लाइव टीवी

दिल्ली के किसी भी सरकारी अस्पताल में नहीं है सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी की सुविधा, DCW ने मांगी ATR

News18Hindi
Updated: September 17, 2019, 10:18 PM IST
दिल्ली के किसी भी सरकारी अस्पताल में नहीं है सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी की सुविधा, DCW ने मांगी ATR
स्वाति मालीवाल ने कहा कि, “राजधानी में कई ट्रांसजेंडर हैं, जो सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी के अभाव में बहुत परेशानियां झेलते हैं. मुफ्त और अच्छी चिकित्सा सेवा हासिल करना उनका अधिकार है. (फाइल फोटो)

दिल्ली महिला आयोग (DCW) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल (Swati Maliwal) ने केंद्र और दिल्ली के स्वास्थ्य सचिव को पत्र लिखा है. इसमें उन्होंने दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी की व्यवस्था न होने का सवाल उठाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 17, 2019, 10:18 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली महिला आयोग (DCW) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल (Swati Maliwal) ने एक बार फिर सेक्स री असाइनमेंट का मुद्दा उठाया है. इस संबंध में इस बार उन्होंने केंद्र और दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य सचिव को पत्र लिखा भी लिखा है. उन्होंने पत्र लिखकर दिल्ली के सरकारी अस्पतालों में सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी की व्यवस्था न होने पर सवाल उठाया है. दिल्ली महिला आयोग ने हाल ही में ट्रांसजेंडर समुदाय के साथ भेदभाव, हिंसा, दुर्व्यवहार और उत्पीड़न जैसी शिकायतों को देखने के लिए ट्रांसजेंडर सेल की स्थापना की थी. इसके बाद आयोग ने समुदाय के लोगों के साथ बैठक भी कीं. इस दौरान लोगों ने यह मुद्दा उठाया कि दिल्ली में सरकार द्वारा प्रायोजित सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी की सुविधा का अभाव है.

चिकित्सा सुविधा के अभाव में ट्रांसजेंडर लोगों को होती है बहुत समस्या
ट्रांसजेंडर समुदाय के लोगों ने आयोग को जानकारी दी कि राजधानी के कुछ ही अस्पतालों में सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी की सुविधा है इसलिए लोगों को सर्जरी कराने के लिए देरी का सामना करना पड़ता है. चिकित्सा सुविधा के अभाव में ट्रांसजेंडर लोगों को बहुत समस्या होती है. आयोग ने लोकसभा में पारित ट्रांसजेंडर बिल, 2019 का मसौदा बनाने के लिए केंद्र सरकार को सिफारिशें भेजी थीं.

दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली और केंद्र सरकार को लिखा पत्र

दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली और केंद्र सरकार को पत्र लिखकर राजधानी में सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी की सुविधा देने वाले अस्पतालों का विवरण मांगा था. जवाब देते हुए दिल्ली सरकार ने बताया था कि उसके किसी भी अस्पताल में सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी की सुविधा नहीं है. केंद्र सरकार ने बताया कि दिल्ली में केवल आरएमएल अस्पताल में सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी की सुविधा है.

मुफ्त सर्जरी शुरू करने की मांग की
जवाब मिलने के बाद दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य सचिव को पत्र लिखकर अपने अस्पतालों में मुफ्त सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी की व्यवस्था शुरू करने का अनुरोध किया. आयोग ने इस विषय में दोनों सरकारों से एक्शन टेकेन रिपोर्ट (ATR) भी मांगी है.
Loading...

आज तक की खबर के अनुसार, इस विषय में दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा कि, “राजधानी में कई ट्रांसजेंडर हैं, जो सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी के अभाव में बहुत परेशानियां झेलते हैं. मुफ्त और अच्छी चिकित्सा सेवा हासिल करना उनका अधिकार है और सरकार को उन्हें यह सुविधा देनी चाहिए. मैं केंद्र सरकार और राज्य सरकार से अपील करती हूं कि ट्रांसजेंडर्स के लिए सभी अस्पतालों में सेक्स री-असाइनमेंट सर्जरी शुरू की जाए.”

ये भी पढ़ें - लोगों को धमकाने के लिए शस्त्र के साथ तस्वीर इंटरनेट पर डालने के बाद 2 अरेस्ट

ED की 2 बड़ी कार्रवाई: कारोबारी मोइन अख्तर और EBIZ की करोड़ों की संपत्ति अटैच

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 17, 2019, 9:59 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...