होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /AAP के काम आया 15 विधायकों का टिकट काटना, 14 सीटों पर जीत!

AAP के काम आया 15 विधायकों का टिकट काटना, 14 सीटों पर जीत!

आप के वो उम्‍मीदवार जो चुनाव हार गए.

आप के वो उम्‍मीदवार जो चुनाव हार गए.

जिन 15 सीटों पर ‘आप’ ने काटे टिकट उनमें से 14 पर अरविंद केजरीवाल के लड़ाकों को मिली जीत

    नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी (AAP) ने एक बड़ा फैसला लेते हुए अपने 15 विधायकों के टिकट काट दिए थे. इनमें ज्यादातर सुरक्षित या फिर मुस्लिम बहुल सीटें हैं. पार्टी 14 सीटों पर जीत गई है. परिणाम देखकर साफ है कि टिकट काटने का फार्मूला आम आदमी पार्टी के काम आ रहा है. जानकारों का कहना है कि पार्टी ने जिन विधायकों के टिकट काटे उनके रिपोर्ट कार्ड को इसका आधार बनाया.

    जिन विधायकों के टिकट कटे उनमें से कई ने ‘आप’ के शीर्ष नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए. कई राजनीतिक विश्लेषकों ने कहा कि इससे पार्टी में भितरघात होगा, जो परिणाम पर असर डालेगा. लेकिन पार्टी ने इसकी परवाह नहीं की. कुछ टिकट कटने पर चुप हो गए और कुछ ने दूसरी पार्टियों का दामन थाम लिया. आखिर इनमें से 14 सीटों पर आप को नफा हुआ.

    >>बदरपुर सीट: नारायण दत्त शर्मा का टिकट काटकर एक दिन पहले ही आम आदमी पार्टी ज्वाइन करने वाले राम सिंह 'नेताजी' को मैदान में उतारा गया. नाराज शर्मा ने बसपा से खड़े होकर आप का खेल बिगाड़ने की कोशिश की और यही हुआ भी. 'नेताजी' त्रिकोणीय मुकाबले में फंसकर बीजेपी के रामबीर सिंह बिधूड़ी से 3719 वोट से हार गए.

    delhi assembly election result 2020, delhi polls result live, Lage Raho Kejriwal, लगे रहो केजरीवाल, how to emerged arvind kejriwal, aap, bjp, congress, narendra modi, दिल्ली विधानसभा चुनाव परिणाम 2020, दिल्ली चुनाव परिणाम लाइव, दिल्ली की सियासत में कैसे उभरे अरविंद केजरीवाल, आप, बीजेपी, कांग्रेस, नरेंद्र मोदी
    आम आदमी पार्टी ज्यादातर सीटों पर बढ़त बनाए हुए है


    >>बवाना सुरक्षित सीट: मौजूदा विधायक रामचंद्र के बदले रोहिणी वॉर्ड के पार्षद जय भगवान उपकार को टिकट मिला. केजरीवाल का यह निर्णय ठीक साबित होता हुआ नजर आ रहा है. अभी जय भगवान उपकार 8589 वोट से आगे हैं.

    >>द्वारका सीट: आम आदमी पार्टी ने आदर्श शास्त्री की जगह कांग्रेस के पूर्व सांसद महाबल मिश्रा के बेटे विनय कुमार मिश्रा को टिकट दिया. मिश्रा यहां पर बीजेपी के प्रद्युम्न राजपूत से 12607 वोट से आगे चल रहे हैं.

    >>दिल्ली कैंट सीट: कमांडो सुरेंद्र सिंह के बदले वीरेंद्र सिंह कादियान को टिकट दिया गया. यह निर्णय भी ठीक साबित होता हुआ. कादियान बीजेपी के मनीष सिंह से 10590 वोट से आगे हैं.

    >>गोकलपुर सुरक्षित सीट: आम आदमी पार्टी ने फतेह सिंह के बदले चौधरी सुरेंद्र कुमार को चुनाव लड़वाया. सुरेंद्र कुमार ने बीजेपी के रंजीत सिंह को 19488 वोट से हरा दिया है.

    >>हरी नगर सीट: आम आदमी पार्टी ने अपने मौजूदा विधायक जगदीप सिंह के बदले कांग्रेस की पूर्व पार्षद राजकुमारी ढिल्लों को टिकट दिया. यह फैसला सही रहा. यहां राजकुमारी ढिल्लों ने बीजेपी के तेजेंद्रपाल बग्गा को 20131 वोट से हरा दिया है.

    >>कालकाजी सीट: आप ने अवतार सिंह का टिकट काटकर आतिशी को उम्मीदवार बनाया था. यहां आतिशी ने बीजेपी प्रत्याशी धर्मवीर सिंह को हरा दिया है.

    >>कोंडली सुरक्षित सीट: मनोज कुमार की जगह निगम पार्षद कुलदीप कुमार प्रत्याशी बनाए गए थे. कुलदीप कुमार बीजेपी के राजकुमार से 17907 वोट से आगे हैं.

    >>मटिया महल सीट: आसिम अहमद खान की जगह कुछ ही दिन पहले पार्टी में शामिल हुए शोएब इकबाल को टिकट दिया गया. शोएब इकबाल ने बीजेपी के रविंद्र गुप्ता को 50241 वोट से शिकस्त दी हैं.

    >>मुंडका सीट: आप ने सुखबीर दलाल के बदले धर्मपाल लाकरा को उम्मीदवार बनाया. यहां पर धर्मपाल बीजेपी के आजाद सिंह से 15943 वोट से आगे हैं.

    >>राजेंद्र नगर सीट: विजेंद्र गर्ग की जगह लोकसभा चुनाव लड़ चुके राघव चड्ढा को उम्मीदवार बनाया गया. चड्ढा ने बीजेपी के सरदार आरपी सिंह को 20058 वोट से हरा दिया है.

    >>पटेल नगर सुरक्षित सीट: हजारी लाल चौहान का टिकट काटकर राज कुमार आनंद को प्रत्याशी बनाया गया था. राजकुमार आनंद ने बीजेपी के प्रवीण रत्न को 30935 वोट से शिकस्त दे दी है.

    >>सीलमपुर सीट: हाजी इशराक के बदले अब्दुल रहमान को पार्टी ने उम्मीदवार बनाया. अब्दुल रहमान ने बीजेपी के कौशल कुमार मिश्रा को 36920 वोट से हरा दिया है.

    >>तिमारपुर सीट: मौजूदा विधायक पंकज पुष्कर का टिकट काटकर दिलीप पांडे को उम्मीदवार बनाया गया था. दिलीप पांडे बीजेपी के सुरेंद्र पाल बिट्टू से 23626 वोट से आगे हैं.

    ये भी पढ़ें:

    Delhi Election Results: दिल्ली की जनता ने आखिर क्यों कहा लगे रहो केजरीवाल!

    2632 दिन पुरानी आम आदमी पार्टी ने कैसे लगाई जीत की हैट्रिक?

    Tags: AAP, Arvind kejriwal, BJP, Congress, Delhi Assembly Election Result 2020

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें