चुनाव से पहले दिल्ली कांग्रेस में घमासान, शीला-चाको के मतभेद आए सामने

पीसी चाको ने शीला दीक्षित के खिलाफ कई शिकायत मिलने का आरोप भी लगाया है.

News18Hindi
Updated: July 13, 2019, 9:34 PM IST
चुनाव से पहले दिल्ली कांग्रेस में घमासान, शीला-चाको के मतभेद आए सामने
पीसी चाको ने शीला दीक्षित के खिलाफ कई शिकायत मिलने का आरोप भी लगाया है.
News18Hindi
Updated: July 13, 2019, 9:34 PM IST
नेतृत्व के संकट से जूझ रही कांग्रेस की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही है. एक ओर हरियाणा में अशोक तंवर के तेवर कम नहीं हो रहे तो दूसरी ओर कर्नाटक का संकट अधर में ही है. इन सबके बीच कांग्रेस की दिल्ली इकाई में भी अब नया संकट पैर पसार रहा है.

यहां दिल्ली इकाई के प्रभारी पीसी चाको ने प्रदेश अध्यक्ष शीला दीक्षित को पत्र लिखकर कहा कि बिना उनको सूचित किए और कार्यकारी अध्यक्षों से मशविरा किए संगठन संबंधित फैसले न लिया जाए. चाको ने शीला द्वारा ब्लॉक कमेटियों को भंग किए जाने के फैसले को भी रोक दिया है.



चाको ने जिला आब्जर्वर की नियुक्ति भी बिना कार्यकारी अध्यक्षों की सलाह और उनको सूचित नहीं किए जाने के कारण अवैध बताया है. इसके पहले तीनों कार्यकारी अध्यक्षों ने भी एक चिट्ठी में शीला के कामकाज पर आपत्ति व्यक्त की है.

शीला ने ऑब्ज़र्वर नियुक्त किये थे

शीला ने ब्लॉक और जिला स्तर पर ऑब्ज़र्वर नियुक्त किए थे. चाको के अनुसार उन्हें इसकी सूचना मीडिया से मिली. चाको ने शीला से इस तरह के फैसले न लेने को भी कहा, साथ ही ये भी कहा कि उनके फैसले से संगठन में मतभेद पैदा हो रहा है.

चाको ने शीला के खिलाफ कई शिकायत मिलने का आरोप भी लगाया है. चाको ने शीला से कहा है कि उनकी मौजूदगी में संगठन की बैठक बुलाएं और इन मुद्दों पर चर्चा करें.

यह भी पढ़ें:  केजरीवाल को चुनौती देने बीजेपी ने बनाया ये प्लान
Loading...

जब चाको ने बदला दीक्षित का फैसला...

इससे पहले लोकसभा चुनाव में हार के लिए जिम्मेदार मानते हुए  शीला दीक्षित ने दिल्ली की 280 ब्लाॅक समितियाें काे भंग कर दिया वहीं दूसरे दिन शनिवार काे पीसी चाकाे ने उन्हें बहाल कर दिया. चाकाे ने दीक्षित के फैसले पर राेक लगाने के अपने फैसले की चिट्ठी राहुल और दीक्षित के पास भेज दी.

इस मामले में हारुन यूसुफ ने भी शीला दीक्षित के इस फैसले पर आपत्ति जताते हुए पत्र लिखा है. इस घटना क्रम के बाद दिल्ली में कांग्रेस के बड़े नेताओं के बीच मतभेद सामने आ गए हैं. एक दिन पहले शुक्रवार काे ही राहुल ने दीक्षित, पीसी चाकाे सहित अन्य नेताओं से मुलाकात कर आगामी विधानसभा चुनाव के लिए अभी से एकजुट हाेने की अपील की थी.

यह भी पढ़ें: चाको ने नहीं मानी राहुल की नसीहत, दिल्ली में शीला के इस बड़े फैसले को पलटा
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...