लाइव टीवी

CM केजरीवाल ने बदली रणनीति, अब केंद्र के साथ 'को-ऑपरेट' करेगी AAP!

News18Hindi
Updated: October 23, 2019, 3:06 PM IST
CM केजरीवाल ने बदली रणनीति, अब केंद्र के साथ 'को-ऑपरेट' करेगी AAP!
पीएम नरेंद्र मोदी के साथ अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो)

आप के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर सीधे हमले करने से हमारी पार्टी को किसी प्रकार का फायदा नहीं हो रहा है. हमें अपनी गलतियों से सीखने की जरूरत है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 23, 2019, 3:06 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री (Delhi Chief Minister) अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने लंबे समय से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) या बीजेपी (BJP) पर सीधे तौर पर निशाना नहीं साधा है. राजनीतिक गलियारों में इस बात की चर्चा लंबे समय से चल रही है. यह भी चर्चा है कि अब आम आदमी पार्टी (आप) बिना किसी कारण के बीजेपी का विरोध करने की जगह केंद्र सरकार (Union Government) के साथ 'को-ऑपरेट' करेगी. इस बात की पुष्टि करते हुए आप के कुछ वरिष्ठ नेताओं ने कहा कि लोकसभा चुनाव 2019 (General Election 2019) में हार के बाद अपनी रणनीति (Strategy) में पार्टी ने कुछ बदलाव किए हैं.

हमलों से नहीं होगा आप को फायदा
आप के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर सीधे हमले करने से हमारी पार्टी को किसी प्रकार का फायदा नहीं हो रहा है. हमें अपनी गलतियों से सीखने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि यह विधानसभा चुनाव है और पार्टी के अलाकमान ने हमें स्पष्ट किया है कि इस चुनाव में हमारा पूरा ध्यान सरकार चलाने की पार्टी की योग्यता और पिछले पांच वर्षों के दौरान दिल्ली के लिए किए गए कामों को लेकर रहेगा. हमें बीजेपी और उनके नेताओं पर हमला करने की जगह हमारे कराए गए कामों की जानकारी जनता तक पहुंचानी होगी.

ऐसे दिखने लगा बदलाव

केजरीवाल की चुनावी रणनीति में बदलाव तभी से दिखने लगा जब उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को मोहल्ला क्लिनिक और आप द्वारा संचालित दिल्ली के सरकारी स्कूलों को देखने के लिए आमंत्रित किया. साथ ही उन्होंने पीएम को कहा कि वो आयुष्मान भारत योजना की जांच करेंगे और देखेंगे कि क्या केंद्र की यह योजना दिल्ली की स्वास्‍थ्य प्रणाली में प्रयोग में ली जा सकती है कि नहीं. वहीं लोकसभा चुनाव 2019 में बीजेपी की जीत के बाद सीएम केजरीवाल ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री को बधाई भी दी थी.

बिना लीडर की कांग्रेस से होगा फायदा
इस दौरान आप के एक विधायक ने कहा कि यह सच्चाई है कि हमारे नेता लोगों के बीच काफी लोकप्रिय हैं, और हमारे लिए फायदे की बात यह है कि कांग्रेस दिशाहीन हो गई है. उनको दिशा देने वाला कोई लीडर नहीं है. यदि आप गौर करें तो चुनाव के दौरान दिल्ली में हमारी हार का कारण अब तक कांग्रेस ही रही है जो हमारे वोटों में सेंध लगा देती थी. लेकिन अब कांग्रेस आपसी लड़ाई में व्यस्त है. ऐसे में हमें भरोसा है कि दिल्ली के दलित और मुस्लिम वोट भी आप को ही मिलेंगे.
Loading...

जब अमित शाह दिल्ली देखेंगे तो बदल सकता है माहौल
हालांकि इस दौरान आप विधायक ने यह भी कहा कि अभी किसी भी आकलन पर पहुंचना गलत होगा. अभी तक अमित शाह और बीजेपी के अन्य नेताओं का पूरा ध्यान हरियाणा और महाराष्ट्र की तरफ था, अभी तक उन्होंने दिल्ली के लिए काम करना शुरू नहीं किया है, जब उनका ध्यान इधर होगा तब माहौल तेजी से बदल सकता है.

ये भी पढ़ेंः भालुओं को मार कर खाता था उनके प्राइवेट पार्ट, दूसरे अंगों की भी करता था तस्करी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 1:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...