लाइव टीवी

दिल्ली: यूपी के बच्चे के लिए 'फरिश्ता' बने केजरीवाल, सोशल मीडिया के जरिए की मदद

Rachna Upadhyay | News18Hindi
Updated: October 14, 2019, 8:20 PM IST
दिल्ली: यूपी के बच्चे के लिए 'फरिश्ता' बने केजरीवाल, सोशल मीडिया के जरिए की मदद
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ( फाइल फोटो)

मैनपुरी (Mainpuri) के रहने वाले प्रदीप ने बताया कि बेटे के सिर में पानी भर गया है. इसका असर बच्चे के पूरे शरीर पर दिखने लगा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2019, 8:20 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश (UP) के मैनपुरी (Mainpuri) के रहने वाले प्रदीप के 18 महीने के बच्चे वंश का इलाज दिल्ली के लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल (Lok Nayak Jai Prakash Narayan Hospital) में शुरू हो गया है. न्यूज18 से खास बातचीत में प्रदीप ने बताया कि अपने बच्चे वंश के इलाज के लिए वह अस्पताल से अस्पताल भटक रहे थे, लेकिन कहीं पर भी सुनवाई नहीं हो रही थी. ऐसे में दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) उनके बच्चे वंश के लिए 'फरिश्ता' बनकर आए.

प्रदीप ने कहा कि वह मैनपुरी के रहने वाले हैं और मजदूरी का काम करते हैं. उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया के माध्यम से जानकारी मिलने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने तत्काल अधिकारियों को निर्देश दिया और मेरे साथ संपर्क हुआ. उसके बाद केजरीवाल ने दिल्ली में अच्छे से अच्छा इलाज कराने को कहा.

पिछले 45 दिन से भटक रहे थे बच्चे के परिजन
प्रदीप ने बताया कि बेटे के सिर में पानी भर गया है. इसका असर बच्चे के पूरे शरीर पर दिखने लगा है. पिछले 45 दिन से बेटे के इलाज के लिए दिल्ली के अस्पतालों में भटक रहे थे, लेकिन कहीं पर भी उन्हें मदद नहीं मिल रही थी. लेकिन अब बच्चे का एलएनजेपी अस्पताल में इलाज शुरू हो गया.

उन्होंने बताया कि पहले बच्चे को बुखार आया था, जिसके बाद बुखार तो ठीक हो गया, लेकिन बच्चे के पैर ने काम करना बंद कर दिया. जिसके बाद वह डॉक्टर के पास गए डॉक्टर ने अल्ट्रासाउंड करने के लिए कहा. अल्ट्रासाउंड से पता चला कि प्रदीप के बेटे के सिर में पानी भर गया है, जिसके बाद डॉक्टर ने कहा कि अब बेटे को इलाज के लिए आगरा ले जाना पड़ेगा और हम आगरा भी गए, लेकिन डॉक्टर ने बताया कि 80 हजार से 1 लाख रुपये तक का खर्चा आएगा.

अपने बच्चे के साथ मैनपुरी के रहने वाले प्रदीप (Photo News18)


बेटे के इलाज में खर्च हो गई सारी जमा पूंजी
Loading...

पैसे की कमी होने के कारण वह दिल्ली आए और यहां आकर उन्हें अरविंद केजरीवाल की मदद मिली. प्रदीप ने बताया कि अब तक की जितनी जमा पूंजी थी. वह सारी बेटे के इलाज में खर्च हो गई. बच्चे के इलाज के चलते मजदूरी का काम भी बंद हो गया. अब प्रदीप को आशा है कि दिल्ली के अस्पताल में उनके बेटे का बेहतर इलाज होगा और वह जल्दी अपने बेटे को लेकर अपने घर वापस जा सकेंगे. उन्होंने बताया कि एलएनजेपी के डॉक्टर ने बताया है कि घबराने वाली कोई चीज नहीं है. तीन-चार दिनों के बाद ऑपरेशन की तारीख दी जाएगी, जिसके बाद बच्चे का ऑपरेशन होगा और कुछ दिन रहने के बाद उसे छुट्टी मिल जाएगी.

ये भी पढ़ें-

Amazon-Flipkart के खिलाफ 16 साल के छात्र ने दायर की याचिका, ये है मामला

अब दलित समाज ने उठाई इंडियन आर्मी में वाल्मीकि रेजिमेंट बनाने की मांग!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 14, 2019, 6:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...