दिल्ली के इस नेता का दावा, डल झील के किनारे मनेगा बिहार का सबसे बड़ा त्योहार!

आम आदमी पार्टी (AAP) के बागी विधायक और दिल्ली सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री कपिल मिश्रा एक बार फिर से चर्चा में हैं. कपिल मिश्रा ने एलान किया है कि इस साल छठ का पर्व वह कश्मीर के डल झील के किनारे मनाएंगे.

Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 12:13 PM IST
दिल्ली के इस नेता का दावा, डल झील के किनारे मनेगा बिहार का सबसे बड़ा त्योहार!
कपिल मिश्रा लोगों से बकायदा रजिस्ट्रेशन भी करवाना शुरू कर दिया है.
Ravishankar Singh
Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: July 29, 2019, 12:13 PM IST
आम आदमी पार्टी (AAP) के बागी विधायक और दिल्ली सरकार के पूर्व कैबिनेट मंत्री कपिल मिश्रा एक बार फिर से चर्चा में हैं. कपिल मिश्रा ने ऐलान किया है कि इस साल का छठ पर्व वह कश्मीर के डल झील के किनारे मनाएंगे. इसके लिए कपिल मिश्रा ने लोगों से बाकायदा रजिस्ट्रेशन भी करवाना शुरू कर दिया है. कपिल मिश्रा न्यूज 18 हिंदी के साथ बातचीत में कहते हैं, 'इस बार कश्मीर की धरती पर डल झील के किनारे ऐतिहासिक छठ पूजा का आयोजन होगा. डल झील के किनारे ही भगवान सूर्य को जल अर्पित किया जाएगा. जिस दिन श्रीनगर की डल झील पर छठ पूजा शुरू हो गई, कश्मीर में कोई समस्या नहीं बचेगी. अभी तक 510 लोगों का रजिस्ट्रेशन हो चुका है. बहुत जल्द ही हमलोग इसके लिए जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल महोदय से अनुमति के लिए आवेदन करेंगे.'

इस बार कश्मीर की धरती पर डल झील के किनारे ऐतिहासिक छठ पूजा का आयोजन होगा.
इस बार कश्मीर की धरती पर डल झील के किनारे ऐतिहासिक छठ पूजा का आयोजन होगा.


कपिल मिश्रा किसी न किसी कारण से लगातार सुर्खियों में बने रहते हैं. मिश्रा दिल्ली के करावल नगर से विधायक हैं. पिछले दिनों ही दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष रामनिवास गोयल ने कपिल मिश्रा को नोटिस जारी किया था. आम आदमी पार्टी के ग्रेटर कैलाश से विधायक और दिल्ली के पूर्व मंत्री सौरभ भारद्वाज ने कपिल मिश्रा द्वारा मोदी का प्रचार करने की शिकायत विधानसभा अध्यक्ष से की थी. इसी को आधार बना कर विधानसभा अध्यक्ष ने कपिल मिश्रा को नोटिस जारी किया था.

कपिल मिश्रा ने एलान किया है कि इस साल का छठ का पर्व वह कश्मीर के डल झील के किनारे मनाएंगे.
कपिल मिश्रा ने एलान किया है कि इस साल का छठ का पर्व वह कश्मीर के डल झील के किनारे मनाएंगे.


बता दें कि दिल्ली के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल की राजनीतिक अदावत अब काफी गहरी है. लोकसभा चुनाव से ठीक पहले आप के बागी विधायक कपिल मिश्रा ने नरेंद्र मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने के लिए दिल्ली में 'मेरा पीएम मेरा अभिमान' नाम से एक अभियान शुरू किया था.



छठ पूजा पूर्वांचलियों का सबसे बड़ा पर्व

कपिल मिश्रा कभी अरविंद केजरीवाल के खास सहयोगियों में से एक रहे हैं, लेकिन कुमार विश्वास की निकटता और मंत्री पद से हटाने के बाद वह केजरीवाल से नाराज हो गए थे. अरविंद केजरीवाल के भ्रष्टाचार के खिलाफ अभियान में कपिल मिश्रा एक महत्वपूर्ण साथी की भूमिका निभा चुके हैं. पार्टी के अंदर ब्लैकमनी, हवाला, चंदे में गड़बड़ी जैसे मुद्दों पर खुलकर बोलने पर उनका मंत्री पद चला गया था.

कपिल मिश्रा कभी अरविंद केजरीवाल के खास सहयोगियों में से एक रहे हैं
कपिल मिश्रा कभी अरविंद केजरीवाल के खास सहयोगियों में से एक रहे हैं


जानकारों का मानना है कि हाल के कुछ दिनों से कपिल मिश्रा और दिल्ली बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी में खूब बन रही है. साथ ही कपिल मिश्रा की मां बीजेपी से जुड़ी हुई हैं और पूर्व में पूर्वी दिल्ली की मेयर भी रह चुकी हैं. क्योंकि, दिल्ली में पूर्वांचली वोटरों की अच्छी-खासी तादाद है और कपिल मिश्रा को पता है कि आने वाले विधानसभा चुनाव में पूर्वांचली वोटर्स उनके जीत-हार में अहम भूमिका अदा कर सकते हैं. इस लिहाज से पूर्वांचली वोटरों का सेंटिमेंट अपने साथ जोड़े रखने के लिए मिश्रा की यह राजनीतिक चाल है.

ये भी पढ़ें:

क्या स्पीकर के फैसले ने येडियुरप्‍पा सरकार को संकट से निकाल दिया है?

दिल्ली-NCR की रेव पार्टियों में इस देश से आ रही है करोड़ों की ड्रग्स

क्या हथियारों से रुक सकती है मॉब लिंचिंग, कानून के जानकारों की ये है राय

कम पैसे में भी आप बन सकते हैं अपने मां-बाप के श्रवण कुमार

अब FIR के लिए आपको नहीं जाना पड़ेगा थाने, पुलिस खुद आएगी आपके पास

 एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 28, 2019, 6:44 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...