लाइव टीवी

दिल्ली में दर्ज रेप के 63 फीसदी मामले पॉक्सो एक्ट के तहत- रिपोर्ट

भाषा
Updated: December 11, 2019, 4:28 AM IST
दिल्ली में दर्ज रेप के 63 फीसदी मामले पॉक्सो एक्ट के तहत- रिपोर्ट
दिल्ली में दुष्कर्म के कुल मामलों में से 63 प्रतिशत मामलों में बच्चों के खिलाफ यौन अपराध किया गया था.

प्रजा फाउंडेशन द्वारा जारी एक बयान के अनुसार दिल्ली में दुष्कर्म के 1,965 मामलों में से 1,237 मामले पॉक्सो अधिनियम (poxo act) के तहत दर्ज हुए थे.

  • Share this:
नई दिल्ली. एक गैर सरकारी संगठन ने दावा किया है कि दिल्ली में 2018-19 के दौरान दर्ज किये गए बलात्कार (Rape) के 1,965 मामलों में से 63 प्रतिशत मामलों में बच्चों के साथ दुष्कर्म (Child molestation) हुआ. प्रजा फाउंडेशन द्वारा जारी एक बयान के अनुसार दुष्कर्म के 1,965 मामलों में से 1,237 मामले पॉक्सो अधिनियम के तहत दर्ज हुए थे.

रिपोर्ट के बयान में कहा गया, 'पॉक्सो अधिनियम के अंतर्गत बच्चों के खिलाफ अपराध के आंकड़ों में हमने पाया कि दिल्ली में दुष्कर्म के कुल मामलों में से 63 प्रतिशत मामलों में बच्चों के खिलाफ यौन अपराध किया गया था.' दिल्ली में 2014-15 से 2018-19 तक बलात्कार के दर्ज मामलों की संख्या में छह प्रतिशत कमी देखी गई जबकि यौन शोषण के मामलों में तीस प्रतिशत की कमी दर्ज की गयी.

गौरतलब है कि दिल्ली में बच्चों के खिलाफ यौन अपराध के कई मामले सामने आ रहे हैं. बीते कुछ महीने पहले दक्षिणी दिल्‍ली के ग्रेटर कैलाश इलाके में एक निजी स्‍कूल में पांच साल की बच्‍ची से रेप का मामला समाने आया था. जिसका दिल्‍ली महिला आयोग ने स्‍वत: संज्ञान लिया था. आयोग ने स्‍कूल और दिल्‍ली पुलिस को नोटिस जारी कर इस मामले में कार्रवाई संबंधी जानकारियां मांगी थी.

दरअसल स्कूल में काम करने वाले सफाईकर्मी पर बच्ची से रेप करने का आरोप था. आयोग ने स्‍कूल को नोटिस जारी कर पूछा था कि घटना को लेकर स्‍कूल प्रशासन को जानकारी थी या नहीं. इसके साथ ही स्‍कूल में रखे गए स्‍टाफ की पुलिस वैरिफिकेशन से संबंधित जानकारियां भी आयोग ने मांगी थी. इसके अलावा यह भी पूछा गया था कि जब घटना को अंजाम दिया गया उस वक्‍त लड़की के साथ कोई टीचर मौजूद था या नहीं.

ये भी पढ़ें:

 दिल्ली अग्निकांड: मुशर्रफ का दोस्त मोनू बोला- मैं उसके बच्चों को पालूंगा...

Delhi Fire: दिल्ली पुलिस ने की फैक्ट्री की 3डी स्कैनिंग, कहीं ये बातें

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2019, 4:28 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर