आर्टिकल 370 हटाने के निर्णय पर केजरीवाल ने दिया समर्थन, कहा- अब बहाल होगी कश्मीर में शांति

दिल्ली के सीएम ने ट्वीट कर कहा- केंद्र सरकार के जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 को हटाने के निर्णय का हम समर्थन करते हैं.

News18Hindi
Updated: August 5, 2019, 1:33 PM IST
आर्टिकल 370 हटाने के निर्णय पर केजरीवाल ने दिया समर्थन, कहा- अब बहाल होगी कश्मीर में शांति
केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार का यह निर्णय सही है और हम पूरी तरह से इसका समर्थन करते हैं. (फोटोः ट्वीटर से)
News18Hindi
Updated: August 5, 2019, 1:33 PM IST
जम्मू-कश्मीर को लेकर मोदी सरकार ने सोमवार को राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने को लेकर सरकार का संकल्प पत्र पेश किया. अमित शाह ने कहा कि कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले आर्टिकल 370 को हटा दिया गया है. अब इसके सभी खंड लागू नहीं होंगे. इसके बाद जहां एक तरफ विपक्ष ने जमकर हंगामा किया और इसका विरोध किया वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार का साथ दिया है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि केंद्र सरकार के जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 को हटाने के निर्णय का हम समर्थन करते हैं.

इससे प्रदेश में आएगी शांति
केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार का यह निर्णय सही है और हम पूरी तरह से इसका समर्थन करते हैं. उन्होंने कहा कि आशा है इस निर्णय के बाद जम्मू कश्मीर में शांति बहाल होगी और राज्य का विकास भी होगा.


Loading...

इससे पहले अमित शाह ने सदन में कश्मीर के पुनर्गठन प्रस्ताव भी पेश किया. उनके ऐलान के बाद विपक्ष ने सदन में जोरदार हंगामा शुरू कर दिया. विपक्ष का आरोप है कि सरकार ने उन्हें इस तरह के किसी बिल की पहले जानकारी नहीं दी थी.

लद्दाख अलग केंद्र शासित प्रदेश होगा
गृहमंत्री अमित शाह ने राज्यसभा में तीन संकल्प को रखा. इनमें पहले संकल्प को रखते हुए शाह ने कहा कि आर्टिकल 370 को हटा दिया गया है. दूसरा आर्टिकल 35A को भी खत्म कर दिया गया है. तीसरा, जम्मू-कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है. मतलब, लद्दाख को जम्मू-कश्मीर से अलग कर दिया गया है. अब लद्दाख भी अलग केंद्र शासित प्रदेश होगा. हालांकि, जम्मू-कश्मीर विधानसभा बनी रहेगी.

गुलाम नबी आजाद ने सरकार पर साधा निशाना
राज्यसभा में अमित शाह के बयान से पहले कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कश्मीर मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में दो पूर्व मुख्यमंत्रियों को हाउस अरेस्ट किया गया है. ऐसे में गृह मंत्री को घाटी की स्थिति पर बयान देना चाहिए. इस पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि वह हर सवाल का जवाब देने के लिए तैयार हैं, लेकिन उन्हें उनकी बात कहने दी जाए.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 5, 2019, 1:28 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...