लाइव टीवी

खाना पहुंचाने में देरी पर ASI ने रेस्टोरेंट मैनेजर से की बर्बरता, प्राइवेट पार्ट पर मारी लात

News18Hindi
Updated: November 27, 2019, 4:59 PM IST
खाना पहुंचाने में देरी पर ASI ने रेस्टोरेंट मैनेजर से की बर्बरता, प्राइवेट पार्ट पर मारी लात
दिल्ली पुलिस ने अपने ही एक असिस्टेंट सब-इंसपेक्टर की दबंगई पर एफआईआर दर्ज किया है. (FILE PHOTO)

रेस्टोरेंट मैनेजर (Restaurant Manager) आरोपी एएसआई (ASI) पर पैसे निकालने के भी आरोप लगाए हैं. CCTV फुटेज में भी मारपीट की पुष्टि हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 27, 2019, 4:59 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने अपने ही एक असिस्टेंट सब-इंसपेक्टर (Assistant Sub-Inspector) की दबंगई पर एफआईआर (FIR) दर्ज की है. एएसआई (ASI) पर एक रेस्टोरेंट मैनेजर के साथ मारपीट करने का आरोप लगा है. बता दें कि बीते सोमवार को एएसआई ने मैनेजर को इसलिए पीटा क्योंकि उसने पुलिस स्टेशन में खाना पहुंचाने में देरी कर दी थी. खाना समय पर नहीं पहुंचाने को लेकर एएसआई पिछले चार दिनों से मैनेजर को फोन कर रहा था, लेकिन मैनेजर एएसआई का कॉल पिक नहीं कर रहा था. दिल्ली पुलिस ने ASI के खिलाफ आईपीसी की विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. यह मामला हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन थाने का है, जहां पर आरोपी एएसआई भी तैनात था. मैनेजर का आरोप है कि एएसआई ने बेरहमी से पीटने के साथ-साथ उसके प्राइवेट पार्ट पर भी हमला किया. आरोपी एएसआई को निलंबित कर दिया गया है.

आरोपी ASI पर मुकदमा दर्ज

पीड़ित ने अपने साथ हुई बर्बरता को लेकर सोशल मीडिया पर एक वीडियो अपलोड किया, जो वायरल हो रहा है. वीडियो में पीड़ित कह रहा है, 'निजामुद्दीन जीआरपी थाने के एसएचओ की तरफ से खाना पहुंचाने को लेकर एक कॉल आया था. शाम का वक्त होने के कारण काफी व्यस्तता रहती है. इसके बावजूद मैंने थोड़ी ही देर में खाना भिजवा दिया था. इसके बावजूद मुझे थाना बुला कर पूछा गया कि खाना आने में देरी क्यों हुई? मैंने पूरी बात कही इसके बावजूद मेरे साथ एएसआई ने मारपीट की. एएसआई ने मुझे एक कमरे में बंद कर दिया और मुझे थप्पड़ मारना शुरू कर दिया. मेरे प्राइवेट पार्ट पर भी लात-घूंसे मारे.'

दिल्ली पुलिस, पीसीआर, फर्जी कॉल, साढ़े तीन लाख, पीसीआर नम्बर 112, ट्रायल, Delhi Police, PCR, fake call, three and a half lakh, PCR number 112, trial
पीड़ित मैनेजर का आरोप है कि उनकी जेब में 5500 रुपये थे जो आरोपी एएसआई ने निकाल लिए. (फाइल फोटो)


सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में मारपीट की पुष्टि
पीड़ित मैनेजर के मुताबिक, 'मेरी जेब में 5500 रुपये थे. एएसआई ने वह भी निकाल लिए. साथ ही एएसआई ने धमकी दी कि अगर फिर कभी फोन नहीं उठाया तो इसी तरह मारूंगा.' दिल्ली पुलिस ने कहा है कि पुलिस स्टेशन में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज की जांच में मैनेजर के साथ मारपीट की घटना की पुष्टि की गई है. दिल्ली पुलिस का कहना है कि अगर एसएचओ की भी गलती पाई गई तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी. फिलहाल दिल्ली पुलिस ने अपने एएसआई को निलंबित कर लाइन हाजिर कर दिया है.
इस मामले को लेकर दिल्ली पुलिस के डीसीपी रेलवे हरेंद्र कुमार सिंह ने मीडिया को बताया, 'बीते रविवार को एएसआई ने रेस्टोरेंट के मैनेजर शिवम ठकराल को खाना मंगवाने के लिए फोन किया था. जब खाना समय पर नहीं पहुंचा तो एएसआई ने मैनेजर को थाने में लाकर पिटाई की. आंतरिक जांच में पाया गया कि शिकायतकर्ता के आरोपों में सच्चाई है. एएसआई के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है. इस घटना की निष्पक्ष और उचित जांच सुनिश्चित करने के लिए दूसरे थाने के एक निरीक्षक को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया है.'

ये भी पढ़ें: 

JDU दिल्ली में अकेले लड़ेगी चुनाव, पूर्वांचली वोटरों के वोट बंटे तो किसका होगा नुकसान?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 27, 2019, 4:17 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर