लाइव टीवी

दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020: 'शरद पवार' से कर्ज लेकर CM केजरीवाल के खिलाफ मैदान में उतरे स्वामीजी

News18Hindi
Updated: January 15, 2020, 12:22 PM IST
दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020: 'शरद पवार' से कर्ज लेकर CM केजरीवाल के खिलाफ मैदान में उतरे स्वामीजी
दिल्ली विधानसभा चुनाव में श्री वेंकटेश्वर महा स्वामी जी अरविंद केजरीवाल के खिलाफ चुनाव मैदान में उतरने की तैयारी में हैं

श्री वेंकटेश्वर महा स्वामीजी ने नामांकन पत्र दाखिल करने के पहले दिन मंगलवार को बीजेपी, एनसीपी और हिंदुस्तान जनता पार्टी (एचजेपी) की तरफ से तीन नॉमिनेशन किये. उन्होंने जमानत के तौर पर 10 हजार रुपये सिक्युरिटी जमा कराई है

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 15, 2020, 12:22 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) को अगले महीने होने वाले विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election 2020) में बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) के अलावा धर्म गुरुओं से भी चुनौती मिल रही है. श्री वेंकटेश्वर महा स्वामीजी (Sri Ventakeswar Maha Swami Ji) उर्फ दीपक सीएम केजरीवाल (CM Kejriwal) के खिलाफ चुनाव मैदान में ताल ठोक रहे हैं. अभी तक 16 चुनाव लड़ चुके दीपक ने इस बार दिल्ली के मुख्यमंत्री (Delhi CM) को चुनावी रण में चुनौती देने के लिए कमर कस लिया है. स्वामी जी पूर्व में कर्नाटक, गोवा, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश के चुनाव में भी अपनी किस्मत आजमा चुके हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक मंगलवार को नामांकन पत्र दाखिल करने वाले तीन लोगों में स्वामीजी का नाम भी शामिल है. उन्होंने बीजेपी, एनसीपी और हिंदुस्तान जनता पार्टी (एचजेपी) की तरफ से तीन नामांकन पत्र दाखिल किये. जमानत के तौर पर उन्होंने 10 हजार रुपये सिक्युरिटी जमा कराई है. स्वामीजी से पूछा गया कि क्या वो बीजेपी के आधिकारिक उम्मीदवार हैं, इस पर उन्होंने कहा कि उन्हें उम्मीद है पार्टी की नजर उन पर होगी. उन्होंने कहा कि बीजेपी समाज में अच्छा काम कर रहे लोगों पर नजर रखती है. मैं आशा करता हूं समाज में किए मेरे कामों से प्रभावित होकर वो मुझे अपना आधिकारिक उम्मीदवार बना सकते हैं.

'BJP यदि टिकट नहीं देगी तो कोई और मुझे अपना उम्मीदवार बनाएगी'

तीन पार्टियों से नामांकन पत्र दाखिल करने पर उन्होंने कहा, 'मैंने अब तक निस्वार्थ भाव से समाज सेवा की है और अब मैं दिल्ली में काम करना चाहता हूं. अगर उनको (बीजेपी) लगता है कि मैं सही उम्मीदवार हो सकता हूं तो मुझे भरोसा है कि पार्टी मेरा समर्थन करेगी.' उन्होंने कहा कि बीजेपी यदि मुझे टिकट नहीं देती है तो शेष अन्य दो पार्टियों में से कोई मुझे अपना आधिकारिक उम्मीदवार बना सकती हैं.

स्वामी जी दिल्ली के द्वारका इलाके में अपने एक दोस्त के साथ रहते हैं, जो बिल्डिंग कामगार (कंस्ट्रक्शन वर्कर) हैं. उन्होंने बताया कि उनके पास दिल्ली में रहने का कोई स्थाई पता-ठिकाना नहीं है. इसलिए वो यहां अपने दोस्त के साथ रह रहे हैं. उन्होंने अपने दाखिल किए गए शपथपत्र में बताया कि उनके पास मात्र नौ रुपये नकद हैं. साथ ही उन्होंने दिल्ली में रहने के लिए अपने दोस्त, शरद पवार (राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष नहीं) से 99,999 रुपये उधार (कर्ज) ले रखा है.

ये भी पढ़ें- Delhi Elections 2020: कुछ दलबदलू, कुछ नए तो कुछ विवादित चेहरों को AAP ने दिया इनाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Delhi से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 15, 2020, 12:18 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर