लाइव टीवी

करतारपुर साहिब: प्रस्तावित शुल्क को मनीष तिवारी ने बताया ‘जजिया टैक्स’, कहा- इसका खुद भुगतान करे सरकार

News18Hindi
Updated: October 22, 2019, 6:02 PM IST
करतारपुर साहिब: प्रस्तावित शुल्क को मनीष तिवारी ने बताया ‘जजिया टैक्स’, कहा- इसका खुद भुगतान करे सरकार
कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि करतारपुर साहिब जाने के लिए पैसे का भुगतान करना ‘खुले दर्शन’ की भावना के खिलाफ है.

पाकिस्तान (Pakistan) ने प्रति तीर्थयात्री (Pilgrim) 20 डॉलर (20 Dollar) का सेवा शुल्क (Service Tax) लगाने का फैसला किया है. इस पर निराशा जाहिर करते हुए भारत सरकार (Government of India) ने पाकिस्तान से उसके इस फैसले पर पुनर्विचार करने को कहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 22, 2019, 6:02 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी (Manish Tewari) ने करतारपुर साहिब जाने वाले हर तीर्थयात्री (Pilgrim) पर पाकिस्तान (Pakistan) की ओर से प्रस्तावित 20 डॉलर के सेवा शुल्क को ‘जजिया टैक्स’ करार देते हुए मंगलवार को कहा कि इस पैसे का भुगतान नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) सरकार को खुद करना चाहिए.

तिवारी ने ट्वीट कर कहा, ‘अगर पाकिस्तान, करतारपुर गलियारे के लिए 20 डॉलर के शुल्क पर जोर देता है और 23 अक्टूबर को भारत समझौते पर हस्ताक्षर करता है तो फिर बीजेपी सरकार को इस जजिया टैक्स का भुगतान खुद करना चाहिए. उन्होंने कहा कि करतारपुर साहिब जाने के लिए पैसे का भुगतान करना ‘खुले दर्शन’ की भावना के खिलाफ है.

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी का ट्वीट


20 डॉलर का सेवा शुल्क लगाने का फैसला

दरअसल, पाकिस्तान ने प्रति तीर्थयात्री 20 डॉलर का सेवा शुल्क लगाने का फैसला किया है. इस पर निराशा जाहिर करते हुए भारत सरकार ने पाकिस्तान से उसके इस फैसले पर पुनर्विचार करने को कहा है. बता दें कि सरकार, बुधवार को करतारपुर साहिब से जुड़े समझौते पर हस्ताक्षर करने वाली है.

नवम्बर की शुरूआत में गलियारा खोलने की योजना
करतारपुर गलियारा भारत के पंजाब में डेरा बाबा नानक धर्मस्थल को करतारपुर के गुरुद्वारे जोड़ेगा. करतारपुर, अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगभग चार किलोमीटर दूर पाकिस्तान में पंजाब प्रांत के नारोवाल जिले में स्थित है. भारत और पाकिस्तान की योजना, गुरु नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व के मौके पर सालभर चलने वाले समारोहों से पहले नवम्बर की शुरूआत में यह गलियारा खोलने की है.
Loading...

ये भी पढ़ें.

सीएम योगी का सख्‍त रुख- सिपाही के हाथ में डंडे की जगह मोबाइल दिखे तो सस्पेंड कर दो

सीएम योगी का दिवाली तोहफा, अयोध्या के दीपोत्सव को राजकीय मेले का दर्जा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2019, 5:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...