लाइव टीवी

दिल्ली बना गैस चैंबरः अब कैट-2 पायलट ही उड़ा सकेंगे विमान, 32 फ्लाइट्स डायवर्ट

News18Hindi
Updated: November 3, 2019, 1:38 PM IST
दिल्ली बना गैस चैंबरः अब कैट-2 पायलट ही उड़ा सकेंगे विमान, 32 फ्लाइट्स डायवर्ट
सुबह 9 बजे से ही कोहरा गहराने के चलते बड़ी संख्या में विमानों को डायवर्ट किया गया. (प्रतीकात्मक फोटो)

दिल्ली एयरपोर्ट (Delhi Airport) ने जारी किया बयान, कहा-सुबह 9 बजे से ही विमानों के संचालन में आने लगी थी परेशानी, लो विजिबिलिटी (Low Visibility) के बाद कई विमान जयपुर, अमृतसर और लखनऊ किए डायवर्ट

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 3, 2019, 1:38 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में लगातार बढ़ रहे प्रदूषण (Pollution) का स्तर अब विमानों पर भी असर करने लगा है. दिल्ली एयरपोर्ट (Delhi Airport) ने एक बयान जारी कर जानकारी दी है कि कम दृष्यता के चलते विमानों के संचालन पर भी असर पड़ रहा है. इसके चलते अब केवल कैटेगरी 2 के पायलट ही विमान चला सकेंगे. हालांकि अभी तक यह नहीं बताया गया है कि इसके चलते कितनी फ्लाइट्स कैंसिल की गई हैं. वहीं सुबह 9 बजे से ही घना कोहरा हो जाने के चलते करीब 32 विमानों को अमृतसर, जयपुर और लखनऊ डायवर्ट किया गया है.

दिल्ली के बाद अब नोएडा-ग्रेटर नोएडा में भी स्कूल बंद
वहीं बढ़ते प्रदूषण के चलते अब नोएडा और ग्रेटर नोएडा में भी सरकार ने 5 नवंबर तक स्कूलों को बंद करने की घोषणा कर दी है. इसी के साथ सभी तरह के निर्माण कार्य पर भी रोक लगा दी गई है. वहीं अब कार्रवाई करते हुए कंस्ट्रक्‍शन करते 38 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है.


Loading...

गिरता जा रह हवा का स्तर
सूत्रों के मुताबिक, पंजाबी बाग और नरेला के अलावा अन्य क्षेत्रों में भी वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) के सकारात्मक संकेत नहीं दिखे हैं. बवाना में AQI सुबह 7 बजे 999 था, जबकि रोहिणी में 967, पूसा में 947, आईटीआई पूसा में 943 और मेजर ध्यानचंद स्टेडियम के पास पूसा में 930 रिकॉर्ड किया गया.बता दें कि शुक्रवार को दिल्ली सरकार ने दावा किया था कि मलबे और कचरे के जलकर बनने वाले प्रदूषण में 44 प्रतिशत की कमी आई है. इसके बावजूद भी प्रदूषण का स्तर इतना बढ़ गया. वहीं, एक दिन पहले, मौसम विशेषज्ञों ने कहा था कि हवा की गति में एक महत्वपूर्ण सुधार हुआ है और यह धीरे-धीरे बढ़ेगा. उन्होंने कहा था कि रविवार से मंगलवार तक 20-25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना है.



7-8 नवंबर को दिल्ली सहित 3 राज्यों में बारिश होने की संभावना
मेट्रो कार्यालय ने कहा कि चक्रवात ’महा’ और ताजा पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से पंजाब, हरियाणा, राजस्थान और दिल्ली में 7-8 नवंबर को बारिश होने की संभावना है. उन्होंने कहा कि हालांकि हल्की बारिश होगी लेकिन यह प्रदूषण के स्तर को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी. इस साल पहली बार गुरुवार रात दिल्ली में एक्यूआई बेहद गंभीर स्तर पर पहुंच गया था. दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल ने भी ट्वीट कर हरियाणा और पंजाब में पराली जलाने से होने वाले धुंए की वजह से दिल्ली के गैस चेंबर में तब्दील होने की बात कही थी.

ये भी पढ़ेंः Delhi-NCR Pollution LIVE: नोएडा में AQI पहुंचा 1600, मंगलवार तक सारे स्कूल बंद, IGI से डायवर्ट की गईं फ्लाइट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 3, 2019, 1:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...