लाइव टीवी

दिल्ली में अभी भी वायु प्रदूषण का कहर, इंडिया गेट के पास AQI 253

News18Hindi
Updated: November 24, 2019, 9:11 AM IST
दिल्ली में अभी भी वायु प्रदूषण का कहर, इंडिया गेट के पास AQI 253
इंडिया गेट के पास वायु गुणवत्ता सूचकांक खराब श्रेणी में दर्ज किया गया है.

दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक 'खराब श्रेणी' में दर्ज किया गया है. लोधी रोड इलाके में पीएम 2.5, 212 और पीएम 10, 206 दर्ज किया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 24, 2019, 9:11 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी में अभी भी प्रदूषण (Pollution) का कहर जारी है. यहां के लोगों को अभी तक दमघोंटू हवा से राहत नहीं मिली है. रविवार को भी दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक 'खराब श्रेणी' में दर्ज किया गया. इंडिया गेट के आसपास वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI ) 253 'खराब' श्रेणी में रिकॉर्ड किया गया. बात यदि लोधी रोड (Lodhi Road) इलाके की करें तो यहां पर वायु गुणवत्ता सूचकांक मध्यम (मोड्रेट कटेगरी) में दर्ज किया गया है. वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI ) के मुताबिक, लोधी रोड इलाके में पीएम 2.5, 212 और पीएम 10, 206 है.




बता दें कि बीते शुक्रवार को भी दिल्ली में वायु गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ श्रेणी में थी. अधिकारियों के अनुसार, अगले दो दिनों में हवा की गति बढ़ने के कारण वायु गुणवत्ता में थोड़ा सुधार हो सकता है. विशेषज्ञों ने बताया था कि अगले 48 घंटों में प्रदूषण स्तर ‘बहुत खराब’ से सुधरकर ‘खराब’ की श्रेणी में पहुंच सकता है, लेकिन 25 नवंबर के बाद स्थिति फिर से बिगड़ने की आशंका है.



रोहिणी एक्यूआई 416 के साथ सबसे अधिक प्रदूषित क्षेत्र
शुक्रवार को दिल्ली में दोपहर दो बजे समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) 360 दर्ज किया गया था . रोहिणी एक्यूआई 416 के साथ सबसे अधिक प्रदूषित क्षेत्र रहा था, जबकि बवाना में एक्यूआई 411 और आनंद विहार में 410 दर्ज किया गया था. इसके अलावा मुंडक (401), नरेला (401) और विवेक विहार (402) में वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में पाई गई थी.

401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ माना जाता है
पड़ोसी जिले गाजियाबाद (400), ग्रेटर नोएडा (390) और नोएडा (384) में एक्यूआई ‘गंभीर’ श्रेणी में रहा था. वायु गुणवत्ता के लिहाज से 201 से लेकर 300 के बीच एक्यूआई को ‘खराब’, 301 से 400 के बीच ‘बहुत खराब’ और 401 से 500 के बीच ‘गंभीर’ माना जाता है.

ये भी पढ़ें- 

बिहार: आठ विश्वविद्यालयों के रजिस्ट्रार के वेतन पर रोक, जानें क्या है मामला

अठावले बोले- शिवसेना को सबक सिखाना जरूरी था

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 24, 2019, 9:04 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर