लाइव टीवी

फर्जी लॉ डिग्री लेकर 68 वकील दिल्ली में कर रहे प्रैक्टिस! बार काउंसिल की रिपेार्ट से खुलासा

News18Hindi
Updated: November 1, 2019, 1:10 PM IST
फर्जी लॉ डिग्री लेकर 68 वकील दिल्ली में कर रहे प्रैक्टिस! बार काउंसिल की रिपेार्ट से खुलासा
दिल्ली बार काउंसिल ने हौज खास थाने में फर्जी डिग्री वाले वकीलों के खिलाफ शिकायत दी है. (Demo Pic)

बार काउंसिल ऑफ इंडिया के सेक्रेटरी विष्णु शर्मा की मानें तो 68 वकीलों की डिग्री के बारे में रिपोर्ट आ गई है और जांच में उन्हें फर्जी बताया गया है. ऐसे 68 फर्जी डिग्री धारी वकीलों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए हौज खास थाने में तहरीर दी गई है. साथ ही आरोपी वकीलों को नोटिस भी जारी किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 1, 2019, 1:10 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. देश का राजधानी दिल्ली (Delhi) में दर्जनों वकील (Advocate) कानून की फर्जी (Law Degree) डिग्री लेकर प्रैक्टिस कर रहे हैं. दिल्ली बार काउंसिल (Bar Council) की रिपोर्ट में यह चौंकाने वाला खुलासा हुआ है. रिपोर्ट के मुताबिक उस यूनिवर्सिटी (University) ने भी लॉ डिग्री के अपने यहां का होने से इनकार कर दिया है जिसका नाम इन फर्जी डिग्रियों पर लिखा है. फर्जी डिग्री वाले वकीलों के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज कराई जा रही है. बार काउंसिल ने थाने में इस संबंध में तहरीर दी है.

ऐसे हुआ फर्जी डिग्री वाले वकीलों का खुलासा

जानकारी के मुताबिक दिल्ली बार काउंसिल में कुछ वकीलों की कानून की डिग्री फर्जी होने की शिकायत आई थी. शिकायत के बाद काउंसिल ने संबंधित वकीलों की डिग्री को वेरिफिकेशन के लिए उन यूनिवर्सिटी को भेज दी जहां से उनके जारी करने की बात कही गई थी. दिल्ली से जुड़े करीब 74 वकीलों की डिग्री जांच के लिए भेजी गई थी. जिनमें से अभी तक 68 वकीलों की रिपोर्ट आ चुकी है. शेष छह वकीलों की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है.

हौज खास थाने में FIR दर्ज करा रही है काउंसिल

बार काउंसिल ऑफ इंडिया के सेक्रेटरी विष्णु शर्मा की मानें तो 68 वकीलों की डिग्री के बारे में रिपोर्ट आ गई है और जांच में उन्हें फर्जी बताया गया है. ऐसे 68 फर्जी डिग्री धारी वकीलों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए हौज खास थाने में तहरीर दी गई है. साथ ही आरोपी वकीलों को नोटिस भी जारी किया गया है.

दिल्ली बार काउंसिल ने ये लैटर जारी किया है


लॉ मिनिस्ट्री में भी उठ चुका है फर्जी वकीलों का मामला
Loading...

बता दें कि वर्ष 2017 में भी बार काउंसिल देश में फर्जी डिग्री या फिर बिना डिग्री वाले वकीलों के मामले को उठा चुकी है. काउंसिल ने कानून मंत्रालय (लॉ मिनिस्ट्री) को पत्र लिखकर कहा था कि एडवोकेट एक्ट 1961 के अनुसार ऐसे वकीलों को दंडित करने की सजा पर फिर से विचार किया जाए. कई बार देखा गया है कि ऐसे लोग कोर्ट में विपरीत हालात पैदा कर देते हैं.

ये भी पढ़ें-

भोपाल में 3 दिन के लिए इकट्ठा हो रहे हैं देशभर के 25 लाख से अधिक मुस्लिम, जानें वजह...

इस दिवाली पर 60 प्रतिशत कम बिका चाइनीज सामान, कैट के सर्वे में हुआ खुलासा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 1, 2019, 12:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...