दिल्ली में पिटाई के चलते लड़के की मौत, पिता का आरोप- मुसलमान समझकर पीटा

News18Hindi
Updated: September 4, 2019, 9:20 PM IST
दिल्ली में पिटाई के चलते लड़के की मौत, पिता का आरोप- मुसलमान समझकर पीटा
दिल्ली के मौजपुर में एक लड़की की पिटाई के चलते मौत हो गई है (फाइल फोटो)

दिल्ली (Delhi) में एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें भीड़ ने एक शख्स की पीट-पीटकर हत्या कर दी. आरोप है कि 31 अगस्त की रात 10 बजे साहिल नाम के इस शख्स की पीट-पीटकर हत्या (Beaten to Death) कर दी गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 4, 2019, 9:20 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली (Delhi) में एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें भीड़ ने एक शख्स की पीट-पीटकर हत्या कर दी. आरोप के मुताबिक 31 अगस्त की रात 10 बजे साहिल नाम के इस शख्स की पीट-पीटकर हत्या (Beaten to Death) कर दी गई थी. कहा जा रहा है कि साहिल को सिर्फ इसलिए पीट-पीटकर मार दिया गया क्योंकि वह पंडितों की गली में चला गया था.

आज तक की एक ख़बर के मुताबिक दिल्ली के मौजपुर (Maujpur, Delhi) के आदर्श मोहल्ले का रहने वाला साहिल अपने दोस्तों की मदद के लिए गया था, जब ऐसा हुआ. दरअसल साहिल के दोस्त गली नंबर 5 विजय पार्क, मौजपुर से गुजर रहे थे, तभी चंद्रभान नाम के शख्स, उसके बेटे आयुष, बंटी और वहां मौजूद दूसरे लोगों ने साहिल के दोस्तों को रोका. वे सभी स्कूटी पर थे. लोगों ने उन्हें रोककर कहा कि इस गली में कैसे घुस आए हो? कथित तौर पर उन्होंने कहा कि यह पंडितों की गली है और तुम लोग कौन हो? इसके बाद वे मारपीट करने लगे.

दोस्तों को बचाने गया था साहिल
कथित तौर पर अपने दोस्तों के साथ मारपीट की जानकारी मिलते साहिल गली नंबर- 5 में पहुंच गया. उसने चंद्रभान और उसके रिश्तेदारों से ऐसा न करने को कहा. लेकिन चंद्रभान के रिश्तेदारों ने यह बात नहीं मानी और वे लगातार पंडितों की गली वाली बात दोहराते रहे और फिर से उन्होंने मारपीट शुरू कर दी.

साहिल को इतनी बुरी तरह से पीटा गया था कि वह अधमरा हो गया. वह किसी तरह से अपने घर पहुंच सका. घर पहुंचते ही उसने दम तोड़ दिया. घर पहुंचने के बाद उसने सांस लेने में तकलीफ होने की बात कही थी और थोड़ी ही देर में उसकी जान चली गई.

पिता का आरोप, मुसलमान समझकर पीटा गया
साहिल की मां सुनीता ने इस मामले में न्याय की मांग की है. उन्होंने आरोप लगाया है कि इस मामले में चंद्रभान, उसका बेटा आयुष, बंटी, साहू और तमाम लोग शामिल हैं, उन सभी को गिरफ्तार किया जाना चाहिए. हालांकि पुलिस ने आयुष और चंद्रभान को तो गिरफ्तार कर लिया है. वहीं साहिल के पिता ने आरोप लगाया है कि इन लोगों ने उसे मुस्लिम (Muslim) समझकर पीट दिया और वह सभी लोग शराब के नशे में थे. उन्होंने यह भी कहा है कि परिवार इस मामले में पुलिस की कार्रवाई से संतुष्ट नहीं है.
Loading...

मृत साहिल सिंह की मां संगीता सिंह ने बताया है कि उनका बेटा घर में अकेला कमाने वाला था क्योंकि उसके पिता बीमार रहते हैं, उन्हें दिल की बीमारी है. उनके दो बच्चे और हैं- एक बेटी, अंजलि और एक बेटा, आदित्य.

अभी आदित्य की उम्र मात्र 13 साल है और उनकी बेटी अंजलि सरकारी नौकरी के लिए कॉम्पटीशन की तैयारी कर रही है. साहिल के पिता सुनील सिंह का बिल्डिंग मैटेरियल का कारोबार है. फिलहाल साहिल ही उनका काम संभाल रहा था.

मां की गोद में तोड़ा दम
साहिल की मां ने कहा है कि उनका बेटा भागकर उनके पास आया था. उसे किसी ने बुरी तरह पीटा था. उसने अपनी बहन से बोला कि वह सांस नहीं ले पा रहा है. फिर मेरी (अपनी मां की) गोद में लेटकर बोला कि मम्मा, मुझे पांच नंबर वाली गली में बहुत मारा गया. सुनीता ने कहा कि इतना कहकर ही साहिल ने मेरी गोद में दम तोड़ दिया. मेरा बेटा 23 साल का, मुझे छोड़कर चला गया और मैं कुछ नहीं कर पाई.

परिजन उसे अस्पताल भी ले गए लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी. इस मामले में पुलिस ने आरोपी चंद्रभान को गिरफ्तार कर लिया है. जबकि उसके दो नाबालिग बेटे भी हिरासत में लिए गए हैं. बाकी आरोपियों की तलाश भी जारी है. हालांकि एक रिपोर्ट में पुलिस ने इस मामले में किसी भी सांप्रदायिक नजरिये की बात से इंकार किया है.

यह भी पढ़ें: नाबालिग से गैंगरेप की कई हफ्ते तक नहीं लिखी रिपोर्ट, SO लाइन हाजिर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 4, 2019, 8:45 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...