• Home
  • »
  • News
  • »
  • delhi-ncr
  • »
  • साड़ी विवाद: महिला आयोग ने पुलिस कमिश्नर से कहा- एक्शन लें, रेस्टोरेंट के मार्केटिंग डायरेक्टर को भेजा समन

साड़ी विवाद: महिला आयोग ने पुलिस कमिश्नर से कहा- एक्शन लें, रेस्टोरेंट के मार्केटिंग डायरेक्टर को भेजा समन

दिल्ली के एक रेस्टोरेंट में साड़ी विवाद अब तूल पड़कता जा रहा है.

दिल्ली के एक रेस्टोरेंट में साड़ी विवाद अब तूल पड़कता जा रहा है.

Delhi Sari controversy: दिल्ली में साड़ी पहनकर पहुंची महिला को रेस्टोरेंट में एंट्री नहीं दी गई, अब इस पर विवाद बढ़ गया है. महिला आयोग ने दिल्ली के पुलिस आयुक्त को पत्र लिखकर मामले में जांच करने और एक्शन के लिए कहा है.

  • News18.com
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्ली. साउथ दिल्ली के एक रेस्टोरेंट में महिला द्वारा साड़ी पहने होने के कारण एंट्री न दिये जाने के मामले ने अब तूल पकड़ लिया है. दरअसल ये मामला डिफेंस कॉलोनी के अंसल प्लाजा मॉल (Ansal Plaza Mall) के एक रेस्टोरेंट का है. जिस पर एक महिला पत्रकार ने साड़ी पहने होने की वजह से एंट्री ना देने का आरोप लगाया है. पत्रकार अनीता चौधरी (Journalist Anita Chaudhary) ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट (Viral Video) के जरिये आरोप लगाया कि उन्हें बीते रविवार यानि 19 सितंबर को अंसल प्लाजा में एक्विला रेस्टोरेंट (Delhi Aquila Restaurant) में सिर्फ़ इसलिये एंट्री नहीं दी गयी क्योंकि उन्होंने साड़ी पहनी हुई थी. इसमें महिला पत्रकार ने लिखा है कि इस रेस्टोरेंट की गेट मैनेजर ने उन्हें कहा कि साड़ी स्मार्ट आउटफ़िट में नहीं आती है इसलिये एंट्री नहीं दी जा सकती.

वहीं, इस मामले में अब राष्ट्रीय महिला आयोग (National Women Commission) ने भी संज्ञान लेते हुये दिल्ली पुलिस कमिश्नर को एक चिट्ठी लिखी है और कहा है कि इस पूरे मामले की जांच कर उचित कार्यवाही की जाए, साथ ही महिला आयोग ने रेस्टोरेंट के मार्केटिंग डायरेक्टर को 28 सितंबर के लिये समन भी भेजा है.

दरअसल ये महिला पत्रकार अपनी बेटी का बर्थडे सेलिब्रेट करने अपने पति और बेटी के साथ इस रेस्टोरेंट में गयी थी. इस मामले से जुड़ा एक वीडियो भी अनीता चौधरी ने सोशल मीडिया पर अपलोड किया है. सोशल मीडिया पर इसे अपलोड करते हैं इसको लेकर लोगों की काफ़ी प्रतिक्रियायें भी सामने आने लगी है, और ये अब खूब वायरल हो चुका है. महिला ने कहा कि हमारे देश में अगर साड़ी को स्मार्ट आउटफ़िट नहीं माना जाता तो हमारी सभ्यता का क्या. महिला पत्रकार ने कहा कि ये सिर्फ़ उनकी लड़ाई नहीं है बल्कि साड़ी की लड़ाई है और रेस्टोरेंट की तरफ़ से सिर्फ़ झूठ बोला जा रहा है.

रेस्टोरेंट ने पूरे मामले को गलत तरीके से पेश करने का आरोप लगाया

हालांकि दूसरी तरफ़ इस रेस्टोरेंट ने भी इस पूरे मामले को ग़लत तरीक़े से पेश करने का आरोप लगाया है. रेस्टोरेंट ने भी अपना पक्ष रखने के लिये सोशल मीडिया का सहारा लिया और इंस्टाग्राम पर लिखा कि महिला का आरोप पूरी तरह बेबुनियाद है. महिला ने लंबी बातचीत का सिर्फ़ कुछ हिस्सा ही सोशल मीडिया पर अपलोड किया है. रेस्टोरेंट ने अपनी सफ़ाई में लिखा कि ये महिला अपनी बुकिंग टाइम से देरी से पंहुची थी जिसके बाद रेस्टोरेंट में अंदर जगह न होने के कारण उन्हें गेट मैनेजर ने कुछ देर इंतज़ार करने के लिये कहा लेकिन महिला ने रेस्टोरेंट में जबरन एंट्री ली. कर्मचारियों से झगड़ना शुरू कर दिया. इस दौरान इस महिला ने रेस्टोरेंट के एक मैनेजर को थप्पड़ भी मारा.

रेस्टोरेंट ने मैनेजर को थप्पड़ मारने की CCTV फुटेज जारी किया

रेस्टोरेंट ने अपनी इस सफ़ाई में एक सीसीटीवी फ़ुटेज भी सोशल मीडिया पर अपलोड की है, इसके साथ ही एक अलग वीडियो भी अपलोड किया है. जिसमें ये बताने की कोशिश की है कि उनके यहां साड़ी पहनकर भी महिलाएं आती रहती है. रेस्टोरेंट ने कहा कि जहां तक बात गेट मैनेजर के इस बयान से है कि साड़ी स्मार्ट आउटफ़िट नहीं है वो तब कहा गया जब काफ़ी देर तक महिला पत्रकार झगड़ती रही और उनसे पीछा छुड़ाना मुश्किल हो गया था. हालांकि रेस्टोरेंट के महिला द्वारा थप्पड़ मारे जाने के आरोप पर भी महिला पत्रकार ने सफ़ाई दी और कहा कि जो सीसीटीवी वीडियो दिखाया जा रहा है. वो पीछे की तरफ़ से है सामने की तरफ़ से देखेंगे तो उसमें वो मैनेजर का मास्क हटा रही थी. ताकि उनको साफ़ तरीक़े से सुनाई दे सके कि वो क्या बोल रहे है, मास्क हटाने को थप्पड़ मारना बताया जा रहा है.

जानें क्‍या है मामला?
दक्षिण दिल्ली के अंसल प्लाजा के एक रेस्टोरेंट में घटित यह घटना 19 सितम्बर की है, जिसके वीडियो से यह पता चलता है कि रेस्टोरेंट में काम करने वाली कुछ महिलाएं अनीता चौधरी को रेस्टोरेंट के अंदर दाखिल होने से यह कहते हुए रोक रही हैं कि साड़ी ‘स्मार्ट कैजुअल’ ड्रेस कोड के तहत नहीं है, इसीलिए आपको अंदर जाने नहीं दिया जाएगा. महिला कर्मचारियों द्वारा रोके जाने पर पत्रकार ने इसे लिखित में देने को कहती हैं. अनीता ने यह वीडियो 20 सितम्बर को अपने फेसबुक पर शेयर किया है. उन्होंने लिखा है, ‘कल साड़ी की वजह से मेरा जो अपमान किया गया है वो अभी तक का सबसे बड़ा अपमान है और दिल दहला देने वाला है.’

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज