देशभर में सरकार ने बनाए क्रेच, कामकाजी माएं सिर्फ 20 रुपये म‍हीना देकर रख सकती हैं बच्‍चे

नेशनल क्रेच स्‍कीम के तहत बने इन क्रेच में 20 रुपये महीने में बच्‍चे रख सकती हैं कामकाजी माएं. फोटो सौ. (मनी कंट्रोल)

नेशनल क्रेच स्‍कीम के तहत बने इन क्रेच में 20 रुपये महीने में बच्‍चे रख सकती हैं कामकाजी माएं. फोटो सौ. (मनी कंट्रोल)

नेशनल क्रेच स्‍कीम के तहत बने इन डे केयर सेंटर में गरीबी रेखा से नीचे आने वाली मां को अपने बच्‍चे को रखने के लिए 20 रुपये प्रति महीना चुकाना होगा. इसके साथ ही 12 हजार रुपये से कम कमाने वाले परिवार को 100 रुपये महीना देना होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 21, 2021, 2:49 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. कामकाजी महिलाओं (Working Women) के लिए केंद्र सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय (Ministry of women and child development) की ओर से सरकारी क्रेच बनाए गए हैं. नेशनल क्रेच स्‍कीम (National Creche Scheme) के तहत बने इन सरकारी डे केयर (Day Care) में माएं अपने छह महीने से छह साल तक के बच्‍चों को रख सकती हैं. इतना ही नहीं इन क्रेच (Creche) में कई ऐसी सुविधाएं भी हैं जो बच्‍चों के विकास के लिए जरूरी हैं.

सबसे खास बात है कि ये क्रेच उन बीपीएल परिवारों (BPL Families) की महिलाओं के लिए भी हैं जो कामकाजी हैं और अपने छोटे-बच्‍चों को छोड़कर काम पर जाती हैं. वहीं इन क्रेच का किराया भी काफी कम है. बीपीएल परिवार की माएं सिर्फ 20 रुपये महीना देकर इन क्रेच में अपने बच्‍चों को रख सकती हैं.

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की ओर से मिले आंकड़ों के मुताबिक देश के लगभग सभी राज्‍यों में नेशनल क्रेच स्‍कीम (पहले राजीव गांधी नेशनल क्रेच स्‍कीम) के तहत डे केयर हैं. जहां बच्‍चों को रखने की सुविधा भी शुरू हो चुकी है. केंद्र सरकार की इस स्‍कीम के तहत 6453 क्रेच चल रहे हैं. हालांकि राजीव गांधी नेशनल क्रेच स्‍कीम के तहत बने क्रेच को मिलाकर भारत में कुल 21012 क्रेच हैं. अकेले यूपी में 1724 सरकारी डे केयर सेंटर हैं, जहां पर बच्‍चों को रखा जा रहा है.

वहीं दिल्‍ली में कुल 167 ऐसे सेंटर हैं. मंत्रालय की एक अधिकारी के मुताबिक ये सभी सेंटर सरकारी भवनों या बिल्डिंगों में बने हुए हैं. जहां कामकाजी महिलाएं अपने बच्‍चों को छोड़ती हैं. छह महीने से छह साल के बच्‍चों को महीने में 26 दिन साढ़े सात घंटे के लिए रखा जाता है. वहीं यहां की कीमतें केंद्र सरकार की गाइडलाइंस के अनुसार हैं.
बताया गया कि सबसे ज्‍यादा क्रेच 2321 मध्‍य प्रदेश में हैं जबकि सबसे कम 12 लक्षद्वीप में हैं. गुजरात में 1138, हरियाणा में 463, महाराष्‍ट्र में 1845, पंजाब में 216, राजस्‍थान में 559 और बिहार में इनकी संख्या 233 है.

20 रुपये महीना देकर इन्‍हें मिलेगा लाभ

इस स्‍कीम की गाइडलाइंस के अनुसार गरीबी रेखा से नीचे आने वाली मां को बच्‍चे को रखने के लिए 20 रुपये प्रति महीना चुकाना होगा. इसके साथ ही 12 हजार रुपये से कम कमाने वाले परिवार को 100 रुपये महीना देना होगा. वहीं 12 हजार रुपये से ज्‍यादा कमाने वाले परिवार को एक बच्‍चे का 200 रुपये प्रति महीना भुगतान करना होगा. वहीं साढ़े सात घंटे से ज्‍यादा समय के लिए बच्‍चे को रखने के लिए तय नियमानुसार भुगतान करने की भी सुविधा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज