कांग्रेस नेता उदितराज के बिगड़े बोल, इसरो वैज्ञानिकोंं का उड़ाया मजाक तो लोगों ने लगा दी क्‍लास

इसरो (ISRO) की 95 फीसदी कामयाबी पर देश के साथ साथ दुनिया के वैज्ञानिक और लोग गर्व कर रहे हैं. लेकिन कांग्रेस के नेता उदित राज ने चंद्रयान-2 की नाकामी के लिए इसरो के वैज्ञानिकों को ही जिम्‍मेदार ठहराया है.

News18Hindi
Updated: September 7, 2019, 11:35 PM IST
कांग्रेस नेता उदितराज के बिगड़े बोल, इसरो वैज्ञानिकोंं का उड़ाया मजाक तो लोगों ने लगा दी क्‍लास
उदित राज पहले बीजेपी में थे, अब कांग्रेस में शामिल हो चुके हैैं.
News18Hindi
Updated: September 7, 2019, 11:35 PM IST
नई दिल्‍ली: चंद्रयान-2 (Chandrayaan-2) का लैंडर विक्रम सॉफ्ट लैंडिंग की अपनी आखिरी बाधा पार नहीं कर पाया. हालांकि इसके बावजूद इसरो (ISRO) की 95 फीसदी कामयाबी पर देश के साथ साथ दुनिया के वैज्ञानिक और लोग गर्व कर रहे हैं. लेकिन कांग्रेस के नेता उदित राज ने चंद्रयान-2 की नाकामी के लिए इसरो के वैज्ञानिकों को ही जिम्‍मेदार ठहराया है. उन्‍होंने अपने अजीबोगरीब बयान से  वैज्ञानिकों के जख्‍मों पर नमक छिड़कने का काम किया है. हालांकि खुद कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने इसरो के वैज्ञानिकों की मेहनत के लिए उन्‍हें बधाई दी है.

2014 में दिल्‍ली से बीजेपी सांसद रहे उदित राज ने 2019 लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी छोड़ दी थी. तब वह कांग्रेस में शामिल हो गए थे. चंद्रयान-2 मिशन पूरा नहीं होने पर जहां सभी लोग वैज्ञानिकों का हौसला बढ़ा रहे हैं, वहीं उदितराज ने इस नाकामी के लिए वैज्ञानिकों को ही जिम्‍मेदार ठहरा दिया है. उन्‍होंने ट्वीट करते हुए लिखा... हमारे वैज्ञानिकों ने अगर नारियल फोड़ने और पूजा पाठ के विश्वास के बजाय वैज्ञानिक शक्ति और आधार पर विश्वास करते तो अब तक मिली आंशिक असफलता का मुँह ना देखना पड़ता.



भले अपने नेता के इस बयान पर कांग्रेस का कोई बयान न आया हो, लेकिन सोशल मीडिया पर उनके इस बयान की आलोचना शुरू हो गई है. लोग उन्‍हें खूब खरी-खोटी सुना रहे हैं.


Loading...











सोनिया गांधी ने की वैज्ञानिकों की तारीफ
बता दें कि चंद्रयान- 2 के लैंडर ‘विक्रम’के चांद पर उतरते समय जमीनी स्टेशन से संपर्क टूटने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने शनिवार को कहा कि यह सफर थोड़ा लंबा जरूर हुआ है लेकिन आने वाले समय में सफलता जरूर मिलेगी. सोनिया ने वैज्ञानिकों के प्रयासों की सराहना की. उन्होंने कहा, ''हम इसरो और इससे जुड़े पुरुषों एवं महिलाओं के ऋणी हैं. उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण ने भारत को अंतरिक्ष की दुनिया में अग्रणी देशों की कतार में शामिल कर दिया है और आगे की पीढ़ियों को प्रेरित किया है कि वे सितारों तक पहुंचे.''

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 7, 2019, 7:07 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...