होम /न्यूज /दिल्ली-एनसीआर /इस साल के सबसे ऊंचे जलस्तर को यमुना ने किया पार, निचले इलाकों में बाढ़ का खतरा

इस साल के सबसे ऊंचे जलस्तर को यमुना ने किया पार, निचले इलाकों में बाढ़ का खतरा

दिल्ली के निचले इलाकों में बाढ़ का खतरा. (ANI)

दिल्ली के निचले इलाकों में बाढ़ का खतरा. (ANI)

Delhi Flood News: दिल्ली में यमुना नदी के पास के निचले क्षेत्रों में बाढ़ का खतरा बढ़ गया है. इन इलाकों में लगभग 37,000 ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

यमुना नदी का जलस्तर 205. 33 मीटर के खतरे के निशान से ऊपर.
206.11 मीटर के पार यमुना का जलस्तर,निचले क्षेत्रों में अलर्ट घोषित.
लगातार बारिश के बाद इस साल अब तक का सबसे अधिक जलस्तर.

नई दिल्ली (PTI). भारी बारिश के बाद यमुना नदी का जलस्तर 205.33 मीटर के खतरे के निशान से ऊपर 206.11 मीटर तक पहुंच गया है. बाढ़ के खतरे की आशंका को देखते हुए निचले क्षेत्रों में रहनेवाले लोगों के लिए अलर्ट घोषित कर दिया गया है. अधिकारियों ने मंगलवार को बताया कि ऊपरी जलग्रहण क्षेत्रों में लगातार बारिश के बाद इस साल अब तक का सबसे अधिक जलस्तर है.

पूर्वी दिल्ली के डीएम अनिल बांका ने कहा कि जलस्तर 206 मीटर के स्तर को पार करने के बाद मंगलवार सुबह अलर्ट जारी किया गया. उन्होंने कहा, “नदी के किनारे निचले इलाकों में रहनेवाले लोगों को खाली कराया जा रहा है और ऊंचे स्थानों पर भेजा जा रहा है. सरकारी स्कूलों और आसपास के रैन बसेरों में इनके ठहरने की व्यवस्था की गई है” बांका ने कहा कि जल स्तर में और वृद्धि के बारे में लोगों को सावधान करने के लिए घोषणाएं की जा रही हैं.

बता दें कि दिल्ली में नदी के पास के निचले क्षेत्रों में बाढ़ आती रही है. ऐसे क्षेत्रों में लगभग 37,000 लोगों के घर हैं. दो महीने के भीतर यह दूसरी बार है जब निचले इलाकों में बाढ़ के कारण लोगों को निकाला जा रहा है. गौरतलब है कि यमुना ने 12 अगस्त को 205.33 मीटर के खतरे के निशान को पार कर लिया था, जिसके बाद लगभग 7,000 लोगों को नदी के किनारे के निचले इलाकों से निकाला गया था.

दिल्ली बाढ़ नियंत्रण कक्ष ने कहा कि पुरानी दिल्ली रेलवे पुल पर मंगलवार सुबह 5.45 बजे जल स्तर 206 मीटर को पार कर गया. सुबह 8 बजे तक यह 206.16 मीटर हो गया. हालांकि, अनुमान लगाया जा रहा है कि दोपहर 3 बजे से शाम 5 बजे के बीच जल स्तर बढ़कर 206.5 मीटर हो सकता है. अधिकारियों ने हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से सुबह 7 बजे लगभग 96,000 क्यूसेक पानी छोड़ने की सूचना दी. बता दें कि सोमवार सुबह छह बजे डिस्चार्ज रेट 2,95,212 क्यूसेक था, जो इस साल अब तक का सबसे ज्यादा है.

Tags: Delhi news, New Delhi news, Rain in Delhi NCR

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें