Assembly Banner 2021

गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में वायु की गुणवत्ता फिर हुई 'खराब', गुरुग्राम और फरीदाबाद की स्थिति भी ठीक नहीं

दुनिया के कई देशों में प्रदूषण लौट आया है.

दुनिया के कई देशों में प्रदूषण लौट आया है.

दिल्ली से सटे शहरों नोएडा (Noida), गुरुग्राम (Gurugram) और फरीदाबाद (Faridabad) में वायु की औसत गुणवत्ता सूचकांक (AQI) ‘मध्यम’ दर्ज किया गया है, जबकि गाजियाबाद (Ghaziabad) और ग्रेटर नोएडा में यह ‘खराब’ दर्ज किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 2, 2021, 10:18 PM IST
  • Share this:
नोएडा. मंगलवार को दिल्ली से सटे शहरों नोएडा (Noida), गुरुग्राम (Gurugram) और फरीदाबाद (Faridabad) में वायु की औसत गुणवत्ता सूचकांक (AQI) ‘मध्यम’ दर्ज किया गया है, जबकि गाजियाबाद (Ghaziabad) और ग्रेटर नोएडा में यह ‘खराब’ दर्ज किया गया है. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के समीर ऐप के अनुसार इन पांचों शहरों में पीएम 2.5 और पीएम 10 प्रदूषकों का स्तर उच्च रहा. बीते 24 घंटे का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक शाम चार बजे मंगलवार को गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में 218, नोएडा में 153, फरीदाबाद में 198 और गुड़गांव में 172 दर्ज किया गया है.

कई दिनों के बाद प्रदूषण का स्तर बढ़ा
कई दिनों के बाद नोएडा, गुरुग्राम और फरीदाबाद की वायु की गुणवत्ता में गिरावट दर्ज की गई है. मंगलवार को एक सरकारी एजेंसी द्वारा जारी आंकड़ों में बताया गया है कि दिल्ली से सटे गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में वायु की गुणवत्ता में गिरावट आई है.

NCR News_ Delhi, pollution, dangerous air levels, Gurugram, Ghaziabad, Greater Noida, Faridabad, extremely bad air, weather patterns, cold relief, air poisoning, NCR News
दिल्ली से सटे एनसीआर के पांच शहरों में मंगलवार को एयर क्विलिटी इंडेक्स स्तर में गिरावट दर्ज की गई. (फोटो: ANI)

पीएम 2.5 और पीएम 10 का स्तर ये रहा


केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार, दिल्ली के पास स्थित पांच स्थानों पर वायु में प्रदूषकों-पीएम 2.5 और पीएम 10 का स्तर भी अधिक रहा. सीपीसीबी के समीर ऐप के अनुसार मंगलवार को शाम चार बजे गाजियाबाद में 24 घंटे का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 218, नोएडा में 153, ग्रेटर नोएडा में 218, फरीदाबाद में 198 और गुरुग्राम में 172 रहा था.

गर्मी से भी लोग हैं बेहाल
बता दें कि दिल्ली-एनसीआर में एक तरफ प्रदूषण का स्तर बढ़ने लगा है तो दूसरी तरफ गर्मी ने भी परेशान कर रखा है. फरवरी महीने के आखिरी सप्ताह में दिल्ली में साल 1901 के बाद दूसरा सर्वाधिक औसत न्यूनतम तापमान रिकार्ड किया गया था. इस साल फरवरी में राजधानी का अधिकतम तापमान 27.9 डिग्री सेल्सियस रहा, जो पिछले 120 वर्षों में इस महीने में दूसरा सबसे अधिक तापमान है.

ये भी पढ़ें: दिल्ली जल बोर्ड हिंसा: कोर्ट ने पुलिस को लगाई फटकार, कहा- कमजोर धाराओं में क्यों दर्ज की FIR

केंद्रीय वायु प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार दिल्ली के आस-पास गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा में वायु गुणवत्ता मंगलवार को खराब रही. पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के वायु गुणवत्ता एवं मौसम पूर्वानुमान एवं अनुसंधान तंत्र (सफर) ने कहा कि अगले दो दिनों के दौरान एक्यूआई मध्यम से खराब के बीच रहने का अनुमान है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज