BJP नेता विजेंद्र गुप्ता की पत्नी ठक-ठक गैंग का बनी शिकार

मामला बाराखंभा थाना इलाके का है. चोरों ने मंडी हाउस के पास वारदात को अंजाम दिया है.

News18Hindi
Updated: June 25, 2019, 6:26 AM IST
BJP नेता विजेंद्र गुप्ता की पत्नी ठक-ठक गैंग का बनी शिकार
फाइल फोटो
News18Hindi
Updated: June 25, 2019, 6:26 AM IST
देश की राजधानी नई दिल्ली में एक बड़ी खबर सामने आई है. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता विजेंद्र गुप्ता की पत्नी ठक-ठक गैंग का शिकार बन गईं. इस घटना से आसपास के इलके में सनसनी फैल गई है. साथ ही पुलिस-प्रशासन के हांथ-पाव फूल गए हैं. पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.

कार से मीटिंग अटेंड करने जा रही थीं

जानकारी के मुताबिक, मामला बाराखंभा थाना इलाके का है. चोरों ने मंडी हाउस के पास वारदात को अंजाम दिया है. पुलिस के मुताबिक, सोमवार की सुबह करीब 11 बजे के आसपास विजेंद्र गुप्ता की पत्नी शोभा अपने घर से मीटिंग अटेंड करने जा रही थीं. कार में विजेंद्र गुप्ता की पत्नी, ड्राइवर और एक अन्य शख्स था. तभी बाइक पर सवार 4 लोग आए और उनका ध्यान भटकाकर गाड़ी से विजेंद्र गुप्ता की पत्नी का बैग लेकर फरार हो गए.

पुलिस का कहना है कि बदमाशों ने पहले बोला कि गाड़ी में से कुछ लिक्विड गिर रहा है जिसके चलते ड्राइवर के साथ बैठा शख्स गाड़ी से बाहर निकलकर चेक करने लगा. इसी बीच जब सभी का ध्यान गाड़ी पर था तभी बदमाशों ने मौका देख बैग पर हाथ साफ कर दिया और फरार हो गए.

आरोपी का नाम था राहुल 

बता दें कि इससे पहले ऑल इंडिया कांग्रेस की सदस्य और दिल्ली कांग्रेस की नेता अमृता धवन भी ठक-ठक गैंग का शिकार बन गईं थी. उनके साथ लूटपाट की गई थी. इस मामले में पुलिस ने रविवार को ठक-ठक गैंग के एक बदमाश को गिरफ्तार किया था. गिरफ्तार किए गए आरोपी का नाम राहुल था. आरोपी दिल्ली के मदनगीर का रहने वाला था. पुलिस ने मामले में पूछताछ के बाद आरोपी राहुल को जेल भेज दिया है. साथ ही पुलिस राहुल के एक और साथी की तलाश कर रही है.

ये है मामला
अमृता धवन अपने परिवार के साथ विकासपुरी में रहती है. शुक्रवार वह पार्टी के काम से नई दिल्ली आई हुई थी. शाम को करीब 6.30 बजे वह अपने घर की ओर जा रही थी. अति-सुरक्षित इलाकों में शुमार दिल्ली कैंट सेना के अस्पताल के पास उन्हें स्कूटी सवार दो बदमाशों ने इशारा किया और कहा कि गाड़ी का टायर पंचर हो गया है. लेकिन बदमाशों के इशारे के बाद अमृता ने गाड़ी नहीं रोकी और बदमाश आगे निकल गए. उनके आगे निकलने के बाद अमृता ने अपनी गाड़ी रोक कर टायर की जांच की तो टायर सही था. टायर देखकर वह अपनी गाड़ी में बैठने लगी, इसी दौरान उल्टी दिशा ने बाइक सवार दो बदमाश आए और उन्होंने अमृता की गाड़ी से बैग उठाने की कोशिश की. लेकिन अमृता ने बैग अपनी ओर खींचने की कोशिश की. लेकिन बदमाशों ने बैग नहीं छोड़ा और बैग लूट कर फरार हो गए थे.

ये भी पढ़ें- 

फ्लैट छोड़ने को मजबूर मालिक, लगाया Flat For Resale का पोस्टर

मायावती को रास नहीं आता गठबंधन, पहले भी तोड़ी है दोस्ती
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...