Home /News /delhi-ncr /

Delhi Weather: दिल्‍ली में कड़ाके की ठंड, नए साल में जारी रहेगी शीतलहर, जानें हरियाणा का हाल

Delhi Weather: दिल्‍ली में कड़ाके की ठंड, नए साल में जारी रहेगी शीतलहर, जानें हरियाणा का हाल

Delhi Weather Update: मौसम विभाग ने दिल्‍ली में 3 जनवरी 2022 तक शीतलहर जारी रहने का अनुमान जताया है.

Delhi Weather Update: मौसम विभाग ने दिल्‍ली में 3 जनवरी 2022 तक शीतलहर जारी रहने का अनुमान जताया है.

Delhi Weather Update: दिल्‍ली में आज यानी गुरुवार से शीतलहर (Cold Wave in Delhi) का प्रकोप बढ़ गया है, जिसके 3 जनवरी तक जारी रहने का अनुमान है. वहीं, सुबह सफदरजंग वेधशाला में न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. यही नहीं, हरियाणा में शीतलहर से लोगों ठिठुर रहे हैं, तो हिमाचल में नए साल ( 5 और 7 जनवरी) को भारी वर्षा और बर्फबारी हो सकती है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्‍ली. देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में आज यानी गुरुवार से शीतलहर (Cold Wave in Delhi) का प्रकोप बढ़ गया है, जिसके 3 जनवरी तक जारी रहने का अनुमान है. मौसम विभाग (Meteorological Department) के अनुसार, सफदरजंग वेधशाला में न्यूनतम तापमान सामान्य से चार डिग्री कम 3.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. जबकि बुधवार को न्यूनतम तापमान 8.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. दिल्ली के आयानगर और नरेला के स्वचालित मौसम केन्द्रों में गुरुवार को न्यूनतम तापमान क्रमश: 3.8 डिग्री सेल्सियस और 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

    भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी), मैदानी क्षेत्र में न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस रहने पर शीतलहर की घोषणा करता है. बता दें कि न्यूनतम तापमान के 10 डिग्री सेल्सियस या उससे कम तथा सामान्य से 4.5 डिग्री कम रहने पर भी शीतलहर की घोषणा की जाती है.

    दिल्ली में इससे पहले 20 और 21 दिसंबर को शीत लहर का प्रकोप था, जब न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था. यह इस मौसम का सबसे कम तापमान था. इसके बाद, लगातार दो पश्चिमी विक्षोभों के प्रभाव और उत्तर पश्चिम हवाओं के धीमा पड़ने से धीरे-धीरे न्यूनतम तापमान बढ़कर 9.8 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया था.

    दिल्‍ली में 3 जनवरी तक शीतलहर
    आईएमडी ने 3 जनवरी तक शीत लहर से भीषण शीतलहर की स्थिति रहने का अनुमान लगाया है. न्यूनतम तापमान के दो डिग्री सेल्सियस तक जाने या तापमान के सामान्य से 6.4 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किए जाने पर ‘भीषण’ शीत लहर की घोषणा की जाती है.

    मौसम विभाग ने सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण चार जनवरी से न्यूनतम तापमान में वृद्धि का अनुमान जताया है, जिसके कारण 4 से 7 जनवरी के बीच जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में भारी वर्षा और बर्फबारी हो सकती है. इसके साथ ही 5 से 7 जनवरी के बीच पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में हल्की से मध्यम और कुछ जगह तेज बारिश होने का भी अनुमान है.

    पंजाब और हरियाणा का है ये हाल
    पंजाब और हरियाणा के ज्यादातर हिस्सों में गुरुवार को कड़ाके की सर्दी पड़ रही है और न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे दर्ज किया गया. मौसम विभाग के अनुसार, हरियाणा के हिसार में न्यूनतम तापमान दो डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. करनाल, रोहतक, गुरुग्राम, सिरसा, फतेहाबाद और पंचकूला में कल रात तापमान क्रमश: 3.2, 4.4, 6, 4.8, 3.7 और 4.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

    वहीं, दोनों ही राज्यों की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में न्यूनतम तापमान 4.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया. जबकि पंजाब के बठिंडा में तापमान 2.6 डिग्री सेल्सियस रहा. अमृतसर, लुधियाना, पाटियाला, पठानकोट, फरीदकोट, गुरदासपुर, जालंधर, मोगा और संगरूर में न्यूनतम तापमान क्रमश: 4.4, 3.7, 3.3, 4.3, 3.4, 4.3, 3.7, 3.2 और 3.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

    Tags: Delhi Rainfall, Delhi Weather Update, Haryana weather, Himachal news, India Meteorological Department

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर