इमारत की चौथी मंजिल पर चढ़ गया सांड, फिर उसने लगाई छलांग तो हुआ ये...

News18Hindi
Updated: August 31, 2019, 12:56 PM IST
इमारत की चौथी मंजिल पर चढ़ गया सांड, फिर उसने लगाई छलांग तो हुआ ये...
बेसुध जानवर चौथी मंजिल पर चढ़ गया और उससे भी कहीं ज्यादा उसका तमाशा बनाया गया.

सांड को बिल्डिंग के ऊपर चढ़ा देखकर तमाशबीनों की भीड़ जुट गई. लोग अपने-अपने मोबाइल में इस दृश्य को कैद करने लगे. सैकड़ों फ्लैश लाइट से घबराकर सांड ने अफरा-तफरी में चौथी मंजिल से छलांग लगा दी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 31, 2019, 12:56 PM IST
  • Share this:
शहर के चौक-चौराहों और सड़क पर अक्सर सांड (Bull) टहलते, घूमते-फिरते और एक-दूसरे से लड़ते या फिर राहगीरों को परेशान करते दिख जाते हैं. लेकिन यह सुनकर ताज्जुब होगा कि दिल्ली (Delhi) जैसे शहर में एक सांड (A Bull) इमारत की चौथी मंजिल (Fourth floor of a Building) पर चढ़ गया. दक्षिण दिल्ली (South Delhi) के राजू पार्क (Raju Park) इलाके की यह घटना है जहां एक सांड बिल्डिंग के चौथे फ्लोर पर चढ़ गया, फिर वहीं से उसने पास की छत पर छलांग लगा दी. इस हरकत की वजह से सांड की गर्दन की हड्डी और पैर टूट गया. घायल सांड की बाद में तड़प-तड़प कर जान चली गई. लोग जानवर की मौत के लिए दक्षिणी नगर निगम की लापरवाही और दिल्ली पुलिस की अनदेखी को जिम्मेदार ठहरा रहे हैं.

विश्वास करना भले ही मुश्किल हो, लेकिन गुरुवार को दिल्ली के राजू पार्क की यह घटना है. अगर समय रहते दक्षिणी दिल्ली नगर निगम या दिल्ली पुलिस की टीम पहुंच जाती तो बेकाबू सांड को बेहोशी का इंजेक्शन लगाकर नीचे लाया जा सकता था. सांड को बिल्डिंग के ऊपर चढ़ा देखकर तमाशबीनों की भीड़ जुट गई. लोग अपने-अपने मोबाइल में इस दृश्य को कैद करने लगे. सैकड़ों फ्लैश लाइट से घबराकर सांड ने अफरा-तफरी में चौथी मंजिल से छलांग लगा दी.

file photo a bull
सांड का शव करीब 16 घंटे तक छत पर ही पड़ा रहा, लेकिन किसी ने इसकी कोई सुध नहीं ली (प्रतीकात्मक फोटो)


एक इमारत की चौथी मंजिल पर कैसे चढ़ा?

एक स्थानीय निवासी के मुताबिक गुरुवार शाम करीब 6 बजे लोगों ने सांड को छत पर घूमता देखा. यह देखकर आस-पास के लोग भी छत पर चढ़ गए और उसका वीडियो बनाने लगे. रात करीब 10 बजे सांड ने कैमरों की लाइट और लोगों के शोर से घबराकर बिल्डिंग से सटे दूसरे छत पर छलांग लगा दी. घटना का एक पहलू यह रहा कि सांड चार घंटे तक छत पर घूमता रहा. इस दौरान न तो दिल्ली पुलिस और न ही दक्षिण दिल्ली नगर निगम की टीम वहां पहुंची. स्थानीय लोगों का कहना है कि शाम 6 बजे ही सांड के छत पर चढ़ने की खबर दक्षिणी नगर निगम और दिल्ली पुलिस को दी गई थी, लेकिन दोनों में से कोई भी समय पर पहुंचा.

सांड की पीड़ा का तमाशा बना

सांड का शव करीब 16 घंटे तक छत पर पड़ा रहा, लेकिन किसी ने कोई सुध नहीं की. जब स्थानीय लोगों ने दक्षिणी नगर निगम से संपर्क किया तो उन्होंने साफ कह दिया है कि शव को सड़क पर उतार दीजिए तो हमारे आदमी आकर गाड़ी से उठा लेंगे. स्थानीय लोगों का कहना है कि हमलोगों ने गोसेवा दल से संपर्क किया तो उन लोगों ने स्थानीय लोगों की मदद से एक क्रेन का बंदोबस्त किया और सांड के शव को छत से नीचे उतारा गया. शुक्रवार दोपहर को सांड के शव को छत से उतारा गया और गोसेवा दल के लोगों ने उसका अंतिम संस्कार किया.
Loading...

ये भी पढ़ें: 

डेंगू और चिकनगुनिया को लेकर केजरीवाल का बड़ा एलान, अब भगाएंगे मच्छ

देश की पहली प्राइवेट ट्रेन का नया टाइम-टेबल जारी, अब गाजियाबाद में भी रुकेगी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 31, 2019, 12:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...