लाइव टीवी

Ayodhya Verdict: अयोध्या केस में फैसले से पहले बढ़ाई गई CJI रंजन गोगोई की सुरक्षा

News18Hindi
Updated: November 9, 2019, 8:41 AM IST
Ayodhya Verdict: अयोध्या केस में फैसले से पहले बढ़ाई गई CJI रंजन गोगोई की सुरक्षा
अयोध्या विवाद पर शनिवार को फैसला सुनाने जा रहे रंजन गोगोई चीफ जस्टिस के पद से 17 नवंबर को रिटायर हो रहे हैं

सूत्रों के अनुसार फैसले के मद्देनजर सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश (CJI) रंजन गोगोई (Ranjan Gogoi) की सुरक्षा बढ़ाकर जेड-प्लस कर दी गयी है

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 9, 2019, 8:41 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद विवाद मामले (Ram Janmbhoomi Babri Masjid Dispute Case) में शनिवार सुबह साढ़े 10 बजे सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) का ऐतिहासिक फैसला आएगा. सूत्रों के अनुसार फैसले के मद्देनजर सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई (CJI Ranjan Gogoi) की सुरक्षा बढ़ाकर जेड-प्लस (Z Plus Security) कर दी गयी है. रंजन गोगोई इस मामले के पांच सदस्यीय संविधान पीठ का नेतृत्व कर रहे हैं. पीठ के अन्य सदस्य जस्टिस एसए बोबडे, डी वाई चंद्रचूड़, अशोक भूषण और एसए नज़ीर हैं.

न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार सीजेआई रंजन गोगोई के सुरक्षा कवर को भी बढ़ा दिया गया है. दिल्ली स्थित उनके आवास के बाहर दिल्ली पुलिस की टीम तैनात की गई है.



फैसले के मद्देनजर शुक्रवार को UP के चीफ सेक्रेटरी और DGP से की थी बैठक
Loading...

इससे पहले शुक्रवार की दोपहर सीजेआई रंजन गोगोई ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी और पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओ.पी सिंह के साथ लगभग डेढ़ घंटे तक बैठक की थी. इस बैठक के दौरान उत्तर प्रदेश शासन के इन दो वरिष्ठ अधिकारियों ने चीफ जस्टिस को फैसले के मद्देनजर राज्य के कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए की गई सुरक्षा व्यवस्था से अवगत कराया था.

लगातार 40 दिन तक सुप्रीम कोर्ट में चली थी सुनवाई

बता दें कि अयोध्या विवाद पर छह अगस्त से लगातार 40 दिन तक सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई चली थी. सुनवाई पूरी होने के बाद अदालत ने 16 अक्टूबर को इस पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था. अब शनिवार नौ नवंबर को सुप्रीम कोर्ट इस मामले में अपना फैसला सुनाने जा रहा है.

यह भी पढ़ें: अयोध्या: राम मंदिर आंदोलन से जुड़ी रही हैं गोरखनाथ मठ की तीन पीढ़ियां!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 9, 2019, 4:47 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...