लाइव टीवी
Elec-widget

प्याज को लेकर रामविलास पासवान ने किए थे बड़े-बड़े दावे और अब ये कहा..

Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: November 28, 2019, 5:43 PM IST
प्याज को लेकर रामविलास पासवान ने किए थे बड़े-बड़े दावे और अब ये कहा..
सरकार की कोशिशों के बावजूद प्याज अब 100 रुपये प्रति किलो के भाव में मिल रहा है.

देश के मेट्रो शहरों (Metro Cities) दिल्ली (Delhi), कोलकाता (Kolkata) और चेन्नई (Chennai) में प्याज (Onion) के दाम 100 से 120 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गए है. कारोबारियों का कहना है कि अगर मंडियों में प्याज की सप्लाई नहीं बढ़ती है तो कीमतें और बढ़ सकती हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2019, 5:43 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. प्याज (Onion) के बढ़ते दामों से पूरे देश में हाहाकार मच गया है. कई जगहों पर प्याज की कीमत 100 रुपए प्रति किलो तक पहुंच गई है. देश में प्याज की कीमत खुदरा बाजार में इतनी बढ़ गई है कि लोगों के घरों का जायका तक बिगड़ गया है. बीते एक महीने से प्याज की कीमतों को नियंत्रण में रखने की सरकार (Government of India) की कोशिशों के बावजूद देश के प्रमुख शहरों में प्याज 100 रुपये प्रति किलो के भाव में मिल रहा है. इधर, केंद्रीय खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामविलास पासवान (Ram Vilas Pawan) ने बुधवार को कहा, 'सरकारी स्टोरेज में करीब 32,500 मैट्रिक टन प्याज सड़ चुका है. कुछ महीने पहले तक हमारे पास 56, 700 मैट्रिक टन प्याज के बफर स्टॉक थे, जिसमें तकरीबन 27000 हजार मैट्रिक टन प्याज हमने राज्य सरकारों को वितरित भी किए. जब हमारे पास बफर स्टॉक थे तो राज्य सरकारें खरीदने के लिए आगे नहीं आई और अब प्याज को लेकर हाय-तौबा मचा रही है.'

बता दें कि कुछ दिन पहले ही रामविलास पासवान ने बयान दिया था कि सितंबर से लेकर नवंबर महीने तक आलू (potato), प्याज (onion) और टमाटर (tomatoes) के भावों में थोड़ा-बहुत उतार-चढ़ाव आता रहता है. इससे घबराने की जरूरत नहीं है. यह सिर्फ थोड़े समय के लिए ही है, लेकिन बीते बुधवार को मंत्री ने प्याज की बढ़ती कीमतों पर अपने हाथ खड़े कर लिए.

कुछ दिन पहले ही रामविलास पासवान ने बयान दिया था
कुछ दिन पहले ही रामविलास पासवान ने बयान दिया था कि घबराने की जरूरत नहीं है.


प्याज की बढ़ती कीमतों को लेकर मंत्री का बड़ा बयान

मंत्रालय ने प्याज की बढ़ती कीमतों पर कहा, 'बेशक प्याज की कीमतें बढ़ रही हैं, लेकिन पिछले कई महीने से मंत्रालय ने रज्य सरकारों को प्याज खरीदने के लिए पत्र लिखा. मंत्रालय ने तकरीबन हर राज्य सरकार को पत्र लिख कर कहा कि अगर प्याज की जरूरत है तो आप प्याज खरीद सकते हैं. हमारे पास इस समय प्याज के पर्याप्त बफर स्टॉक से मौजूद हैं. कुछ महीने पहले तक हमारे पास 56, 700 मैट्रिक टन प्याज के बफर स्टॉक थे, जिसमें तकरीबन 27000 हजार मैट्रिक टन प्याज हमने वितरित भी किए. 15 हजार मैट्रिक टन प्याज हमने जो किसानों से खरीदे थे, वह वजन घटने से कम हो गए. बाकी बचे लगभग 15000 हजार मैट्रिक टन प्याज सड़ गए. क्योंकि अब प्याज की कीमत बढ़ गई है तो राज्य सरकार केंद्र पर दोष मढ़ रहे हैं लेकिन, अब हमारे लिए समस्या यह है कि अगर हम इस मौसम में बाहर के देशों से प्याज खरीदते भी हैं तो प्याज का रेट 60 रुपये प्रति किलो पड़ रहा है, जो आम लोगों के रसोई तक पहुंचते-पहुंचते लगभग 100 रुपये ही पड़ जाएगा.'

बता दें कि केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान अपने पहले की प्रेस ब्रीफिंग में कहते रहे हैं कि हमारे पास प्याज के पर्याप्त भंडार हैं. जो भी राज्य सरकार प्याज लेना चाहती है, उसको हम सस्ते दामों में उपलब्ध कराएंगे, लेकिन बुधवार को मंत्री जी का अचानक बयान आया कि इस साल बारिश और बाढ़ के चलते प्याज की पैदावार में 26 फीसदी तक गिरावट आई है. मंत्रालय के पास 56, 700 मेट्रिक टन प्याज का बफर स्टॉक था, जिसमें 50 फीसदी प्याज सड़ गया है.

कुछ महीने पहले तक सरकार के पास 56, 700 मैट्रिक टन प्याज के बफर स्टॉक थे.
कुछ महीने पहले तक सरकार के पास 56, 700 मैट्रिक टन प्याज के बफर स्टॉक थे.

Loading...

'दुनिया भर में प्याज की कीमतें बढ़ रही है'

रामविलास पासवान ने ये भी कहा कि दुनिया भर में प्याज की कीमतें बढ़ रही है, इसलिए भारत में भी इसका असर दिख रहा है. उन्होंने कहा कि प्याज आयात करने के बावजूद इसकी कीमतें कम नहीं हो पा रही है. मंत्री के मुताबिक, 'अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्याज की कीमतें बढ़ने का असर सीधे भारत पर भी पड़ रहा है.' मंत्री के बयान से साफ जाहिर हो रहा है कि प्याज को लेकर अब सरकार हाथ खड़े करते हुए दिखाई दे रही है.

आपको बता दें कि देश के मेट्रो शहरों दिल्ली, कोलकाता और चेन्नई में प्याज के दाम 100 से 120 रुपये प्रति किलोग्राम तक पहुंच गए है. कारोबारियों का कहना है कि अगर मंडियों में प्याज की सप्लाई नहीं बढ़ती है तो कीमतें और बढ़ सकती हैं.

प्याज की कीमतें 100 रुपये प्रति किलोग्राम के पार

बुधवार को कई मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि कोलकाता में प्याज की कीमतें 100 रुपये प्रति किलोग्राम के पार जा चुका है. लोकल सब्जी मंडियों में 120 रुपये प्रति किलोग्राम के भाव पर प्याज बिक रहा है. व्यापारियों का कहना है कि लोकल वेयरहाउस में रखे गए प्याज की वजह से अभी तक कीमतें एक दायरे में था. इसी प्रकार, चेन्नई में प्याज की खुदरा कीमत 120 रुपये प्रति किलोग्राम है. पिछले सप्ताह प्याज का होलसेल दाम 50 से 60 रुपये प्रति किलोग्राम था, जिसके बाद खुदरा दाम 80 रुपये तक रहा था.

Cabinet Meeting
भारत सरकार ने अब 1 लाख मैट्रिक टन प्याज के आयात का ऑर्डर दिया है.


 भारत सरकार ने 1 लाख मैट्रिक टन प्याज के आयात का ऑर्डर दिया

प्याज की बढ़ती कीमतों को देखते हुए भारत सरकार ने 1 लाख मैट्रिक टन प्याज के आयात का ऑर्डर दिया है. केंद्रीय उपभोक्ता मामलों के सचिव ने दो दिन पहले ही एक अंतर मंत्रिस्तरीय बैठक की है और उसमें जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए हैं. जो इस प्रकार है.

1. सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को राज्यों में स्टॉक सीमा को और कम करने के लिए कह गया है. स्टॉक सीमाओं को सख्ती से लागू करने और साप्ताहिक आधार पर केंद्र को रिपोर्ट भेजने के लिए कहा गया है.
2. खुदरा विक्रेताओं और थोक विक्रेताओं पर स्टॉक होल्डिंग की सीमा को अगले आदेश तक आगे बढ़ाया जा रहा है.
3.MMTC ने बताया है कि मिस्र से प्याज की पहली खेप दिसंबर के दूसरे सप्ताह में आ जाएगी
4.MMTC ने प्याज के आयात के लिए कुछ दूसरे देशों से टेंडर मंगाए हैं.

ये भी पढ़ें: 

प्याज की बढ़ती कीमतों पर मोदी सरकार के मंत्री ने दिया यह बयान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 5:43 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com