Corona Vaccine पर ICMR ने दी सफाई तो Experts भी बोले 2021 से पहले संभव नहीं!
Health News in Hindi

Corona Vaccine पर ICMR ने दी सफाई तो Experts भी बोले 2021 से पहले संभव नहीं!
दुनिया में तैयार हो रहे 140 वैक्सीन में से 11 ह्यूमन ट्रायल फेज में पहुंच चुके हैं.

विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय (Ministry of Science and Technology) ने रविवार को ही कहा था कि दुनिया में तैयार हो रहे 140 कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) में से 11 ही ह्यूमन ट्रायल फेज में पहुंचे हैं. इसलिए कम ही संभावना है कि इनमें से कोई भी साल 2021 से पहले उपयोग के लिए तैयार हो जाए.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत सहित दुनिया के कई देश कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की खोज में दिन-रात एक किए हुए हैं. वैक्सीन की खोज में इन देशों ने अपनी पूरी ताकत झोंक रखी है. इसके बावजूद वैक्सीन का ट्रायल अभी तक पूरा नहीं हो पाया है. हालांकि, कई देशों की तरफ से दावा किया जा रहा है कि वैक्सीन का ट्रायल अंतिम चरण में है. दुनिया की 11 कंपनियां वैक्सीन तैयार करने के लिए जी-जान से लगी हुई हैंं. ह्यूमन ट्रायल फेज तक पहुंचने वाली इन 11 कंपनयों में से दो  भारतीय हैंं. इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) के सहयोग से भारत बायोटेक और दूसरा जायडस कैडिला ने वैक्सीन डेवलप किया है, जिसका ह्यूमन ट्रायल होना अभी बाकी है.

भारत की दो कंपनियां वैक्सीन बनाने की रेस में सबसे आगे
दो दिन पहले आईसीएमआर ने दावा किया था कि 15 अगस्त तक कोरोना का टीका तैयार कर लिया जाएगा. आईसीएमआर के इस दावे पर विशेषज्ञों के साथ-साथ भारत सरकार के विज्ञान मंत्रालय ने भी सवाल खड़े किए. विशेषज्ञों का कहना है कि इतने कम समय में यह मुमकिन नहीं है. ऐसे में सवाल उठता है कि भारत में भी कोविड-19 वैक्सीन को लेकर विज्ञान मंत्रालय और आईसीएमआर के दावे क्यों अलग-अलग हैं? आखिर 15 अगस्त तक आईसीएमआर ने क्यों डेडलाइन दी?

आईसीएमआर ने दावा किया था कि 15 अगस्त तक कोरोना का टीका तैयार कर लिया जाएगा.corona virus updates, covid 19 updates, corona vaccine, corona vaccine research, covid 19 vaccine, कोरोना वायरस अपडेट, कोविड 19 अपडेट, कोरोना वैक्सीन, कोरोना वैक्सीन रिसर्च, कोविड वैक्सीन, Corona Vaccine, Coroanvirus Vaccine, Ministry of Science, आईसीएमआर, कोवेक्सिन, ICMR, इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च, Indian Council of Medical Research, Covid-19 vaccine, PM MODI, 15 AUGUST, MODI GOVERNMENT, backtracks, COVAXIN, ZyCov-D, Coronavirus Vaccine, कोरोना वैक्सीन की खोज, एक्सपर्ट्स की राय, शीर्ष वैज्ञानिक अनुसंधान संस्था, काउंसिल ऑफ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च, CSIR, 11 फार्मास्यूटिकल कंपनियां वैक्सीन की खोज में लगी हुई है, Coronavirus, वैक्सीन, कोरोना वैक्‍सीन, कोरोना वायरस की वैक्सीन, कोरोना वायरस का इलाज, कोरोना टीका, covid19 pandemic,coronavirus vaccine,Coronavirus in UK, outbreak
आईसीएमआर ने दावा किया था कि 15 अगस्त तक कोरोना का टीका तैयार कर लिया जाएगा.

विज्ञान मंत्रालय और आईसीएमआर का दावा अलग-अलग


विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने रविवार को ही कहा था दुनिया में तैयार हो रहे 140 वैक्सीन में से 11 ह्यूमन ट्रायल फेज में पहुंच चुके हैं, लेकिन यह संभावना नहीं है कि इनमें से कोई भी 2021 से पहले बड़े पैमाने पर उपयोग के लिए तैयार हो जाएगा. वहीं 2 जुलाई को ही आईसीएमआर ने वैक्सीन के ट्रायल के लिए चयनित 12 क्लीनिकल साइट के प्रमुखों को लेटर लिखकर वैक्सीन का ट्रायल 15 अगस्त से पहले पूरा करने का लक्ष्य रखा था. आईसीएमआर के इस पत्र के बाद से देश में विवाद खड़ा हो गया.

आईसीएमआर के इस लेटर पर स्वास्थ्य विशेषज्ञों और शोधकतार्ओं ने गंभीर चिंता व्यक्त की और कहा कि वैक्सीन को लांच करने की इतनी जल्दी में गुणवत्ता से समझौता न हो जाए. ऐसी डेडलाइन में काम करने से अधूरे डेटा के साथ ही वैक्सीन लांच हो जाएगी.

ICMR के दावे पर विशेषज्ञों ने खड़े किए सवाल
डॉ. प्रभात रंजन डायग्नोस्टिक एंड रिसर्च सेंटर के हेड डॉ. प्रभात कुमार कहते हैं, 'कोविड-19 वैक्सीन की खोज में पूरी दुनिया लगी हुई है, लेकिन अभी तक कहीं से भी इसको रोकने के लिए कोई वैज्ञानिक साक्ष्य नहीं मिले हैं. अभी तक के ट्रायल में किसी भी वैक्सीन ने इंफेक्शन रोका हो ऐसी बात सामने नहीं आई है. ऑक्सफॉर्ड या यूएस में भी एक लेवल के बाद वैक्सीन फेल हो रही है. अभी तक हम लोग एनिमल मॉडल में ही यूज कर रहे हैं वह भी फेल हो रहा है. एनिमल के बाद ह्यूमन मॉडल में आएंगे. देखिए, वैक्सीन डेवलप करने का जो प्रोसेस होता है वह मीनिमम डेढ़ साल का होता है. वह भी तब होता है जब कहीं से कोई फेल्योर की शिकायत नहीं आती. दुनिया में कहीं भी कोरोना की वैक्सीन अभी तक किसी मानव पर नहीं आजमाई गई है. अगर आजमाई गई भी है तो वह असफल रहा है.'

कोरोना वैक्सीन को लेकर अभी कुछ और महीनों इंतजार करना पड़ेगा.Corona, four Other disease, The vaccine, कोरोना, चार गंभीर बीमारियां, वैक्सीन, लाइफ स्टाइल, हिंदी न्यूज, लॉकडाउन, कोरोना महामारी, कोविड 19, विनाशकारी वायरस, संक्रमण, Corona, four serious diseases, vaccine, lifestyle, Hindi news, lockdown, corona epidemic, Kovid 19, devastating virus, infection,corona virus updates, covid 19 updates, corona vaccine, corona vaccine research, covid 19 vaccine, कोरोना वायरस अपडेट, कोविड 19 अपडेट, कोरोना वैक्सीन, कोरोना वैक्सीन रिसर्च, कोविड वैक्सीन, Corona Vaccine, Coroanvirus Vaccine, Ministry of Science, आईसीएमआर, कोवेक्सिन, ICMR, इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च, Indian Council of Medical Research, Covid-19 vaccine, PM MODI, 15 AUGUST, MODI GOVERNMENT, backtracks, COVAXIN, ZyCov-D, Coronavirus Vaccine, कोरोना वैक्सीन की खोज, एक्सपर्ट्स की राय, शीर्ष वैज्ञानिक अनुसंधान संस्था, काउंसिल ऑफ साइंटिफिक एंड इंडस्ट्रियल रिसर्च, CSIR, 11 फार्मास्यूटिकल कंपनियां वैक्सीन की खोज में लगी हुई है, Coronavirus, वैक्सीन, कोरोना वैक्‍सीन, कोरोना वायरस की वैक्सीन, कोरोना वायरस का इलाज, कोरोना टीका, covid19 pandemic,coronavirus vaccine,Coronavirus in UK, outbreak
कोरोना वैक्सीन को लेकर अभी कुछ और महीनों इंतजार करना पड़ेगा.


डॉ. प्रभात कुमार कहते हैं, 'वैक्सीन बनाने के बाद देखा जाता है कि वो काम कर रही है कि नहीं. पहले वो जानवरों पर इस्तेमाल की जाती है. एनिमल में प्रयोग अगर सफल रहता है तो फिर मानव के शरीर में उसका प्रयोग किया जाता है. यह वैक्सीन संक्रमित और गैरसंक्रमितों पर आजमाई जाती है. तीन बार आजमाने के बाद जब यह प्रयोग सफल रहता है तो फिर इसको प्रयोग में लाया जाता है. अगर किसी स्टेप में प्रयोग फेल होता है तो फिर से वापस पहले स्टेप से काम शुरू करना पड़ता है.'

ये भी पढ़ें: बिना राशन कार्ड के इस तरह लोग मुफ्त में ले सकेंगे 5 किलो गेंहू और चावल

कुल मिलाकर कोरोना वैक्सीन को लेकर अभी कुछ और महीनों इंतजार करना पड़ेगा. लेकिन, भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) और मिनिस्ट्री ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी के बीच आपसी सामंजस्य का आभाव साफ देखा जा रहा है. पिछले दिनों मिनिस्ट्री ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी ने साफ-साफ कहा था कि दुनियाभर में 140 वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों में से 11 ह्यूमन ट्रायल के दौर में आ गई हैं. लेकिन, इनमें से कोई भी कंपनी 2021 से पहले वैक्सीन बना दे ऐसी संभावना कम नजर आ रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading