UP Roadways -होली पर रोडवेज बसों की छत पर बैठ नहीं कर पाएंगे सफर, तय ढाबों के अलावा कहीं और रुकने पर मनाही

बसों की जांच के लिए टीम तैनात होंगी-सांकेतिक फोटो

बसों की जांच के लिए टीम तैनात होंगी-सांकेतिक फोटो

होली पर गाजियाबाद रीजन से चलने वाली 200 बसों की छत पर बैठकर लोग सफर नहीं कर पाएंगे. उत्‍तर प्रदेश परिवहन निगम ने रास्‍ते में बसों की जांच करने के लिए टीम की तैनाती करने के निर्देश दिए हैं, जो यात्रियों को बसों की छत से नीचे उतारेगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 25, 2021, 7:13 PM IST
  • Share this:
गाजियाबाद. होली पर गाजियाबाद रीजन से चलने वाली 200 बसों की छत पर बैठकर लोग सफर नहीं कर पाएंगे. उत्‍तर प्रदेश परिवहन निगम ने रास्‍ते में बसों की जांच करने के लिए टीम की तैनाती करने के निर्देश दिए  हैं, जो जान जोखिम में डालकर सफर करने वाले यात्रियों को नीचे उतारेगी. इसके अलावा यह भी निर्देश दिए गए हैं कि सफर के दौरान रास्‍ते में पड़ने वाले किसी भी अनाधिकृत ढाबे पर बस नहीं रुकेगी. अगर कहीं बस रुकती हैं तो इसके लिए सहायक क्षेत्रीय प्रबंधनक जिम्‍मदेार होंगे और जवाबदेही होगी. इसलिए बस तय ढाबे या होटल ही पर ही रोकी जाए.

गाजियाबाद के रीजनल मैनेजर एके सिंह ने बताया कि त्‍यौहारों के समय बसों की छत पर सवार होकर लोग यात्रा करते हैं, जो खतरनाक है, इसे रोकने के लिए कई जगह टीम तैनात की जाएगी, जो छतों  से  उतार कर दूसरी बसों के अंदर बैठाएंगे. इसके साथ ही कर्मचारियों की तैनाती की जाएगी जो प्रतीक्षा कर रहे  यात्रियों को आनंद विहार और कौशांबी डिपो से निकलने वाली बसों पर बैठाएंगे. उन्‍होंने बताया कि कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए बस को प्रत्‍येक ट्रिप के बाद सेनेटाइज किया जाएगा.

Youtube Video


डिपो अधिकारियों द्वारा यह भी सुनिश्चित किया जायेगा कि उनके डिपो की बस जो दिल्ली तक संचालित होती है,  होली के  लिए निर्धारित अवधि में प्रत्येक दिन 24 घण्टे में एक बार दिल्ली अवश्य पहुंचेंगी तथा छोटे मार्ग की सेवाओं को यात्रियों की उपलब्धता के अनुसार मार्ग विस्तारित कर संचालन कराया जाए, जिससे यात्रियों को सफर  करने में सुविधा हो सके. डिपो स्तर पर राउण्ड द क्लॉक एक कन्ट्रोल रूम स्थापित किया जाए, जिसमें संचालन की पूर्ण जानकारी रखने वाले कार्मिकों को तैनात किया जाए, जो लगातार   आनन्द विहार, दिल्ली क्षेत्रीय कार्यालय के संपर्क में रहें. इससे  यात्रियों को सही  जानकारी मिल  सकेगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज