लाइव टीवी

Delhi Assembly Election: अमित शाह ने केजरीवाल से बहस के लिए प्रवेश वर्मा का ही क्यों लिया नाम?
Delhi-Ncr News in Hindi

ओम प्रकाश | News18Hindi
Updated: December 27, 2019, 9:43 PM IST
Delhi Assembly Election: अमित शाह ने केजरीवाल से बहस के लिए प्रवेश वर्मा का ही क्यों लिया नाम?
सांसद प्रवेश वर्मा पर गृह मंत्री अमित शाह के बयान के क्या हैं सियासी मायने ?

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के एक बयान ने दिल्ली में पार्टी की ओर से सीएम पद के दावेदारों में बढ़ाई बेचैनी

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 27, 2019, 9:43 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली में बीजेपी की ओर से सीएम पद के लिए हर्षवर्धन, मनोज तिवारी और विजय गोयल जैसे नेता कतार में हैं. मनोज तिवारी तो इस वक्त दिल्ली बीजेपी का सबसे चर्चित चेहरा हैं. लेकिन पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (Amit Shah) के एक बयान ने इन नेताओं की बेचैनी बढ़ा दी है. उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के प्रमुख अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) को चुनौती देते हुए कहा है कि अपने पांच साल के कामकाज पर बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा से बहस कर लें. राजनीतिक पंडित इस बयान के मायने निकाल रहे हैं कि आखिर अचानक शाह ने केजरीवाल के सामने प्रवेश वर्मा को क्यों खड़ा कर दिया? जबकि प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी हैं.

प्रवेश वर्मा को केजरीवाल के सामने खड़ा करने की कोशिश!
लंबे समय से बीजेपी कवर करने वाले पत्रकार सुभाष निगम का कहना है कि अमित शाह जैसा बड़ा नेता यदि अचानक केजरीवाल के सामने प्रवेश वर्मा को खड़ा करने की कोशिश कर रहा है तो इसमें जरूर कोई न कोई बड़ा संदेश छिपा हुआ है जो बाद में डिकोड किया जाएगा. शाह ने प्रवेश वर्मा का नाम यूं ही नहीं लिया होगा. उनके पिता साहिब सिंह वर्मा दिल्ली के सीएम रहे हैं.

Delhi Assembly Election 2020, दिल्ली विधानसभा चुनाव, Amit shah, Arvind Kejriwal, challenge, debate, BJP MP Parvesh Verma, five years of work, BJP, Aam Aadmi Party, AAP, Delhi Government, Modi Government, अमित शाह, अरविंद केजरीवाल, चुनौती, पांच साल का कामकाज, बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा, बहस, दिल्ली सरकार, आम आदमी पार्टी, मोदी सरकार, मनीष सिसोदिया, आप, मुख्यमंत्री उम्मीदवार, मनोज तिवारी
दिल्ली में बीजेपी का चर्चित चेहरा हैं मनोज तिवारी (file photo)




केजरीवाल बनाम प्रवेश वर्मा बनाने की कोशिश
जबकि राजनीतिक विश्लेषक रशीद किदवई कहते हैं, "हो सकता है कि बीजेपी नेतृत्व केजरीवाल बनाम प्रवेश वर्मा बनाने की कोशिश कर रहा हो. ये भी हो सकता है कि हरियाणा से लगतीं दिल्ली की जाट बहुल सीटों पर लोगों को लुभाने का दांव हो. लेकिन यह तय मानिए कि दिल्ली में अब स्थानीय वाला मुद्दा नहीं है. यहां हर जगह के लोग रहते हैं. जब हर्षवर्धन, विजय गोयल और मनोज तिवारी जैसे नेता केजरीवाल के सामने फेल साबित होते दिख रहे हैं तो फिर प्रवेश वर्मा क्या करेंगे?"

शाह ने क्या कहा?
पूर्वी दिल्ली के कड़कड़डूमा में ईस्ट दिल्ली हब का शिलान्यास करने पहुंचे अमित शाह ने कहा ''पांच साल का लेखा जोखा लेकर मैं उनको (अरविंद केजरीवाल) कहना चाहता हूं कि दिल्ली का कोई भी सार्वजनिक स्थान तय कर लो भारतीय जनता पार्टी का सांसद प्रवेश वर्मा आपके साथ चर्चा करने के लिए उपलब्ध हो जाएगा. भारत सरकार ने क्या किया दिल्ली सरकार ने क्या किया.''

आम आदमी पार्टी ने पूछा-बीजेपी का सीएम उम्मीदवार कौन?
डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने सवाल उठाए कि पहले बीजेपी यह तय तो कर ले कि दिल्ली में उसका मुख्यमंत्री उम्मीदवार है कौन? सिसोदिया बोले ''पहले वह (अमित शाह) बता तो दें वह प्रवेश वर्मा जी को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बना रहे हैं या मनोज तिवारी जी को बना रहे हैं. पहले तय तो कर लें.''

Manish Sisodia, Chief Minister of Delhi, manoj tiwari, bjp, ongress, मनीष सिसोदिया, दिल्ली के मुख्यमंत्री, मनोज तिवारी, बीजेपी, कांग्रेस, delhi assembly election, delhi news, News18 India Chaupal, arvind kejriwal, citizenship amendment act, modi government, दिल्ली समाचार, न्यूज़ 18 इंडिया चौपाल, अरविंद केजरीवाल, नागरिकता संशोधन कानून, मोदी सरकार

आम आदमी पार्टी ने पूछा-बीजेपी का सीएम उम्मीदवार कौन? (file photo)


बीजेपी ने बांटी जिम्मेदारी
बीजेपी ने अपने दिल्ली के नेताओं के लिए चुनावी काम बांट दिया है. इसके तहत पूर्वांचल से जुड़े लोगों पर प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी फोकस करेंगे. युवाओं पर गौतम गंभीर, अनुसूचित जाति के मसले सांसद हंसराज हंस, ओबीसी मुद्दे प्रवेश वर्मा देखेंगे. महिलाओं से जुड़ी समस्याओं को मीनाक्षी लेखी जबकि व्यापारियों से जुड़ी समस्या विजय गोयल देखेंगे.

ये भी पढ़ें: लोकल या नेशनल, किन मुद्दों पर लड़ा जाएगा चुनाव?

CAA: मुस्लिम बहुल मेवात में धरना, प्रदर्शन पर रोक, नई रणनीति बना रहे मेव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 27, 2019, 3:42 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर