Home /News /delhi-ncr /

क्यों मुश्किल है PM मोदी का पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के अंतिम संस्कार में शामिल होना?

क्यों मुश्किल है PM मोदी का पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली के अंतिम संस्कार में शामिल होना?

Arun Jaitley Death News: पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) का शनिवार को लंबी बीमारी के बाद दिल्‍ली के एम्स (AIIMS) में निधन हो गया. लेकिन पीएम मोदी का जेटली की अंतिम संस्कार में शामिल होना मुश्किल लग रहा है.

Arun Jaitley Death News: पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) का शनिवार को लंबी बीमारी के बाद दिल्‍ली के एम्स (AIIMS) में निधन हो गया. लेकिन पीएम मोदी का जेटली की अंतिम संस्कार में शामिल होना मुश्किल लग रहा है.

Arun Jaitley Death News: पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) का शनिवार को लंबी बीमारी के बाद दिल्‍ली के एम्स (AIIMS) में निधन हो गया. लेकिन पीएम मोदी का जेटली की अंतिम संस्कार में शामिल होना मुश्किल लग रहा है.

    भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party/BJP) के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली (Arun Jaitley) का शनिवार को लंबी बीमारी के बाद दिल्‍ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में निधन हो गया. जेटली ने एम्स में आखिरी सांस ली. अरुण जेटली के निधन की खबर पाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने दुख की इस घड़ी में अरुण जेटली के परिजनों से फोन पर बात की. लेकिन ऐसे कयास लगाए रहे हैं कि रविवार को अरुण जेटली के अंतिम संस्कार में पीएम मोदी शामिल नहीं होगें.

    बता दें, अरुण जेटली का पार्थिव शरीर कल यानी रविवार को बीजेपी के राष्ट्रीय कार्यालय पर 10 बजे लाया जाएगा. जेटली का अंतिम संस्कार, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली स्थित निगमबोध घाट पर किया जाएगा.

    ये हो सकती है वजह
    अरुण जेटली के अंतिम संस्कार में पीएम मोदी के शामिल न होने के पीछे की वजह जेटली के परिजनों की पीएम मोदी से दौरा रद्द न करने की अपील को माना जा सकता है. सूत्रों के मुताबिक, फोन पर बातचीत के दौरान अरुण जेटली के बेटे रोहन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा कि आप देश को आगे बढ़ाने के लिए बाहर गए हैं, इसलिए हो सके तो अपना दौरा रद्द न करें. उन्होंने कहा कि देश सबसे पहले है इसलिए आप अपनी यात्रा पूरी करें, उसके बाद ही भारत वापस लौटें.

    ये है मोदी का विदेश में कार्यक्रम
    बता दें, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 अगस्त से 27 अगस्त के बीच होने वाले फ्रांस, बहरीन, यूएई और जी-7 की बैठक में शामिल होंगे. पीएम मोदी फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के निमंत्रण पर वहां जाएंगे. इस यात्रा के दौरान पीएम इन देशों के शीर्ष नेताओं के साथ द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और परस्पर हित के वैश्विक मुद्दों पर व्यापक चर्चा करेंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23-24 अगस्त, 2019 को UAE के दौरे पर होंगे, जहां पीएम मोदी आपसी हित के द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मामलों पर चर्चा करने के लिए अबू धाबी के क्राउन प्रिंस, शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान से मुलाकात करेंगे.



    इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 24-25 अगस्त, 2019 को बहरीन का भी दौरा करेंगे. इस खाड़ी देश की भारत के किसी प्रधानमंत्री की पहली यात्रा होगी. यूएई और बहरीन की यात्रा पूरी करने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 25 अगस्त को फिर फ्रांस के बियारेत्ज जाएंगे, जहां वे रात्रि भोज में भी हिस्सा लेंगे. वे शिखर सम्मेलन में ‘असमानता से मुकाबला’ विषय पर भी अपने विचार रखेंगे.

    पीएम मोदी ने ट्वीट कर जताया दुख
    इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अरुण जेटली के निधन पर ट्वीट कर शोक व्यक्त किया. पीएम मोदी ने लिखा, 'अरुण जेटली जी एक राजनीतिक दिग्गज थे, जो बौद्धिक और कानूनी रूप से मजबूत थे. वह एक मुखर नेता थे जिन्होंने भारत में स्थायी योगदान दिया. उनका निधन बहुत दुखद है. उनकी पत्नी संगीता जी के साथ-साथ बेटे रोहन से भी बात की और संवेदना व्यक्त की.शांति.'

    ये भी पढ़ें-

    पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का लंबी बीमारी के बाद AIIMS में निधन

    अरुण जेटली के बेटे ने PM मोदी से कहा- आप देश के लिए बाहर गए हैं, दौरा रद्द न करें

    Tags: Arun Jaitely, Arun jaitley, BJP, Narendra modi, Pm narendra modi

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर