युद्ध में इतना वजन लेकर दौड़ता है एक सैनिक

युद्ध के दौरान एक सैनिक अपने साथ 40 किलो तक का सामान लेकर चलता है.

News18Hindi
Updated: February 14, 2018, 5:36 PM IST
युद्ध में इतना वजन लेकर दौड़ता है एक सैनिक
प्रतीकात्मक तस्वीर
News18Hindi
Updated: February 14, 2018, 5:36 PM IST
सैन्य ऑपरेशन को अंजाम देते हुए एक सैनिक को हम टीवी पर देखते हैं. युद्ध का अभ्यास करते हुए सैनिक भी हमें टीवी पर दिखाई दे जाते हैं. पीठ पर पिट्ठू बैग, हाथ में भारी सी राइफल, सिर पर हेलमेट, बदन पर बुलेटफ्रूफ जैकेट और कमर पर बंधी गोलियों से भरी मैगजिन. ये तो वो सामान है जो हमें एक लड़ते हुए सैनिक के शरीर पर दिखाई देते हैं. लेकिन सैनिक के पिट्ठू बैग में और भी बहुत सा ऐसा सामान होता है जिसकी जरूरत उसे ऑपरेशन या युद्ध के दौरान होती है.

कर्नल (रिटायर्ड) एमपी सिंह बताते हैं कि किसी भी ऑपरेशन के दौरान एक सैनिक के पास 25 से 30 किलो वजन होता है. वहीं युद्ध के वक्त ये वजन बढ़ जाता है. युद्ध के दौरान एक सैनिक अपने साथ 40 किलो तक का सामान लेकर चलता है.

आइए जानते हैं कि ऑपरेशन और युद्ध के वक्त एक सैनिक के पास क्या-क्या सामान होता है.

सीधे मुकाबले के लिए रखे जाने वाले हथियार और उपकरण

- एक राइफल एके 47 (4.78 किग्रा)
- अतिरिक्त मैगजिन 2 या 4 (प्रति मैगजिन 4 किग्रा, 30 गोली)
- एक 9 एमएम पिस्टल (1.75किग्रा)
- हैंड ग्रेनेड 4 (प्रति ग्रेनेड 300 से 400 ग्राम)
- खुखरी (नेपाली चाकू 450 से 900 ग्राम)
- स्विस चाकू (22 ग्राम)
- नाइट विज़न डिवाइस (800 से 1200 ग्राम)
- वॉकी-टॉकी (150 से 200 ग्राम)
- बुलेट फ्रूफ जैकेट (3.5 से 4 किलो)
- बैलिस्टिक हेलमेट (2 से 2.5 किलो)

नोट- 10 सैनिकों की टुकड़ी में किसी एक सैनिक के पास रॉकेट लॉन्चर, रेडियो सेट, ग्रेनेड लॉन्चर भी होता है.

ऑपरेशन या युद्ध का सहयोगी सामान-
एक ग्राउंड शीट, एक लीटर पानी की बोतल, 2 से 3 दिन का पैक्ड खाना, टॉर्च, बैटरी, रेनकोट, फर्स्ट एड किट, नक्शा, कम्पास, मोजे, तौलिया और अन्य सामान.
News18 Hindi पर Bihar Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Delhi News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर