कोर्ट ने जामिया स्कूल के हैडमास्टर पर एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करने के दिए आदेश

अपने ही स्कूल के शिक्षक को जाति के आधार पर किया था संबोधित, दिल्ली कोर्ट ने दिया पुलिस को केस दर्ज करने का आदेश.

News18Hindi
Updated: August 2, 2019, 1:00 PM IST
कोर्ट ने जामिया स्कूल के हैडमास्टर पर एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करने के दिए आदेश
इस संबंध में जब हैडमास्टर मोहम्मद मुर्सलीन से बात की गई तो उन्होंने कहा कि सभी आरोप गलत और आधारहीन हैं.
News18Hindi
Updated: August 2, 2019, 1:00 PM IST
जामिया स्कूल के हैडमास्टर के खिलाफ कोर्ट ने एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज करने के दिल्ली पुलिस को आदेश दिए हैं. कोर्ट ने यह आदेश जामिया में गेस्ट टीचर के तौर पर 2018 में काम कर रहे एक दलित शिक्षक की शिकायत के बाद दिए हैं. शिक्षक हरेंद्र कुमार के अनुसार हैडमास्टर मोहम्मद मुरसालिन ने सभी के सामने उसे अपशब्द कहे और उसकी जाति के आधार पर संबोधित किया.

पुलिस को दर्ज करनी होगी एफआईआर
कोर्ट ने इन आरोपों को गंभीरत से लेते हुए हैडमास्टर के कृत्य को अपराध की श्रेणी में रखा. इसके साथ ही कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को सख्त आदेश दिया कि मामले में एससी एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया जाए और कोर्ट को सूचित किया जाए. गौरतलब है कि मामले को लेकर हरेंद्र ने एक साल पहले ही अपनी शिकायत जामिया नगर के एसएचओ से की थी लेकिन इस संबंध में जब कोई कार्रवाई नहीं की गई तो उसने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया.

चाय बनवाई और बर्तन भी मंजवाए

हरेंद्र ने बताया कि उसने स्कूल 2017 में जॉइन किया था. इस दौरान हैडमास्टर ने उसे पर्मानेंट करने की बात कही. ऐसा लालच देकर उसने हरेंद्र से घर के काम करवाए. हरेंद्र ने इस दौरान चाय बनाने से लेकर बर्तन धोने तक का काम किया. उसने बताया कि लेकिन इसके बावजूद उसे जाति सूचक शब्दों का प्रयोग कर सभी के सामने भला बुरा कहा गया. इसके बाद 2018 में बिना कारण बताए हरेंद्र को काम से निकाल दिया गया.

आधारहीन हैं आरोप
इस संबंध में जब हैडमास्टर मोहम्मद मुर्सलीन से बात की गई तो उन्होंने कहा कि सभी आरोप गलत और आधारहीन हैं. हरेंद्र अपनी जाति को ढाल बना कर बदले की भावना से आरोप लगा रहा है. इससे पहले भी जब उसने आरोप लगाए थे तो पुलिस ने जांच की थी और आरोप आधारहीन निकले थे.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 2, 2019, 12:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...