लाइव टीवी

हाथ जोड़ कर रुकने की अपील करती रहीं महिला अफसर, फिर भी वकीलों ने की बदसलूकी, देखें नया Video

News18Hindi
Updated: November 8, 2019, 2:25 PM IST
हाथ जोड़ कर रुकने की अपील करती रहीं महिला अफसर, फिर भी वकीलों ने की बदसलूकी, देखें नया Video
महिला पुलिस अफसर को बचाने के फेर में कई पुलिसकर्मी भी घायल हो गए. जहां एक तरफ राजीव भारद्वाज के सिर में चोट लगी, वहीं कुछ कॉन्‍स्टेबल भी गंभीर तौर पर घायल हो गए.

तीस हजारी कोर्ट परिसर (Tis Hazari Court) 300 से 400 वकीलों ने 4 पुलिसकर्मियों को घेर कर पीटा, दो कॉन्‍स्टेबल गंभीर घायल, महिला पुलिस अधिकारी को कहे अपशब्द, अब राष्ट्रीय महिला आयोग ने लिया संज्ञान.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 8, 2019, 2:25 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) के तीस हजारी कोर्ट (Tees Hazari Court) में हुए बवाल के बाद अब एक वीडियो (Video) सामने आया है. इस वीडियो में एक महिला पुलिस अधिकारी पर वकीलों की भीड़ ने अचानक हमला कर दिया. इस दौरान महिला अधिकारी उन्हें हाथ जोड़कर शांत होने की अपील करती रही लेकिन भीड़ ने महिला की एक न सुनी और उसके साथ बदसलूकी की. महिला अधिकारी की पहचान डीसीपी मोनिका भारद्वाज (DCP Monika Bharadwaj) के तौर पर हुई है. हिंसा के समय कोर्ट में खड़े वाहनों को भी आग के हवाले कर दिया गया.

जानकारी के अनुसार, अगर पुलिसकर्मियों की एक छोटी टोली मोनिका भारद्वाज को उस दौरान बचाने के लिए नहीं जाती, तो मॉब लिंचिंग (Mob Lynching) का भी खतरा हो सकता था. अब यह वीडियो जांच की एक अहम कड़ी बन गया है. वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि किस तरह से कोर्ट परिसर में ही पुलिस वाहनों को आग लगाई गई और पुलिसकर्मियों के साथ वकीलों ने बदसलूकी की.

महिला पुलिसकर्मी से हो रही थी धक्का-मुक्की
इस दौरान दिल्ली कोतवाली को सूचित किया गया. वहां से एसएचओ राजीव भारद्वाज के साथ करीब 12 पुलिसकर्मी मौके पर पहुंचे. यहां पहुंचते ही उनके होश उड़ गए. भीड़ मोनिका भारद्वाज पर हमला करने ही वाली थी. उनके साथा धक्का मुक्की हो रही थी. वे हाथ जोड़ कर लोगों से शांत होने की अपील कर रही थीं. लेकिन भीड़ को उग्र होते देख भारद्वाज और उनके साथ मौजूद पुलिसकर्मियों ने पहले मोनिका भारद्वाज को बचाने की कोशिश की और भीड़ को रोका. यदि वे समय पर नहीं पहुंचते तो मॉब लिंचिंग जैसी वारदात भी हो सकती थी.


Loading...



घायल हुए कई पुलिसवाले
महिला पुलिस अफसर को बचाने के फेर में कई पुलिसकर्मी भी घायल हो गए. जहां एक तरफ राजीव भारद्वाज के सिर में चोट लगी, वहीं कुछ कॉन्‍स्टेबल भी गंभीर तौर पर घायल हो गए. एक कॉन्‍स्टेबल को कान का पर्दा इस दौरान फट गया, जिसके चलते उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती करवाया गया.



पुलिसकर्मी का ऑडियो क्लिप भी आया सामने
तीस हजारी में शनिवार को हुए इस बवाल के बाद एक 5 मिनट का ऑडियो क्लिप भी अब सामने आया है. इस ऑडियो क्लिप में घायल कॉन्‍स्टेबल ने कहा कि महिला पुलिस अधिकारी को सैकड़ेां की संख्या में वकीलों ने घेर लिया. इस दौरान उन्हें अपशब्द कहे गए और बदसलूकी भी की गई. वकीलों की भीड़ ने एक अन्य अधिकारी की रिवॉल्वर भी छीनने का प्रयास किया. वहीं एक अन्य पुलिस अधिकारी पर कुर्सियां फेंकी गईं, उसको इस हद तक पीटा गया कि वह बेहोश होकर गिर गया.

वहीं, जब इस पूरे घटनाक्रम को लेकर एक बैठक चल रही थी तो महिला पुलिस अधिकारी टूट गईं और वारदात को याद कर रोने लगीं. बताया गया है कि यह ऑडियो क्लिप घायल कॉन्‍स्टेबल और महिला अधिकारी के बीच हुई बातचीत को लेकर थी.

'हम 4 थे वे 400'
घायल कॉन्‍स्टेबल ने बताया कि मैं मैडम को बचाने की कोशिश कर रहा था, भीड़ ने उन्हें घेर रखा था और अपशब्द कह रही थी. इसके बाद उनके साथ बदसलूकी की गई. उनकी वर्दी को भी खींचा गया. जब मैं उनके पास जाकर बचाने का प्रयास कर रहा था उसी दौरान किसी ने मेरी पिस्टल छीनने की कोशिश की.

कॉन्‍स्टेबल ने बताया कि भीड़ बढ़ती गई और करीब 400 वकीलों ने हम पर हमला बोल दिया. हम उस समय तक 4 पुलिसकर्मी ही वहां पर मौजूद थे. उन लोगों ने हम पर लोहे की कुर्सियों से हमला किया. मैंने अपनी पिस्टल को लॉक किया और बेल्ट में डालने की कोशिश की. इसी दौरान मुझे किसी ने पीछे से मारा और मैं गिर गया. इसके बाद मेरे मुंह पर लातें मारी गईं.

 



महिला आयोग ने लिया संज्ञान
पूरे मामले पर अब राष्ट्रय महिला आयोग ने संज्ञान ले लिया है. महिला आयोज्ञ की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने इस संबंध में बार काउंसिल ऑफ इंडिया के चेयरमैन मनन कुमार मिश्रा को शुक्रवार को एक पत्र लिखकर महिला अधिकारी पर हमला करने वाले अफसरों पर सख्त कार्रवाई की मांग की है.

ये भी पढ़ेंः महिला आयोग ने डीसीपी मोनिका भारद्वाज संग हाथापाई केस में लिया ये एक्शन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दिल्ली-एनसीआर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 8, 2019, 2:09 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...