Rain in Delhi-NCR: दिल्‍ली-NCR में फिर बारिश, शीतलहर का अलर्ट, जानें कब ठंड से मिलेगी राहत

दिल्ली के कई इलाकों में अभी बारिश हो रही है. (फाइल फोटो)

दिल्ली के कई इलाकों में अभी बारिश हो रही है. (फाइल फोटो)

Rain in Delhi-NCR: मौसम विभाग (IMD) ने दिल्ली और एनसीआर के कुछ इलाकों में अगले 2-3 घंटों में बारिश (Rain) की संभावना जताई थी. मौसम विभाग ने 5 जनवरी तक बारिश और फिर उसके बाद शीतलहर (Cold wave) की चेतावनी जारी की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 6, 2021, 5:09 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) के कई हिस्सों में सोमवार को आसमानी गरज के साथ बारिश (Rain) की हल्की फुहार देखने को मिली. जिसके कारण मौसम (Weather) और भी सर्द हो गया. हालांकि बारिश इतनी तेज नहीं थी कि तापमान (Temperature) में तेजी से गिरावट आ सके. जबकि मौसम विभाग ने दिल्‍ली-एनसीआर में 5 जनवरी तक बारिश और उसके बाद शीतलहर का अलर्ट जारी किया है. वहीं 7 जनवरी के बाद यहां के तापमान में गिरावाट आ सकती है. जिसके कारण ठंड बढ़ने की संभावना है.

भारतीय मौसम विभाग (India Meteorological Department) ने आज दोपहर को ही संभावना जताई थी कि अगले दो-तीन घंटे में दिल्ली में आसमानी गर्जना के साथ बारिश हो सकती है. शाम पांच बजे तक दिल्ली के कई इलाकों में बारिश जारी रही. आसमान में बादल छाए हुए हैं इसके कारण भी लोगों को गलन से फिलहाल राहत है. इसके अलावा बारिश और तेज हवाओं की वजह से राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) के प्रमुख शहरों- नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद (Ghaziabad), फरीदाबाद में वायु प्रदूषण का स्तर सोमवार को काफी कम हो गया. हवा की गुणवत्ता बेहतर होने से एनसीआर के ज्यादातर शहर ‘ग्रीन जोन’ में पहुंच गए हैं. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के प्रदूषण सूचकांक ऐप ‘समीर’ के अनुसार सोमवार को वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) ग्रेटर नोएडा में 134, नोएडा में 136 और गाजियाबाद में 122 दर्ज किया गया.



Youtube Video

उत्तर भारत में पांच जनवरी तक बारिश का अनुमान

उत्तर भारत में पांच जनवरी तक भारी बारिश का अनुमान है. साथ ही अलग-अलग स्थानों पर बारिश के अलावा ओलावृष्टि भी हो सकती है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने रविवार को यह जानकारी दी थी.

आईएमडी के मुताबिक, इस तरह की मौसमी गतिविधियां मैदानी इलाकों (पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान) में रविवार और सोमवार को जबकि सोमवार से पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र (जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड) में चरम पर रहेंगी. विभाग ने कहा कि बारिश के बाद उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानी भागों में उत्तरी-उत्तरी पश्चिमी हवाओं के चलने का अनुमान है, जिसके चलते सात जनवरी से पंजाब, हरियाणा और उत्तरी राजस्थान के दूर-दराज के स्थानों पर जबरदस्त शीतलहर चलने की संभावना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज