अयोध्या मामला: मुस्लिम पक्ष ने सुप्रीम कोर्ट में रोज सुनवाई पर जताई आपत्ति

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में एक मुस्लिम पक्ष ने राजनीतिक रूप से संवदेनशील राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले की सप्ताह में पांच दिन सुनवाई किए जाने विरोध किया है.

News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 3:20 PM IST
अयोध्या मामला: मुस्लिम पक्ष ने सुप्रीम कोर्ट में रोज सुनवाई पर जताई आपत्ति
अयोध्या राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद विवाद मामले की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चल रही है. (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: August 9, 2019, 3:20 PM IST
सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में एक मुस्लिम पक्ष ने राजनीतिक रूप से संवदेनशील राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले की सप्ताह में पांच दिन सुनवाई किए जाने का शुक्रवार को विरोध करते हुए कहा कि अगर इतनी जल्दबाजी में सुनवाई की जाती है तो उसके लिए न्यायालय की सहायता करना संभव नहीं होगा.

प्रधान न्यायाधीश (CJI) रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली एक पीठ ने मामले में चौथे दिन शुक्रवार को सुनवाई शुरू की. पीठ में न्यायमूर्ति एसए बोबड़े, न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति अशोक भूषण और न्यायमूर्ति एसए नजीर भी शामिल हैं.

इतनी जल्दबाजी में नहीं हो सकती सुनवाई
मुस्लिम पक्ष की ओर से पेश हुए वरिष्ठ वकील राजीव धवन ने मामले में पांच दिन सुनवाई किए जाने पर आपत्ति जताई है. धवन ने पीठ को बताया, ‘अगर सप्ताह के सभी दिनों में सुनवाई होती है तो न्यायालय की सहायता करना संभव नहीं होगा. यह पहली अपील है और इतनी जल्दबाजी में सुनवाई नहीं हो सकती और यह मेरे लिए प्रताड़ना है.’ इस पर पीठ ने धवन से कहा कि उसने दलीलों पर गौर किया है और वह जल्द से जल्द जवाब देगी.

अपना पक्ष रखने के लिए वक्त मिलेगा और जल्द हो सकेगा फैसला
बता दें कि सप्ताह के पांच दिन सुनवाई करने के प्रस्ताव पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि हफ्ते में पांच दिन तक अयोध्या मामले (Ayodhya Case) की सुनवाई जारी रखने से दोनों पक्षों के वकीलों को अपनी दलीलें पेश करने का काफी वक्त मिलेगा और जल्द ही इस पर कोई फैसला आ सकेगा. गुरुवार को मामले की सुनवाई करते हुए चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस एसए बोबडे, डीवाई चंद्रचूड़, अशोक भूषण और एस अब्दुल नजीर ने कहा कि अयोध्या मामले की सुनवाई अब रोजाना की जाएगी.

(इनपुट भाषा से)
Loading...

ये भी पढ़ें-

अयोध्या केस की सुनवाई अब हफ्ते में पांच दिन होगी
First published: August 9, 2019, 3:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...