• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • खुलासा: गिरफ्तार आतंकियों के हथियार और अमृतसर में ड्रोन से गिराए गए विस्फोटक एक जैसे

खुलासा: गिरफ्तार आतंकियों के हथियार और अमृतसर में ड्रोन से गिराए गए विस्फोटक एक जैसे

बाद में जांच को राष्ट्रीय जांच एजेंसी NIA को सौंप दी गई थी.(फाइल फोटो)

दरअसल, पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने 9 अगस्त को सीमा क्षेत्र से टिफिन बम, ग्रेनेड और 100 पिस्टल कारतूस बरामद किए थे. बाद में जांच को राष्ट्रीय जांच एजेंसी NIA को सौंप दी गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल (Delhi Police Special Cell) द्वारा गिरफ्तार आतंकियों (Terrorists) को लेकर लगातार नई- नई सूचनाएं सामने आ रही हैं. इसी बीच खबर है कि गिरफ्तार आतंकियों के पास से जो हथियार और विस्फोटक बरामद किए गए हैं वे अमृतसर में भारत-पाकिस्तान सीमा पर ड्रोन से गिराए गए विस्फोटकों के जैसे ही हैं. दरअसल, पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने 9 अगस्त को सीमा क्षेत्र से टिफिन बम, ग्रेनेड और 100 पिस्टल कारतूस बरामद किए थे. बाद में जांच को राष्ट्रीय जांच एजेंसी NIA को सौंप दी गई थी.

वहीं, कुछ देर पहले खबर सामने आई थी कि दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल और यूपी एटीएस की संयुक्त कार्रवाई में पकड़े गए 6 आतंकवादियों से पूछताछ में अब चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. ये सभी आतंकवादी बड़ी वारदात को करने के लिए पूरी तैयारी कर चुके थे. बड़ी बात ये है कि ये सभी मुंबई में हुए 26/11 हमले जैसी ही दहशत फैलाने की तैयारी में थे. इसके लिए विस्फोटकों सहित हथियारों का भी इंतजाम कर लिया गया था. इनमें से दो आतंकवादी पाकिस्तान से ट्रेनिंग लेकर देश में दाखिल हुए थे और वे हर तरीके से ट्रेन्ड थे. जानकारी के अनुसार जैसी लश्कर-ए-तैयबा ने 26/11 हमले के अभियुक्त कसाब और उसके साथियों को ट्रेनिंग दी थी, ये दोनों आतंकवादी भी वैसी ही ट्रेनिंग लेकर आए थे. इनका मकसद देश के कई बड़े शहरों में विस्फोट करना, नामचीन लोगों को अपना निशाना बनाना और उत्तर प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनावों में माहौल बिगाड़ना था.

दबदबा फिर कायम करने की फिराक में दाऊद गैंग
मुंबई धमाकों का आरोपी और देश का मोस्ट वांटेड दाऊद इब्राहिम एक बार फिर देश में दहशत फैला कर अपना दबदबा कायम करने की फिराक में है. आतंकियों से पूछताछ में खुलासा हुआ कि पकड़े गए आतंकियों के पीछे दाऊद का भाई अनीस इब्राहिम था और जो भी वारदात होने वाली थी उसकी पूरी योजना भी उसी ने तैयार की थी. साथ ही आतंकियों को विस्फोटकों, हथियारों व रुपयों की मदद भी अनीस ही पहुंचा रहा था. वहीं आतंकियों की ट्रेनिंग और अन्य मदद के पीछे पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई का हाथ था.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज