित किए हम अपने दिल्ली वालों को नहीं दे सकते हैं.

आम से खास सब लोग होंगे प्रभावित
चड्ढा ने कहा कि हरियाणा से गंदा और कम पानी मिलने की वजह से सेंट्रल दिल्ली, साउथ दिल्ली, नॉर्थ दिल्ली और वेस्ट दिल्ली के कई इलाकों में जल आपूर्ति प्रभावित रहेगी. दिल्ली में लोगों के घरों तक पहुंचाया जाने वाला शोधित पानी का 40 फीसद हिस्सा यमुना का होता है, जिसे हरियाणा देता है. उस पानी में बहुत भारी मात्रा में अमोनिया का कचरा देखा जा रहा है.

Rashtrapati Bhavan, water crisis, president house, Mughal Garden, New Delhi, Delhi, राष्ट्रपति भवन, मुगल गार्डन, नई दिल्ली,  दिल्ली, पानी की दिक्कत, हरियाणा, दिल्ली- हरियाणा, जल संकट, राजनीति, दिल्ली जल बोर्ड, दिल्ली सरकार, दिल्ली में जल संकट, लुटियंस दिल्ली में जल संकट, राघव चड्ढा, दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष, अरविंद केजरीवाल
दिल्ली जल बोर्ड के उपाध्यक्ष राघव चड्ढा ने कहा कि दिल्लीवासियों को जल संकट से जूझना पड़ सकता है.


इन इलाकों में पानी की आपूर्ति प्रभावित रहेगी
राघव चड्ढा ने कहा कि दिल्ली के कई सारे इलाकों में पानी की आपूर्ति प्रभावित रहेगी. चंद्रावल प्लांट से जिस एरिया में पानी की आपूर्ति की जाती है, उसमें यूनिवर्सिटी, विजयनगर, तिमारपुर, ओल्ड सेक्रेटेरिएट, सिविल लाइन, नया बाजार, लाहौरी गेट, पीली कोठी, बर्फखाना, मलका गंज, झंडेवालान, पटपड़गंज, मोतिया खान, डब्ल्यूए, पूसा रोड, राजेंद्र नगर, करोल बाग, सेंट्रल सेक्रेटेरिएट, प्रेसिडेंट हाउस, संसद, इंडिया गेट, विज्ञान भवन जनपथ, रकाबगंज, नॉर्थ एवेन्यू, एनडीएमसीका एरिया, ईस्ट पटेल नगर, बाबा फरीदपुर, न्यू राजेंद्र नगर, डबल स्टोरी, साउथ पटेल नगर, कंटेनमेंट इलाका, आरके पुरम, वसंत विहार, अकबर रोड, सरोजिनी नगर आदि बहुत से एरिया है, जहां पानी की आपूर्ति प्रभावित होगी.

ये भी पढ़ें: Exclusive: केजरीवाल सरकार की खुली पोल! दिल्ली के अस्पतालों से भी Remdesivir Injection गायब, लोगों में अफरा-तफरी

वहीं. ओखला प्लांट से कालकाजी, तुगलकाबाद, गिरी नगर, हरकेश नगर आदि इलाकों में पानी की आपूर्ति प्रभावित रहेगी. वजीराबाद प्लांट जो एरिया प्रवाहित रहेगा, उसमें मोदी कॉलोनी, डिफेंस कॉलोनी, मजनू का टीला, मूलचंद अस्पताल, सुंदरनगर, राजघाट, सुभाष पार्क, रामलीला ग्राउंड, दिल्ली गेट, दरियागंज, आईएसबीटी, तिमारपुर, गुलाबी बाग, भारत नगर, पंजाबी बाग, मुखर्जी नगर, हडसन लेन, मॉडल टाउन, आजादपुर मंडी, जहांगीरपुरी, शालीमार बाग, लारेंस रोड, वजीराबाद, बुराड़ी, गोपालपुरी आदि इलाके शामिल हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.