Home /News /delhi-ncr /

फेसबुक-ट्विटर साइबर क्राइम के खिलाफ कदम, रेप-गैंगरेप की तस्‍वीरों से लेकर चाइल्‍ड पोर्नोग्राफी की यहां करें शिकायत

फेसबुक-ट्विटर साइबर क्राइम के खिलाफ कदम, रेप-गैंगरेप की तस्‍वीरों से लेकर चाइल्‍ड पोर्नोग्राफी की यहां करें शिकायत

ग्वालियर में सिरफिरे ने हैवानियत की सारी हदें लाघीं. (प्रतिकात्मक तस्वीर)

ग्वालियर में सिरफिरे ने हैवानियत की सारी हदें लाघीं. (प्रतिकात्मक तस्वीर)

निर्भया फंड (Nirbhaya Fund) के तहत ऑनलाइन साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल (www.cybercrime.gov.in) भी लांच किया गया है. जिस पर कोई भी महिला और बच्‍चा सोशल मीडिया पर भेजी या दिखाई गई रेप (Rape) से लेकर गैंगरेप (Gangrape) की तस्‍वीरें, यौन हिंसा संबंधी कंटेंट, चाइल्‍ड पोर्नोग्राफी (Child Pornography), चाइल्‍ड सेक्‍सुअल एब्‍यूज मेटेरियल (Child Sexual Abuse Material) की शिकायत कर सकता है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. देश में तेजी से बढ़ रहे सोशल मीडिया (Social Media) पर अपराधों (Crimes) को देखते हुए केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय (MWCD) ने ठोस कदम उठाया है. महिलाओं और बच्‍चों के लिए किसी भी प्रकार के साइबर क्राइम (Cyber Crime) की शिकायत के लिए एक तय ईमेल आईडी बनाई गई है. जिसपर किसी भी सोशल मीडिया प्‍लेटफार्म जैसे फेसबुक (Facebook), ट्विटर (Twitter), इंस्‍टाग्राम (Instagram) आदि पर किए जाने वाले अपराध की ऑनलाइन शिकायत (Online Complaints) की जा सकती है. यह डेडिकेटेड ईमेल आईडी (complaint-mwcd@gov.in) है.

    इसके साथ ही गृह मंत्रालय की ओर से निर्भया फंड (Nirbhaya Fund) के तहत साइबर क्राइम प्रिवेंशन अगेंस्‍ट वीमेन एंड चिल्‍ड्रन (CCPWC) स्‍कीम चलाई गई है. जिसके तहत ऑनलाइन साइबर क्राइम रिपोर्टिंग पोर्टल (www.cybercrime.gov.in) भी लांच किया गया है. जिस पर कोई भी महिला और बच्‍चा सोशल मीडिया पर भेजी या दिखाई गई रेप (Rape) से लेकर गैंगरेप (Gangrape) की तस्‍वीरें, यौन हिंसा संबंधी कंटेंट, चाइल्‍ड पोर्नोग्राफी (Child Pornography), चाइल्‍ड सेक्‍सुअल एब्‍यूज मेटेरियल (Child Sexual Abuse Material) की शिकायत कर सकता है. इसके साथ ही सोशल मीडिया पर कोई भी नफरत भरे व्‍यवहार या छेड़छाड़ को लेकर भी ऑनलाइन शिकायत की जा सकती है.

    मंत्रालय की ओर से मिली जानकारी के अनुसार इस पोर्टल पर महिला और बच्‍चों  के खिलाफ होने वाले सभी प्रकार के साइबर अपराध की शिकायतें की जा सकती हैं. यह एक सेंट्रलाइज्‍ड मैकेनिज्‍म हैं लेकिन शिकायत दर्ज होने के बाद जिस भी राज्‍य या जिले का मामला होगा वहां की साइबर सेल या संबंधित लॉ इन्‍फोर्समेंट अधिकारी इस पर काम करेगा. इसके साथ ही एक टोल फ्री नंबर भी जारी किया गया है. 155260 इस टोल फ्री नंबर पर कोई भी महिला या बच्‍चा ऑनलाइन शिकायत दर्ज करने संबंधी जानकारी ले सकता है.

    इतना ही नहीं नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्‍यूरो (NCRB)को सरकार की एजेंसी तय किया गया है जो आईटी एक्‍ट की धारा 79 (3) बी के तहत किसी भी प्रकार के रेप, गैंगरेप या पोर्नोग्राफी के कंटेट को हटाने के लिए नोटिस जारी कर सकता है. इतना ही नहीं ऑनलाइन दर्ज की गई इन शिकायतों के बाद राज्‍य की लॉ इन्‍फोर्समेंट एजेंसी अपराधी के खिलाफ कानूनी एक्‍शन भी ले सकती हैं.

    Tags: Child sexual abuse, Child sexual harassment, Cyber Crime, Pornography

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर